VT Update
केजरीवाल ने दिया शिवराज को प्रस्ताव शिक्षा में सुधार करना हो तो मनीष को भेज दूँ मध्यप्रदेश सीएम फेस की अटकलों पर शिवराज ने लगाया विराम, कहा कि मेरे ही नेतृत्व में बनेगी भाजपा की अगली सरकार वार्ड क्र 16 में मुख्यमार्ग से परेशान रहवासी, मार्ग का नहीं हो रहा निर्माण, 4 बार किया जा चुका है भूमिपूजन दिल्ली मैट्रो को सितम्बर से बिजली सप्लाई करेगा, बदबार का अल्ट्रामेगा सोलर पावर प्लांट गोविंदगढ़ थाना क्षेत्र के धोबखरी गांव में भाई की जान बचाने नहर में कूदी बहन, हुई मौत
मंत्री जी उल्लंघन हो गया

मेहमान नवाजी के चक्कर में


रीवा में कृष्णा राज कपूर ऑडिटोरियम के लोकार्पण और सांस्कृतिक कार्यक्रम के बाद रविवार को कपूर फैमिली ने मुकुंदपुर स्थित व्हाइट टाइगर सफारी का भ्रमण किया. इस दौरान मध्य प्रदेश के खनिज एवं ऊर्जा मंत्री रीवा के स्थानीय विधायक राजेंद्र शुक्ला ने मेहमानों को व्हाइट टाइगर सफारी का भ्रमण करवाया .मंत्री राजेंद्र शुक्ल खुद बैटरी चलित गोल्फ कार्ट में मेहमानों को घुमा रहे थे जिसकी तस्वीरें जैसे ही सोशल मीडिया में वायरल हुई मंत्री राजेंद्र शुक्ल विवादों में घिर गए. फिर क्या था अलग-अलग जगह से अलग-अलग प्रतिक्रियाएं आने लगी सेंट्रल जू अथॉरिटी के नियमों को उल्लंघन करने पर एक्टिविस्ट अजय दुबे सहित अन्य सामाजिक कार्यकर्ताओं ने इस पर आपत्ति भी जताई .

पहले जान लें क्या है मामला –

उद्योग मंत्री राजेंद्र शुक्ला और कपूर का परिवार मुकुंदपुर व्हाइट टाइगर सफारी में आना था जिसके लिए रविवार को जूते समय 9:00 बजे से 3 घंटे बाद 12:00 बजे आ लोगों के लिए खुला .हलाकि एक दिन पहले ही जो प्रबंधन ने इसके 12:00 बजे खुलने की सूचना दे दी थी पर समय से इसका प्रचार नहीं होने से सपरिवार सफारी देखने आए लोग धूप में परेशान होते रहे .

इसके अलावा मंत्री शुक्ला ने मेहमानों को गोल्फ कार्ट में बैठाकर घुमाया जबकि नियमानुसार कार्ड कोई और नहीं चला सकता. मामले पर सेंट्रल जू अथॉरिटी से भी शिकायत की गई है एक्टिविस्ट अजय दुबे सहित अन्य सामाजिक कार्यकर्ताओं ने इस पर गहरी आपत्ति जताते हुए सेंट्रल जू अथॉरिटी को विधिवत शिकायत भी की है अजय दुबे ने कहा कि मंत्री ने इसे मुकुंदपुर सफारी को निजी संपत्ति मान रखा है पहले समय बदला गया जिसके अलावा 10 स्टाफ के स्थान पर खुद मेहमानों को लेकर गए


अपराधियों के मन से खत्म हुआ पुलिस का खौफ, मोबाइल दुकान में बदमाशों ने की तोड़

घनी बस्ती में बसे गैस एजेंसियों के गोदाम, भय के साये में जनजीवन


 VT PADTAL