VT Update
केजरीवाल ने दिया शिवराज को प्रस्ताव शिक्षा में सुधार करना हो तो मनीष को भेज दूँ मध्यप्रदेश सीएम फेस की अटकलों पर शिवराज ने लगाया विराम, कहा कि मेरे ही नेतृत्व में बनेगी भाजपा की अगली सरकार वार्ड क्र 16 में मुख्यमार्ग से परेशान रहवासी, मार्ग का नहीं हो रहा निर्माण, 4 बार किया जा चुका है भूमिपूजन दिल्ली मैट्रो को सितम्बर से बिजली सप्लाई करेगा, बदबार का अल्ट्रामेगा सोलर पावर प्लांट गोविंदगढ़ थाना क्षेत्र के धोबखरी गांव में भाई की जान बचाने नहर में कूदी बहन, हुई मौत
येदियुरप्पा बने सीएम

बहुमत के बिना बनी बीजेपी की सरकार , येदियुरप्पा बने तीसरी बार सीएम


कर्नाटक चुनाव में पीएम के साथ भारतीय जनता पार्टी के कई राज्यों के सीएम ने भी चुनाव प्रचार में अपना सहयोग दिया जिससे लगा कि इसबार प्रदेश में जरुर बीजेपी पूर्ण बहुमत की सरकार बनाएगी हालाकि बीजेपी ने अंतत: सरकार तो बनाने की अपनी कोशिशें तेज कर दी हैं लेकिन बहुमत का 112 सीटों का जादुई आंकड़ा छूने में असफल रही.

दरअसल कार्नाटक चुनाव में एक ओर जहां प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी की प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई थी वहीं कांग्रेस को अपना यह प्रदेश बचाने का डर सता रहा था जिसके कारण दोनो ही पार्टियों के कई दिग्गज नेताओं ने चुनाव शुरु होने के पहले ही यहां पर अपना डेरा डाल लिया था. लेकिन अंतत: कई प्रयासों के बाद भी कांग्रेस अपना यह प्रदेश बचाने में असमर्थ नजर आ रही है.

आपको बतादें कर्नाटक चुनाव के नतीजे घोषित होने के बाद भारतीय जनता पार्टी ने 105 सीटों में जीत दर्ज की तो कांग्रेस ने 77 सीटों में वहीं जेडियस ने 38 सीटों में जीत हासिल की लेकिन फिर भी बिना बहुमत के ही अंतत: बीजेपी ने अपनी सरकार बना ली है.हालाकि अभी 15 दिनो के भीतर भाजपा को विश्वास पत्र दाखिल करना है क्योकि बहुमत अभी भी उसके पास नहीं है

अब सवाल यह उठता है कि सरकार बनेगी किसकी क्योकि बीजेपी के सीएम पद पर बीएस येदियुरप्पा ने शपथ ग्रहण की है वहीं कांग्रेस और जेडियस अभी भी गठबंधन की कोशिश कर रही हैं. बीजेपी का कहना है कांग्रेस के कुछ विधायक सरकार बनाने में उसका सहयोग कर रहे हैं जबकि खुद कांग्रेस जेडियस से सहयोग मांग रही है.


रामदेव की टिप्पणी से आहत हुई उमा, पत्र लिख जताई नाराजगी

कमलनाथ की पहली लिस्ट पर ही खड़े हुए सवाल


 VT PADTAL