VT Update
16 नवम्बर को शहडोल में होंगे नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी कांग्रेस विधायक सुन्दरलाल तिवारी ने आरएसएस को कहा आतंकी संगठन,कांग्रेस का बयान से किनारा रीवा में भाजपा प्रत्याशी राजेंद्र शुक्ल ने कांग्रेस प्रत्याशी अभय मिश्र को दिया कानूनी नोटिस। 50 करोड़ का कर सकते हैं दावा। आबकारी उड़नदस्ता टीम ने की बड़ी कार्यवाही, नईगढ़ी व पहाड़ी गाँव में कच्ची शराब भट्टी में मारी रेड, 200 लीटर कच्ची शराब के साथ पांच आरोपी गिरफ्तार विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र एस एस टी टीम की कार्यवाही जारी, चेकिंग के दौरान चार पहिया सवार के कब्जे से बरामद हुए 2लाख 19 हज़ार रुपये, निर्वाचन कार्यालय भेजा गया मामला
Saturday 23rd of June 2018 | अधिकारियों को 10 दिन के लिए रोकना पड़ा तबादला

टीचर का हुआ ट्रान्सफर तो लिपट कर रोये बच्चे


 

शिक्षक के प्रति इस तरह का लगाव आज देश भर में चर्चा का विषय बना हुआ, ऐसा प्रेम जो कभी कहानियों या पौराणिक कथाओं में देखने को मिलता रहा है, यह घटना है तमिलनाडू के एक सरकारी में अंग्रेजी पढ़ने वाले शिक्षक का ट्रान्सफर लेटर आया तोबच्चे न जाने देने की जिद में अड़ गए मगर जब शिक्षक ने सरकारी आदेश का हवाला देकर जाना जरूरी बताया बच्चों ने शिक्षक से लिपट कर रोने लगे हलाकि इसके बाद टीचर का 10 दिन के लिए तबादला रोक दिया गया

ये मामला चेन्नई के तिरुवल्लुवर इलाके का है, इस स्कूल में दो अंग्रेजी के शिक्षक हैं। स्कूल के प्रिंसिपल ने का कहना था कि भगवान यानी जिनका तबादला हुआ है, वो 6ठी से 10वीं तक के बच्चों को अंग्रेजी पढ़ाते हैं। बुधवार को सुबह नौ बजे एक अन्य टीचर आया था। उस दिन की प्रक्रिया पूरी हो गई थी, जिसके बाद भगवान को 10 बजे के पहले नए स्कूल (जहां तबादला हुआ था) जाना था। लेकिन उन्हें बच्चों ने रोक लिया, जिसके कारण प्रक्रिया थाम दी गई।

मजे की बात ये थी कि शिक्षक के तबादले की सूचना सिर्फ छात्र ही नहीं बल्कि परिजनों को भी अच्छी नहीं लगी, छात्रों के अभिभावकों का कहना था कि भगवान इसी स्कूल में रुकें और बच्चों को पढ़ाएं। खबर के अनुसार अंग्रेजी के शिक्षक का तबादला रुकवाने के लिए अभिभावकों और टीचर्स एसोसिएशन ने स्थानीय विधायक पीएम नरसिम्हन से भी मदद की गुहार लगाई थी।

 

 


जिस पत्रकारिता का कभी स्वर्णिम युग ना था , उसमे स्वर्णिम व्यक्तित्व की तरह उ

अटल जी के निधन से आहत हुआ देश !


 VT PADTAL