VT Update
रीवा: संजय गांधी अस्पताल में शव के पोस्टमार्टम के लिए परिजनों से की जा रही पैसे की मांग नीति आयोग की बैठक शुरु, सीएम शिवराज समेत सभी प्रदेशों के पहुंचे मुखिया रीवा : चोरहटा थानांतर्गत बनकुइंया रोड़ में हुआ बड़ा हादसा, लोड़िग वाहन और स्कूटी की टक्कर में पांच लोग घायल, घायलों को उपचार के लिए शहर के संजय गांधी अस्पताल में किया गया भर्ती विश्वबैंक ने रीवा सहित कई इंजीनियरिंग महाविद्यालयों को एक विशेष योजना में किया शामिल, वर्षों के बाद रीवा शासकीय इंजीनियरिंग महाविद्यालय में हो सकती है प्राध्यापकों की नियुक्ति, रीवा सहित प्रदेशभर में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया ईद का त्यौहार, सभी जनप्रतिनिधियों ने दी मुश्लिम भाईयों को ईद की शुभकामनाऐं
संविदा शिक्षक के बाद अब होगा संविदा प्रेरकों का आंदोलन

संविदा शिक्षक के बाद अब होगा संविदा प्रेरकों का आंदोलन


रीवा । चुनावी साल में लगातार हो रहे आंदोलन के चलते जहां एक ओर सरकार घिरती नजर आ रही है वहीं दूसरी ओर प्रदेश का कर्मचारी वा व्यापारी वर्ग लगातार शिवराज सरकार से नाखुश दिख रहा है इसी के चलते अब एकबार फिर प्रदेश के साक्षरता संविदा प्रेरक मोर्चा के आव्हान में 15 जून को राजधानी भोपाल में विशाल धरना प्रदर्शन का आयोजन किया जा रहा है.

राजधानी भोपाल में हो रहे इस धरना प्रदर्शन में रीवा जिले सहित प्रदेश के अन्य हिस्सों से कई संविदा प्रेरक शिक्षकों का पहुंचना भी होगा.. इस संदर्भ में बुधवार को रीवा शहर में स्थापित मजदूर संघ के कार्यलय में बैठक का आयोजन भी किया गया.जिसमें हो रहे घरना प्रदर्शन की रूपरेखा तैयार की गई है.

दरअसल साक्षर भारत योजना अंतर्गत प्रदेश भर के सभी विकासखण्डों में दो संविदा प्रेरको की नियुक्ति शासन के निर्देशानुसार की गई है जिसके तहत पूरे प्रदेश के संविदा प्रेरक 5 वर्षों से लगातार पंचायत स्तर पर प्रौढ़ शिक्षा केंद्र का संचालन करते हुए शासन के विभिन्न योजनाओं में काम करते रहे है जिसके लिए संविदा प्रेरकों को शासन के द्वारा 2 हजार रुपये प्रतिमाह मानदेय भी दिया जाता रहा है लेकिन 31 मार्च 2018 के बाद अब आयुक्त राज्य शिक्षा केंद्र के द्वारा पुन: से संविदा प्रेरकों की नियुक्ति नहीं की गई जिसके लिए अब रीवा सहित प्रदेश के अन्य हिस्सों के सभी प्रेरक अपनी नियुक्ति तथा मानदेय वृध्दि को लेकर आगामी 15 जून को राजधानी भोपाल में घरना प्रदर्शन करने की योजना बना रहे हैं.


राज्य योजना आयोग ने प्रदेश के 50 पिछड़े ब्लॉक को किया चिन्हित

संविदा शिक्षक के बाद अब होगा संविदा प्रेरकों का आंदोलन


 VT PADTAL