VT Update
केजरीवाल ने दिया शिवराज को प्रस्ताव शिक्षा में सुधार करना हो तो मनीष को भेज दूँ मध्यप्रदेश सीएम फेस की अटकलों पर शिवराज ने लगाया विराम, कहा कि मेरे ही नेतृत्व में बनेगी भाजपा की अगली सरकार वार्ड क्र 16 में मुख्यमार्ग से परेशान रहवासी, मार्ग का नहीं हो रहा निर्माण, 4 बार किया जा चुका है भूमिपूजन दिल्ली मैट्रो को सितम्बर से बिजली सप्लाई करेगा, बदबार का अल्ट्रामेगा सोलर पावर प्लांट गोविंदगढ़ थाना क्षेत्र के धोबखरी गांव में भाई की जान बचाने नहर में कूदी बहन, हुई मौत
शिवराज सरकार पर कमलनाथ का आरोप

शिवराज पर लगे आरोप जन्म, मरण का इंतजाम किया लेकिन जीने का नहीं: कमलनाथ


मंदसौर किसान गोलीकांड की पहली बरसी नजदीक आते ही भाजपा-कांग्रेस के बीच सोशल मीडिया वार भी तेज हो गया है. कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने भाजपा पर आरोप लगाया है कि कुछ दिन पहले शिवराज सिंह खेती को घाटे का धंधा बताते थे और किसानों को खेती छोड़ नौकरी व उद्योग की सलाह देते थे अब वे चुनावी वर्ष में खेती और किसानी को लेकर बड़े-बड़े वायदे और घोषणाएं कर रहे हैं. वहीं शिवराज ने भी ट्वीट कर कमलनाथ के आरोप का जवाब देते हुए कहा कि किसानों को उकसाने में फेल हुए किन गुंडों ने की थी, हम सभी जानते हैं.

कमलनाथ ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज ने अपना हक मांग रहे किसानों के सीने पर गोलियां दागकर उन्हें न्याय दिलाने की बजाय थाने में बंद करवाया. किसानों के साथ मारपीट हुई ऐसा इस सरकार के अलावा किसी सरकार ने नहीं किया.

कमलनाथ ने ट‌्वीट किया, "शिवराज जी! आपकी सरकार ने गरीबों, मजदूरों के लिए जन्म और मरण का इंतजाम तो किया, बस नहीं किया तो उनके जीने का, उनके गुजारे का, उनके भरण-पोषण का.

इधर, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी ट‌्वीट किया है जिसमें उन्होंने कहा कि 'शांति के टापू' हमारे मध्यप्रदेश को बदनाम करने की कोई साजिश पूरी नहीं होने देंगे किसान भाई प्रदेश की तरक्की के लिए हमारे साथ हैं गत वर्ष भी हिंसा किसानों ने नहीं, उन्हें उकसाने में फेल हुए किन गुंडों ने की थी, हम सभी जानते हैं.

 


कुलपति बनने के जुगाड़ समाप्त, शैक्षणिक अनुभव वाले की बन सकेंगे कुलपति !

बीजेपी ने की लोकसभा की तैयारी, प्रदेश के 14 सांसदों के कट सकते हैं टिकट


 VT PADTAL