VT Update
ओंकारेश्वर बांध विस्थापितों को मिली सुप्रीम कोर्ट से राहत, कोर्ट ने सरकार को दिया आदेश विस्थापितों को उपलब्ध कराएं बेहतर भूमि। प्रदेश के भिंड में चार लोगों की हत्या करने वाले आरोपी को कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा। शहडोल उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी रही हिमाद्री सिंह ने आज कांग्रेस का हाथ छोड़ थामा भाजपा का दामन कमलनाथ सरकार को जबलपुर हाईकोर्ट से तगड़ा झटका, ओबीसी को 27 फीसदी आरक्षण देने पर लगाई रोक। टिकट को लेकर भाजपा में मचा घमासान, दावेदारों ने प्रदेश कार्यालय के सामने की नारेबाजी।
Saturday 30th of June 2018 | दुष्कर्म पीडिता को देखने पहुचे सांसद , विधायक ने कहा “सांसद का करें धन्यवाद"

दुष्कर्म पीडिता को अस्पताल देखने पहुचे सांसद तो विधायक ने परिजनों से कहा “सांसद का करें धन्यवाद”


इंदौर। मंदसौर जिले में हुई 7 वर्षीय नाबालिक से हैवानियत का प्रदेश भर विरोध हो रहा है, हर कोई आक्रोशित है इस मामले में जल्द से जल्द आरोपियों जो सजा देने की आवाज को बुलंद कर रहा है मगर इस संवेदनशील माहौल में भी  बीजेपी विधायक अपने नेताओं के खुशामदीद करने से नही चुक रहे हैं, तथा एम् वाय अस्पताल में पहुचे मंदसौर सांसद के लिए विधायक सुदर्शन गुप्ता ने परिजनों से धन्यवाद ज्ञापित करा दिया, इस मामले में कांग्रेस सुदर्शन गुप्ता पर लगातार सवाल उठा रही है

 मंदसौर में हैवानियत की शिकार हुई 7 वर्ष की मासूम का एमवाय अस्पताल में इलाज जारी है। मासूम को गंभीर अवस्था में इंदौर लेकर अस्पताल में दाखिल कराया गया था। जहा डॉक्टरों की टीम ने इसका उपचार किया और फिलहाल बच्ची का इलाज जारी है। इस घटना को लेकर जहां प्रदेश भर में आक्रोश है, और आरोपियों को फांसी देने की मांग उठ रही है, वहीं इस दर्दनाक घटना को भी नेता अपने सियासी चश्मे देख रहे हैं और इस दुखद घड़ी में भी पीड़िता के परिजनों के सामने संवेदनहीन व्यवहार करते दिखाई दे रहे हैं|

मंदसौर में हुई इस घटना ने एक बार फिर पूरे प्रदेश को अंदर से हिला दिया है और हर तरफ सिर्फ दरिंदों को फांसी देने की मांग उठ रही है, मुख्यमंत्री स्वयं कह चुके हैं कि दरिंदों को जीने का कोई अधिकार नहीं है, इन्हे फांसी ही होना चाहिए| वहीं उनके विधायक ऐसे संवेदनशील मौके पर संवेदनहीन व्यवहार करते नजर आये| दरअसल, शुक्रवार की सुबह पीडित बच्ची का हाल जानने मंदसौर-नीमच से सांसद सुधीर गुप्ता अस्पताल पहुंचे थे| इस दौरान इंदौर के कुछ विधायक और भाजपा नेता भी मौजूद थे| सांसद सुधीर गुप्ता जब बच्ची के परिजनों से मिलने पहुंचे तो नेतागण अपनी राजनीति चमकाते नजर आये| विधायक सुदर्शन गुप्ता ने तो पीड़ित परिवार को सांसद साहब को धन्यवाद करने की नसीहत तक दे डाली| वो पीड़ित परिवार से कहते सुने गये कि सांसद जी आपसे स्पेशल मिलने आए हैं कम से कम धन्यवाद तो कह दो| दुःख में डूबे परिजनों ने हाथ जोड़ धन्यवाद भी दे दिया|

जिसकी बच्ची हैवानियत की शिकार हुई है और अस्पताल में जिंदगी की जंग लड़ रही है, उनके लिए कौन सांसद कौन विधायक, क्या यह वो समय था जब वह दिल से धन्यवाद दे सकेंगे| बल्कि ऐसे समय तो बच्ची के परिजनों के दुःख को समझकर उन्हें हिम्मत बढ़ाने की जरुरत थी न की धन्यवाद ज्ञापित करने की| विधायक की असंवेदनशीलता का कांग्रेस ने विरोध किया है|

 


विन्ध्या टाइम्स की खबर पर लगी मुहर रीवा,सीधी,सतना में सांसद रिपीट

छापेमारी के बाद फूट-फूट कर रोई दबंग विधायक, सीबीआई जांच कराए जाने की मांग


 VT PADTAL