VT Update
लोकसभा चुनाव खर्च सीमा से अधिक पैसे नहीं लुटा पाएंगे उम्मीदवार, आयोग रखेगा उम्मीदवारों के खर्च पर पैनी नजर। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को विशेषाधिकार हनन की नोटिस, किया गया जवाब तलब, पूर्व सीएम दिग्विजय को मिली क्लीन चीट। अधिकारियों व कर्मचारियों के आमदा पर चुनाव आयोग की रोक, आयोग का निर्देश बिना अनुमति नहीं ग्रहण कर सके नवीन पदस्थापना में कार्यभार। भुवनेश्वर के वेदांता प्लांट में प्रदर्शनकारियों ने सुरक्षाकर्मी को जिंदा जलाया, स्थानीय लोगों को नौकरी देने की मांग कर रहे थे प्रदर्शनकारी। कांग्रेस को सुमित्रा ताई की चुनौती- इंदौर में उतारे मुझसे बेहत उम्मीदवार, कहा- चुनाव लड़ने में आएगा आनंद।
Wednesday 27th of June 2018 | आज फिर होगी भाजपा विधायक दल की बैठक

चार दिन में दूसरी बार होगी भाजपा विधायक दल की बैठक


मध्यप्रदेश विधानसभा का मानसून सत्र स्थगित होने के बाद अब भारतीय जनता पार्टी जनता के बीच जाने की तैयारी में है. जिसके तहत अब एकबार फिर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भाजपा विधायक दल की बैठक बुलाई है. चार दिन के भीतर दूसरी बार हो रही बैठक बुधवार को शाम साढ़े सात बजे से मुख्यमंत्री निवास पर होगी. बैठक में तय होगा कि विपक्ष के आरोपों का जवाब कैसे दिया जाए. यानी भाजपा अब कांग्रेस के अविश्वास प्रस्ताव का जवाब जनता के बीच जाकर देगी.

भाजपा विधायक दल के मुख्य सचेतक एवं वरिष्ठ मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि भाजपा विधायक दल की आवश्यक बैठक 27 जून को सायं 7.30 बजे मुख्यमंत्री निवास भोपाल में रखी गई है. हालांकि बैठक को लेकर कोई स्थाई मुद्दा तय नहीं है, लेकिन आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर बैठक को अहम माना जा रहा है. इसमें भाजपा की अगली रणनीति, विकास पर्व के दौरान निर्माण कार्यों का लोकार्पण एवं शिलान्यास कार्यक्रम सहित कई अन्य विषयों पर चर्चा होगी.

इसके साथ ही संगठन के कार्यक्रमों में सक्रिय भागीदारी सुनिश्चत की जाएगी. निकट भविष्य में भाजपा नया कार्यक्रम जारी करने जा रही है. जिसमें भाजपा फिर से लोगों के बीच जाएगी. खास बात यह है कि इस कार्यक्रम के जरिए भाजपाइयों द्वारा आपातकाल का मुद्दा उठाया जाएगा. लोगों को बताया जाएगा कि तत्कालीन सरकार ने किसी तरह कुर्सी के लिए देश में आपातकाल लगाया और लोगों को जेल में डाला. भाजपा की अगली रणनीति आपातकाल को भुनाने की है.

इसके अलावा मुख्यमंत्री द्वारा बार-बार चेतावनी के बावजूद भी अपना परफॉर्मेंस नहीं सुधारने वाले विधायकों को विधायक दल की बैठक में चेतावनी मिल सकती है ऐसे विधायकों से कहा जाएगा कि वे चुनाव से पहले सत्ता एवं संगठन द्वारा तय किये जाने वाले कार्यक्रमों में संगठन का सहयोग करें. प्रदेश नेतृत्व की ओर से ऐसे विधायकों को क्षेत्र के प्रवास के दौरान संगठन पदाधिकारियों को साथ रखने के लिए कहा जाएगा.


विधायक के खिलाफ आवाज उठाने वाले कांग्रेसी नेता 6 साल के लिए पार्टी से निष्का

प्रदेश सरकार देशी शराब की दूकानों पर अंग्रेजी भी बेचने की तैयारी में, नियम ल


 VT PADTAL