VT Update
केजरीवाल ने दिया शिवराज को प्रस्ताव शिक्षा में सुधार करना हो तो मनीष को भेज दूँ मध्यप्रदेश सीएम फेस की अटकलों पर शिवराज ने लगाया विराम, कहा कि मेरे ही नेतृत्व में बनेगी भाजपा की अगली सरकार वार्ड क्र 16 में मुख्यमार्ग से परेशान रहवासी, मार्ग का नहीं हो रहा निर्माण, 4 बार किया जा चुका है भूमिपूजन दिल्ली मैट्रो को सितम्बर से बिजली सप्लाई करेगा, बदबार का अल्ट्रामेगा सोलर पावर प्लांट गोविंदगढ़ थाना क्षेत्र के धोबखरी गांव में भाई की जान बचाने नहर में कूदी बहन, हुई मौत
अधिकारियों को 10 दिन के लिए रोकना पड़ा तबादला

टीचर का हुआ ट्रान्सफर तो लिपट कर रोये बच्चे


 

शिक्षक के प्रति इस तरह का लगाव आज देश भर में चर्चा का विषय बना हुआ, ऐसा प्रेम जो कभी कहानियों या पौराणिक कथाओं में देखने को मिलता रहा है, यह घटना है तमिलनाडू के एक सरकारी में अंग्रेजी पढ़ने वाले शिक्षक का ट्रान्सफर लेटर आया तोबच्चे न जाने देने की जिद में अड़ गए मगर जब शिक्षक ने सरकारी आदेश का हवाला देकर जाना जरूरी बताया बच्चों ने शिक्षक से लिपट कर रोने लगे हलाकि इसके बाद टीचर का 10 दिन के लिए तबादला रोक दिया गया

ये मामला चेन्नई के तिरुवल्लुवर इलाके का है, इस स्कूल में दो अंग्रेजी के शिक्षक हैं। स्कूल के प्रिंसिपल ने का कहना था कि भगवान यानी जिनका तबादला हुआ है, वो 6ठी से 10वीं तक के बच्चों को अंग्रेजी पढ़ाते हैं। बुधवार को सुबह नौ बजे एक अन्य टीचर आया था। उस दिन की प्रक्रिया पूरी हो गई थी, जिसके बाद भगवान को 10 बजे के पहले नए स्कूल (जहां तबादला हुआ था) जाना था। लेकिन उन्हें बच्चों ने रोक लिया, जिसके कारण प्रक्रिया थाम दी गई।

मजे की बात ये थी कि शिक्षक के तबादले की सूचना सिर्फ छात्र ही नहीं बल्कि परिजनों को भी अच्छी नहीं लगी, छात्रों के अभिभावकों का कहना था कि भगवान इसी स्कूल में रुकें और बच्चों को पढ़ाएं। खबर के अनुसार अंग्रेजी के शिक्षक का तबादला रुकवाने के लिए अभिभावकों और टीचर्स एसोसिएशन ने स्थानीय विधायक पीएम नरसिम्हन से भी मदद की गुहार लगाई थी।

 

 


कुमारस्वामी ने साबित किया बहुमत

वाराणसी: निर्माणाधीन फ्लाईओवर के स्लैब गिरने हुआ बड़ा हादसा, अब तक 12 की मौत  


 VT PADTAL