VT Update
केजरीवाल ने दिया शिवराज को प्रस्ताव शिक्षा में सुधार करना हो तो मनीष को भेज दूँ मध्यप्रदेश सीएम फेस की अटकलों पर शिवराज ने लगाया विराम, कहा कि मेरे ही नेतृत्व में बनेगी भाजपा की अगली सरकार वार्ड क्र 16 में मुख्यमार्ग से परेशान रहवासी, मार्ग का नहीं हो रहा निर्माण, 4 बार किया जा चुका है भूमिपूजन दिल्ली मैट्रो को सितम्बर से बिजली सप्लाई करेगा, बदबार का अल्ट्रामेगा सोलर पावर प्लांट गोविंदगढ़ थाना क्षेत्र के धोबखरी गांव में भाई की जान बचाने नहर में कूदी बहन, हुई मौत
नाली के विवाद में किसान की मौत

नाली के विवाद में किसान की मौत, आक्रोश में परिजनों ने किया चक्काजाम


रीवा । पिछले दिनों चोरहटा थानाक्षेत्र के रहंट गांव में जल संस्था द्वारा बनाई जा रही नाली के विवाद में हुए मारपीट से घायल किसान की शुक्रवार को सुबह मौत हो गई जिसके बाद गुस्साए परिजनों ने शहर के कलेक्ट्रेट भवन को घेरते हुए चक्काजाम कर दिया.

दरअसल पिछले दिनों चोरहटा थानाक्षेत्र के रहंट गांव में जल संस्था के द्वारा खेतों के बीच से बनाई जा रही नाली को लेकर नाली के ठेकेदार तथा खेत के मालिक के बीच में विवाद हो गया. जिसके बाद नाली के ठेकेदार ने गांव में हंगामा करते हुए खेत के मालिक समेत तीन किसानों के साथ लाठी डंडे से मारपीट कर दी. मारपीट में घायल किसानों को तुरंत ही ग्रमीणों की सहायता से शहर के संजय गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया था जिसके बाद बेहतर उपचार के लिए उसे शहर के ही विंध्य हास्पिटल में भर्ती करया गया जहां पर चार दिन लगातार इलाज चलने के बाद अंतत: शुक्रवार को सुबह विकास ने अपना दम तोड़ दिया.

विंध्य हास्पिटल में हुई किसान की मौत के बाद परिजनों का आक्रोश फूट पड़ा तथा परिजनों ने शहर के कलेक्ट्रेट भवन के सामने शव को रखकर चक्काजाम कर दिया और अपराधियों के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग करने लगे. इसके साथ ही किसान की मौत को लेकर परिजनों ने सरकार से 1 करोड़ रुपये मुआवजे की भी मांग की.

कलेक्ट्रेट भवन के गेट पर किसान का शव रखकर चक्काजाम करने के कारण शहर की यातायात व्यवस्था भी बिगड़ी और आने जाने वाले लोगों  को काफी कठिनाईयों का सामना करना पड़ा. जिसके बाद बाधित यातायात व्यवस्था को देखते हुए एएसपी आशुतोष गुप्ता ने आकर परिजनों को आश्वासन देते हुए जाम को खुलवाया.

 


अपराधियों के मन से खत्म हुआ पुलिस का खौफ, मोबाइल दुकान में बदमाशों ने की तोड़

घनी बस्ती में बसे गैस एजेंसियों के गोदाम, भय के साये में जनजीवन


 VT PADTAL