VT Update
अपने बयान पर अड़े कांग्रेस विधायक सुंदरलाल तिवारी, बोले फिर से कहता हूँ वैश्याऐं शिवराज से हैं बेहतर जिले के जनेह थाने में पुलिस अभिरक्षा पर हुई युवक की मौत में अब तक बरकरार तनाव की स्थिति, एहतियात के तौर पर तैनात पुलिस बल, थाना प्रभारी हुए लाइन अटैच रीवा में कांग्रेस प्रभारी बावरिया से हुई झूमाझटकी में दो और कार्यकर्तओं पर कार्यवाई, अब तक सात कार्यकर्ता पार्टी से निष्काषित, तीन को जारी हुई नेटिस मध्यप्रदेश के रायसेन जिले में एकबार फिर शर्मशार हुई इंसानियत, 6 साल की मासूम क साथ दुष्कर्म कर गला घोट जंगल में फेंका पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी की अंतिम विदाई में उमड़ा जनसैलाब, बेटी नमिता ने दी मुखाग्नि, जनता की नम आखों से विदा हुए अटल
वायरल फोटो ट्वीट कर फंसे दिग्विजय सिंह,मांगी माफ़ी

वायरल फोटो ट्वीट कर फंसे दिग्विजय सिंह, भाजपा नेताओं ने घेरा


 

कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह ने अपने सोशल मीडिया पेज में एक वायरल फोटो को भोपाल की बता कर फंस गए हैं, दरअसल कल दिग्विजय सिंह ने अपने सोशल मीडिया पेज में एक पुल का फोटो डाला जिसके पिलर में फाल्ट था तथा इस निर्माणाधीन पुल को भाजपा सरकार की नाकामी बता दिया मगर कुछ देर बाद ही भाजपा नेताओं ने इस फोटो को पकिस्तान की ब्रिज का बता कर दिग्विजय सिंह की जम कर खिंचाई की.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, सहकारिता मंत्री विश्वास सारंग सहित कई भाजपा नेता सोशल मीडिया के मैदान में कूद पड़े सहकारिता मंत्री विश्वास सारंग आज सुभाष नगर रेल्वे फाटक पर बन रहे रेल्वे ओवर ब्रिज का मौक़ा मुआयना करने के लिए दूरबीन लेकर जाएंगे

दरसल दिग्विजय सिंह ने ट्वीट करते हुए लिखा “'यह है सुभाष नगर रेलवे फाटक भोपाल पर बन रहे रेलवे ओवर ब्रिज का एक पोल, जिसमें आ गईं दरारें/क्रैक इसकी गुणवत्ता पर सवाल उठाती हैं। अभी तो पुल भी नही बना। एक बीजेपी नेता के मार्गदर्शन में निर्माण हो रहा है, फिर यह सब क्यों और कैसे? वाराणसी की दुर्घटना यहां भी ना हो जाए”

दिग्विजय के इस ट्वीट का जवाब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दिया। इसके बाद कई लोगों ने फोटो को फेक बताते हुए उन पर कमेंट किए। शिवराज ने लिखा "पता नहीं इनको ऐसा क्यों लगा कि मध्य प्रदेश में आज भी उनके ज़माने जैसी धांधलियां होती होंगी। यह वह हैं जो ज़मीन पर तो छोड़िए, अपने ट्विटर हैंडल पर भी पुल ठीक से नहीं बना पाए।"

ट्रोल हुए तो माफ़ी भी मांगी

विवाद बढ़ने के बाद में दिग्विजय ने माफी मांग ली। उन्होंने कहा कि मेरे परिचित ने मुझे गलत जानकारी दी। दिग्विजय सिंह ने ट्वीट किया, ‘मैं अपनी इस गलती के लिए माफी मांगता हूं। मेरे एक मित्र ने इसे मुझे यह फोटो भेजी थी, यह मेरी गलती है कि मैंने इसकी जांच किए बिना ट्विटर हैंडल पर शेयर किया।’

 


विधानसभा सीटों के लिए टिकट वितरण के लिए कांग्रेस की महत्वपूर्ण बैठक

सुल्तानगढ़ वॉटरफॉल में फंसे 40 लोगों को 3 ग्रामीणों ने बचाया


 VT PADTAL