VT Update
मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए आप लगातार विंध्य 24 से जुड़े रहे हम आपको ताजा अपडेट देते रहेगें अभी प्रत्येक विधानसभाओं में मतगणना आरंभ हुई हैं तथा बैलेट पेपर की गिनती शुरु हो चुकी है MP चुनावः शिवराज सिंह चौहान बोले-कांग्रेस के सहयोगी हताश हैं विजय माल्या केस की सुनवाई के सिलसिले में CBI और ED के ऑफिसर लंदन रवाना J-K: किश्तवाड़ पुलिस ने आतंकी रियाज अहमद को गिरफ्तार किया विजय माल्या केस की सुनवाई के सिलसिले में CBI और ED के ऑफिसर लंदन रवाना
Thursday 28th of June 2018 | कांग्रेस की एकता यात्रा में दिग्गी ने पढ़ाया एकता का पाठ

कांग्रेस की एकता यात्रा में दिग्गी ने पढ़ाया एकता का पाठ


मध्यप्रदेश में इसी साल होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस ने कमर कस ली है. कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह पूरे प्रदेश में कार्यकर्ताओं से मुलाकात कर रहे है. उज्जैन में कार्यकर्ताओं को एकता का पाठ पढ़़ाते हुए कांग्रेस समन्वय समिति के अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजयसिंह ने कहा कि अभी हर जगह मुझे टिकट की भीड़ दिख रही है. टिकट मिलने के बाद यह भीड रहेगी या नहीं. उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि सेल्फी भी एक बड़ी समस्या हो गई है जिससे काफी परेशानी होती है.

दरअसल, एक तरफ तो अमित शाह और प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान जुलाई माह में मध्यप्रदेश में जनआर्शीवाद यात्रा की शुरूआत कर चुनावी शंखनाद करने वाले है. वहीं दूसरी और कांग्रेस के दिग्गज नेता मध्यप्रदेश के जिलों में कार्यकर्ताओं को एकजुट करने में जुट गए है. कमलनाथ के प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजयसिंह को समन्वय समिति का अध्यक्ष बनाया. कांग्रेसियों को एक करने के लिए दिग्विजय सिंह पूरे प्रदेश में एकता यात्रा निकाल रहे है. 11 जिलों से होकर दिग्विजय सिंह की एकता यात्रा उज्जैन पहुंची जहां दिग्विजय सिंह ने जिले की 7 विधानसभा के कार्यकर्ताओं को एकता का पाठ पढ़ाया दिग्विजय सिंह ने कहा कि हम जहां-जहां गए वहां कार्यकर्ताओं ने कहा कि कांग्रेस एक हो जाए तो प्रदेश में सरकार बन जाएगी. लेकिन अभी जो भीड़ कांग्रेस कार्यकर्ताओं की मुझे दिखाई दे रही है. वह भीड टिकट की भीड़ है.

दिग्विजय सिंह ने कहा कि समिति का काम टिकट बांटना नहीं है, लेकिन टिकट मिलने के बाद यह भीड़ रहे या न रहे पता नहीं. कार्यकर्ताओं की सेल्फी लेना भी एक बड़ी समस्या हो गई है. मैं नर्मदा यात्रा पर गया तो वहां तीन तरह की यात्रा हुई. एक यात्रा जो नर्मदा मैया की थी, दूसरी यात्रा सेल्फी यात्रा थी, जिसमें कार्यकर्ता सेल्फी लेकर सोशल मीडिया पर एक्टिव रहते है और तीसरी यात्रा टिकट यात्रा रही. जिसमें प्रदेश भर से कांग्रेस नेता टिकट की रिकमेंट करने के लिए आए थे. घटिया और तराना में एक सीट पर 28 दावेदार है , बड़ा नेता क्या सोचता है की विधायक अपने जेब का बना लो ताकि वो मेरे पीछे पीछे घूमता रहे.


शिवराज का दावा, भाजपा की बनेगी लगातार चौथी बार सरकार

एग्जिट पोल पर बोले शिवराज ‘सबसे बड़ा सर्वेयर मैं खुद’


 VT PADTAL