VT Update
16 नवम्बर को शहडोल में होंगे नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी कांग्रेस विधायक सुन्दरलाल तिवारी ने आरएसएस को कहा आतंकी संगठन,कांग्रेस का बयान से किनारा रीवा में भाजपा प्रत्याशी राजेंद्र शुक्ल ने कांग्रेस प्रत्याशी अभय मिश्र को दिया कानूनी नोटिस। 50 करोड़ का कर सकते हैं दावा। आबकारी उड़नदस्ता टीम ने की बड़ी कार्यवाही, नईगढ़ी व पहाड़ी गाँव में कच्ची शराब भट्टी में मारी रेड, 200 लीटर कच्ची शराब के साथ पांच आरोपी गिरफ्तार विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र एस एस टी टीम की कार्यवाही जारी, चेकिंग के दौरान चार पहिया सवार के कब्जे से बरामद हुए 2लाख 19 हज़ार रुपये, निर्वाचन कार्यालय भेजा गया मामला
Sunday 17th of September 2017 | बेबस मां की फरियाद नहीं सुन रहे अधिकारी !

बेबस मां की फरियाद नहीं सुन रहे अधिकारी !


अनूपपुर। देश में स्कूल जाने वाले बच्चों की कहीं गला रेत कर हत्या हो रही है। तो कहीं सरकार की लचर व्यवस्था की तरह MPEB की मुफ्त में मौत बांटती हुई बिजली की तारे किसी के घर का दीपक बुझा रही है। दरअसल ये मामला है अनूपपुर जिले से 17 किलोमीटर दूर स्थित ग्राम पंचायत पाली का जहां एक विकलांग मां जो बोल नहीं सकती अपनी इकलौती बेटी की मौत का मुआवजा पिछले 1 साल से मांग रही है। लेकिन सरकार के उंचे पदो पर बैठे अधिकारी महिला की कोई सुध नहीं ले रहे है।

 

क्या है पूरा मामला:

दरअसल  जिला मुख्यालय से 17 किलोमीटर की दुरी पर स्थित ग्राम पंचायत पाली में पिछले वर्ष सरकारी स्कूल में पढ़ने वाली 9वीं कक्षा की एक छात्रा खुशबू सिंह की स्कूल परिसर में ही करेंट लगने से मौत हो गई थी। जिसकी रिपोर्ट भी दिनांक 24.07.16 को थाना भालूमाड़ा में दर्ज कराई गई थी। जिसके बाद मृत छात्रा के परिजन को ग्राम पंचायत द्वारा 2 लाख रुपए मुआवजे के तौर पर देने की बात कही गई थी। जिसके बाद से मृत छात्रा की मां विमला सिंह अपने मुआवजे के पैसे लेने के लिए पंचायत के चक्कर काट रही है।

 

 

 


पचास हजार रुपये का इनामी डकैत पंजाबी बाबा हुआ गिरफ्तार, बाबली कोल गिरोह में

दर्शनार्थियों के साथ हुई लूट, जवाबदारी के बावजूद पार्किंग ठेकेदार ने की अभद


 VT PADTAL