VT Update
रीवा: संजय गांधी अस्पताल में शव के पोस्टमार्टम के लिए परिजनों से की जा रही पैसे की मांग नीति आयोग की बैठक शुरु, सीएम शिवराज समेत सभी प्रदेशों के पहुंचे मुखिया रीवा : चोरहटा थानांतर्गत बनकुइंया रोड़ में हुआ बड़ा हादसा, लोड़िग वाहन और स्कूटी की टक्कर में पांच लोग घायल, घायलों को उपचार के लिए शहर के संजय गांधी अस्पताल में किया गया भर्ती विश्वबैंक ने रीवा सहित कई इंजीनियरिंग महाविद्यालयों को एक विशेष योजना में किया शामिल, वर्षों के बाद रीवा शासकीय इंजीनियरिंग महाविद्यालय में हो सकती है प्राध्यापकों की नियुक्ति, रीवा सहित प्रदेशभर में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया ईद का त्यौहार, सभी जनप्रतिनिधियों ने दी मुश्लिम भाईयों को ईद की शुभकामनाऐं
बाढ़ आने की स्थिति में संपर्क करें यहाँ !

नगर निगम ने बनाये बाढ़ राहत शिविर, उपलब्ध रहेंगी मूलभूत सुविधाएँ


रीवा। प्री मानसून की बारिश के बाद रीवा शहर के अधिकतर मोहल्लों में जल भराव की स्थिति को देखते हुए, रीवा नगर निगम प्रशासन एक बार फिर हरकत में आ चुका है, पहली बारिश के बाद ही नगर निगम रीवा के दावों की पोल खुलने के बाद अब नगर निगम अधिकारी आगे की तैयारी मजबूत रखना कहते हैं इसीलिए अब बाढ़ जैसी समस्या के रहत एवं बचाव के लिए कवायते तेज हो गयी है, जिसके तहत जिसके तहत शहर में 20 स्थानों पर राहत शिविर बनाए गए हैं और वहां पर कर्मचारियों की तैनाती कर दी गई है

 

नियुक्त किये गए अधिकारियों को निर्देश दिए गए है की तेज बारिश के दौरान वह स्वयं मौके पर पहुंचें और हालात का जायजा लें। साथ ही अधिकारियों से कहा गया है कि स्वास्थ्य अधिकारी अरुण मिश्रा आपात स्थिति पर अधिकारियों और कर्मचारियों को व्यवस्था बनाने के अन्य निर्देश भी जारी करेंगे। इतना ही नहीं पानी के भराव की जानकारी होने पर उसकी निकासी के इंतजाम और प्रभावितों को सुरक्षित स्थान तक पहुंचाने की जवाबदेही भी उनकी होगी

यहाँ बनाये गए हैं शिविर
बाढ़ प्रभावित क्षेत्र कुठुलिया के लोगों को सिलपरा स्कूल, महाजन टोला वालों को मूकबधित विद्यालय, बिछिया-अखाड़घाट से जगन्नाथ मंदिर, रानीतालाब से डाइट और मंगलभवन, पांडेनटोला में मोहल्ले की हायरसेकंडरी स्कूल, नगरिया और तरहटी से गवर्नमेंट स्कूल एक और दो, घोघर, तकिया और बंदरिया से एसके स्कूल, निपनिया से आयुर्वेद कॉलेज, लखौरीबाग, दीनदयाल धाम और ढेकहा से एजी कॉलेज, पुष्पराज नगर से आयुर्वेद कॉलेज, बांसघाट से मार्तण्ड स्कूल क्रमांक एक और तीन, झिरिया से टीआरएस कॉलेज, रसिया मोहल्ला से मानस भवन, अमहिया और उर्रहट से पीके स्कूल, ललपा और बंदराव से श्रवण कुमारी स्कूल, निराला नगर और शिवनगर के लोगों को मोहल्ले की सरस्वती स्कूल में बाढ़ के दौरान रखा जाएगा।

बाढ़ नियंत्रण कक्ष भी निगम ने प्रारंभ कर दिया है। साथ ही फोन नंबर 07662-254568 भी जारी किया गया है। इसके अलावा निगम के सभी अधिकारियों को अपना मोबाइल २४ घंटे चालू रखने का निर्देश दिया गया है। बिजली नहीं होने की स्थिति में पूर्व से ही पॉवर बैंक चार्जर की व्यवस्था करने के लिए कहा गया है। सभी जोन प्रभारी अपना और कर्मचारियों का मोबाइल नंबर प्रमुख स्थानों पर चस्पा कराएंगे ताकि लोगों को परेशानी नहीं हो।
बारिश के दौरान जहां पर जलभराव हुआ था, उन स्थानों पर पानी निकासी की व्यवस्था बनवाई जा रही है। साथ ही बाढ़ राहत शिविर भी बनाए गए हैं, यहां पर आपात स्थिति में अधिकारी, कर्मचारी मौजूद रहेंगे और लोगों को फौरी राहत उपलब्ध कराएंगे।
अरुण मिश्रा, स्वास्थ्य अधिकारी नगर निगम

 


राज्य योजना आयोग ने प्रदेश के 50 पिछड़े ब्लॉक को किया चिन्हित

संविदा शिक्षक के बाद अब होगा संविदा प्रेरकों का आंदोलन


 VT PADTAL