VT Update
केजरीवाल ने दिया शिवराज को प्रस्ताव शिक्षा में सुधार करना हो तो मनीष को भेज दूँ मध्यप्रदेश सीएम फेस की अटकलों पर शिवराज ने लगाया विराम, कहा कि मेरे ही नेतृत्व में बनेगी भाजपा की अगली सरकार वार्ड क्र 16 में मुख्यमार्ग से परेशान रहवासी, मार्ग का नहीं हो रहा निर्माण, 4 बार किया जा चुका है भूमिपूजन दिल्ली मैट्रो को सितम्बर से बिजली सप्लाई करेगा, बदबार का अल्ट्रामेगा सोलर पावर प्लांट गोविंदगढ़ थाना क्षेत्र के धोबखरी गांव में भाई की जान बचाने नहर में कूदी बहन, हुई मौत
इस बड़े अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए लगता है पैसा

इस बड़े अस्पताल में शव के पोस्टमार्टम के लिए परिजनो से लिया जाता है पैसा


रीवा । विंध्य के सबसे बड़े अस्पाताल संजय गांधी में अव्यवस्थाओं के साथ-साथ अब भ्रष्टाचार भी बढ़ने लगा है. इस बार हास्पिटल से परिजनों को डेडबाडी के लिए पैसे की मांग का गंभीर मामला सामने आया है.

सीधी जिले के सेमरिया गांव के रहने वाले महेश नामदेव ने रविवार की दोपहर संजय गांधी अस्पताल के सीएमओ तथा डाक्टरों के उपर गंभीर आरोप लगाए है. महेश का कहना है कि अस्पताल प्रबंधन के द्वारा उनसे शव परीक्षण को लेकर पैसे की मांग की गई है.

दरअसल एक निजी कार्यक्रम में शामिल होने गए महेश नामदेव के परिवार के सभी सदस्य शनिवार की शाम अपने गृह गांव के लिए लौट रहे थे तभी अचानक मरछवार मोड़ पर उनकी बोलेरो वाहन दुर्घटनाग्रस्त हो गई जिसके बाद तुरंत ही घायलों को शहर के संजय गांधी अस्पाताल में भर्ती कराया गया जहां पर इलाज के दौरान महेश की पत्नी शशी नामदेव की मौत हो गई.

महेश की पत्नी की मौत के बाद डाक्टरों ने उनके शव के पोस्टमार्टम के एवज में 300 रुपये की मांग की जिसकी शिकायत महेश के द्वारा सीएमओ संजय गांधी अतुल सिंह से की गई लेकिन फिर भी उनकी शिकायत पर कोई कार्यवाई नहीं की गई तथा 300 रुपये मिलने के बाद ही अस्पताल प्रबंधन के द्वारा मृतका के शव का पोस्टमार्टम किया गया. शव के पोस्टमार्टम के बाद मृतका के परिजनों ने अस्पताल के अंदर हंगामा शुरु कर दिया और सीएमओ के ऊपर पैसे लेने के गांभीर आरोप लगाये.


अपराधियों के मन से खत्म हुआ पुलिस का खौफ, मोबाइल दुकान में बदमाशों ने की तोड़

घनी बस्ती में बसे गैस एजेंसियों के गोदाम, भय के साये में जनजीवन


 VT PADTAL