VT Update
मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए आप लगातार विंध्य 24 से जुड़े रहे हम आपको ताजा अपडेट देते रहेगें अभी प्रत्येक विधानसभाओं में मतगणना आरंभ हुई हैं तथा बैलेट पेपर की गिनती शुरु हो चुकी है MP चुनावः शिवराज सिंह चौहान बोले-कांग्रेस के सहयोगी हताश हैं विजय माल्या केस की सुनवाई के सिलसिले में CBI और ED के ऑफिसर लंदन रवाना J-K: किश्तवाड़ पुलिस ने आतंकी रियाज अहमद को गिरफ्तार किया विजय माल्या केस की सुनवाई के सिलसिले में CBI और ED के ऑफिसर लंदन रवाना
Saturday 2nd of June 2018 | दुसरे दिन भी नहीं दिखा किसान आंदोलन का प्रभाव

गांव बंद आंदोलन का दूसरा दिन आज, नहीं दिखा किसान आंदोलन का प्रभाव


कर्जमाफी और स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशें लागू करने सहित 32 मांगों को लेकर 1 से 10 जून तक देश के सभी किसान आंदोलन पर है आंदोलन का असर राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश और उत्तरप्रदेश में दिखाई दे रहा है सके साथ ही मप्र में आंदोलन का मुख्य केंद्र मंदसौर है मंदसौर यह वहीं जगह है जहां पर पिछले वर्ष में किसानों की हत्याऐं हुई थी. किसान आंदोलन को देखते हुए सरकार ने इंदौर-उज्जैन संभाग के कई जिलों को हाईअलर्ट पर रखा है और यहां पर धारा 144 लागू की गई है.

दरअसल किसानों के द्वारा किए गए गांव बंद आंदोलन का प्रारूप कुछ इस तरह रखा गया है जिसके तहत 1 से 4 जून तक गांवों में युवाओं के सांस्कृतिक कार्यक्रम और पुरानी खेल गतिविधियां होंगी इसके बाद 5 जून को धिक्कार दिवस मनाएंगे गांवों में ही चौपालें होंगी, जिसमें किसान विरोधी फैसलों पर चर्चा की जाएगी और 6 जून को पिछले साल मारे गए किसानों को शहीद मानते हुए श्रद्धांजलि सभा आयोजित कराई जायेगी वहीं 8 जून को असहयोग दिवस मनाया जाएगा तथा 10 जून को भारत बंद रहेगा.

सुरक्षा व्यवस्था के लिए 11 जोनल आईजी को अतिरिक्त फोर्स दिया गया है इसमें उज्जैन, इंदौर, भोपाल, ग्वालियर, चंबल, जबलपुर जैसे बड़े जोन में लगभग 500-500 रंगरूट (नव आरक्षक) और एसएएफ की दो कंपनियां (लगभग एक कंपनी में 100 जवान) दिए गए हैं.
इस प्रकार से बड़े जोन को लगभग 700 जवान अतिरिक्त दिए गए हैं जिन जिलों में आंदोलन का असर नहीं होगा, वहां एक-एक कंपनी दी गई है इसके अलावा एसएएफ की 89 कंपनियां कानून व्यवस्था के लिए दी गई हैं.
आंदोलन को देखते हुए मुख्य केंद्र मंदसौर को पुलिस ने 20 जोन में बांट दिया है 100 जगह कैमरे लगाए गए हैं मंदसौर, रतलाम, नीमच को जोड़ने वाले हाईवे को 10 सेक्टर में बांटकर फोर्स तैनात किया गया है.
मंदसौर, नीमच, रतलाम सहित प्रदेश के 35 संवेदनशील जिलों में उपद्रवियों से निपटने के लिए पुलिस को 10 हजार अतिरिक्त लाठियां दी गई हैं.


शिवराज ने खुद को बताया हार का ज़िम्मेदार , बोले मै मुक्त हूँ

2019 में बीजेपी को उखाड़ फेकेंगे:राहुल गाँधी


 VT PADTAL