VT Update
केजरीवाल ने दिया शिवराज को प्रस्ताव शिक्षा में सुधार करना हो तो मनीष को भेज दूँ मध्यप्रदेश सीएम फेस की अटकलों पर शिवराज ने लगाया विराम, कहा कि मेरे ही नेतृत्व में बनेगी भाजपा की अगली सरकार वार्ड क्र 16 में मुख्यमार्ग से परेशान रहवासी, मार्ग का नहीं हो रहा निर्माण, 4 बार किया जा चुका है भूमिपूजन दिल्ली मैट्रो को सितम्बर से बिजली सप्लाई करेगा, बदबार का अल्ट्रामेगा सोलर पावर प्लांट गोविंदगढ़ थाना क्षेत्र के धोबखरी गांव में भाई की जान बचाने नहर में कूदी बहन, हुई मौत
रेत मामला हो या फिर व्यापम मामला होती है पत्रकारों की मौत: सिंधिया

रेत मामला हो या फिर व्यापम मामला होती है पत्रकारों की मौत: सिंधिया


मध्यप्रदेश कांग्रेस चुनाव अभियान समिति की हुई बैठक में अब निर्णय ले लिया गया है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया 11 जुलाई को खजुराहो से चुनाव अभियान की शुरुआत करेंगे. सिंधिया की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में संभाग वार चुनाव अभियान समिति बनाने का भी निर्णय लिया गया.

बताया गया है कि पार्टी संभाग वार 10 चुनाव अभियान समितियां गठित करेगी जिसके तहत हर समिति में 25 सदस्य शामिल किए जाएंगे. इस दौरान सिंधिया ने कहा कि समिति की बैठक में जो भी फैसले हुए हैं, उन पर अंतिम फैसला पीसीसी चीफ कमलनाथ करेंगे.

वहीं बैठक के बाद प्रेस से मिलिए कार्यक्रम में पत्रकारों से रुबरु होते हुए मप्र कांग्रेस चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि यह विधानसभा चुनाव दो दलों के बीच नही है बल्कि ये चुनाव जनता का भविष्य तय करेगा. उन्होंने कहा कि यह चुनाव आने वाली सदी की रूप रेखा तय करेगा. सरकार 14 साल से प्रदेश में है, उसी का नतीजा है कि मध्य प्रदेश में हालात गंभीर बने हैं.

सिंधिया ने कहा कि एक तरफ शिवराज जी की घोषणाएं होती हैं, वही दूसरी तरफ स्थिति गंभीर हो रही है. चाहे महिलाओं का मामला हो या किसानों की बात हो या युवाओं की बेरोजगारी की बात हो हर तरफ घोषणाएं और जमीनी हकीकत उलट है. मीडिया को आज प्रदेश में प्रताड़ित किया जा रहा है चाहे रेत माफिया हो या व्यापम मामला हो. पत्रकारों को मौत के घाट उतारा जा रहा है. वही महिलाओं की स्थिति बहुत खराब है.

उन्होंने मंदसौर की घटना को दिल दहलाने वाली घटना बताते हुए कहा कि भाजपा के सांसद विधायक जब मिलने जाते हैं, संवेदनहीन बयान देते हैं. प्रदेश की महिलाएं सुरक्षित नही हैं. पूरे प्रदेश में बच्चियों के साथ बलात्कार हो रहा है. सरकार मुख्य्मंत्री निवास पर सिर्फ बैठक कर रही है. जिस प्रदेश में महिला की आबरू सुरक्षित नही वहा ऐसी सरकार का सुशासन नही हो सकता.


कुलपति बनने के जुगाड़ समाप्त, शैक्षणिक अनुभव वाले की बन सकेंगे कुलपति !

बीजेपी ने की लोकसभा की तैयारी, प्रदेश के 14 सांसदों के कट सकते हैं टिकट


 VT PADTAL