VT Update
विंध्य के सबसे बड़े अस्पताल संजय गांधी की सुरक्षा व्यवस्था पर उठे सवाल, अस्पताल के पार्किंग से चोरी हुई बोलेरो वाहन रीवा मेडिकल कॉलेज में लगेगा रूफटाफ का प्रदेश का सबसे बड़ा सोलर प्रोजेक्ट मतदाता जागरूकता के लिए रवाना हुई बुलेट रैली, कलेक्टर प्रीति मैथिल ने दिखाई हरी झंडी मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले में घटिया पुल निर्माण पर गिरी गाज, पीडब्लयूडी के चार अफसर सस्पेंड रीवा सहित प्रदेश भर में हर्षोल्लास के साथ मनायी गई कृष्ण जन्माष्टमी, शिल्पी प्लाजा में हुआ मटकी फोड़ने का भव्य आयोजन
Friday 22nd of June 2018 | गांव के दबंगों ने दलित किसान को जिंदा जलाया

गांव के दबंगों ने दलित किसान को जिंदा जलाया, हुई मौत


राजधानी भोपाल से सटे घाटखेड़ी गांव में दलित किसान को जिंदा जलाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. जिसमें चार आरोपियों ने मिलकर गांव के एक 70 साल के किसान किशोरीलाल जाटव को उसकी पत्नी के सामने पेट्रोल डालकर जिंदा जला दिया. पत्नी के लाख गिड़गिड़ाने के बावजूद आरोपियों का दिल नहीं पसीजा. जिसके बाद गंभीर हालत में किसान को अस्पताल पहुंचाया गया लेकिन 90 फीसदी झुलस चुके किसान की इलाज के दौरान मौत हो गई.

किसान का कसूर बस इतना था कि उसने अपनी जमीन पर कब्जे का विरोध किया था. सरकार की ओर से किशोरीलाल को साल 2002 में 3.5 एकड़ जमीन का पट्टा मिला हुआ था. जिसमें खेती कर किशोरी लाल अपना परिवार चलाता था. लेकिन गांव के दबंग तीरन सिंह यादव की जमीन पर बुरी नजर गड़ी हुई थी. तीरन सिंह ने जमीन पर कब्जा कर लिया था और खेती करना शुरू कर दिया था. जिससे किशोरीलाल बेहद परेशान हो गया. गुरुवार सुबह किशोरीलाल खेत पहुंचा तो तीरन सिंह अपने बेटों और भतीजों के साथ ट्रैक्टर से खेती की जुताई कर रहा था किशोरीलाल के मना करने से तैष में आकर तीरन अपने बेटे और भतीजों के साथ मिलकर किसान से मारपीट की और फिर पेट्रोल डालकर उसे जिंदा जला दिया. आरोपियों ने किसान की पत्नी के सामने ही वारदात को अंजाम दिया.

आपको बतादें इस वारदात के बाद भी पुलिस की संवेदनहीनता दिखाई दी शिकायत होने पर भी आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं की गई जिसके बाद स्थानीय लोगों के विरोध पर देर रात चारों आरोपियों को हिरासत में लिया गया है.


एट्रोसिटी एक्ट पर शिवराज के बयान पर कपिल सिब्बल ने किया पलटवार

बहुजन समाज पार्टी ने जारी किये 22 प्रत्याशियों के नाम


 VT PADTAL