VT Update
16 नवम्बर को शहडोल में होंगे नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी कांग्रेस विधायक सुन्दरलाल तिवारी ने आरएसएस को कहा आतंकी संगठन,कांग्रेस का बयान से किनारा रीवा में भाजपा प्रत्याशी राजेंद्र शुक्ल ने कांग्रेस प्रत्याशी अभय मिश्र को दिया कानूनी नोटिस। 50 करोड़ का कर सकते हैं दावा। आबकारी उड़नदस्ता टीम ने की बड़ी कार्यवाही, नईगढ़ी व पहाड़ी गाँव में कच्ची शराब भट्टी में मारी रेड, 200 लीटर कच्ची शराब के साथ पांच आरोपी गिरफ्तार विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र एस एस टी टीम की कार्यवाही जारी, चेकिंग के दौरान चार पहिया सवार के कब्जे से बरामद हुए 2लाख 19 हज़ार रुपये, निर्वाचन कार्यालय भेजा गया मामला
Tuesday 3rd of July 2018 | प्रशासनिक उपेक्षा का शिकार हुआ शहर का संस्कृत महाविद्यालय

प्रशासनिक उपेक्षा का शिकार हुआ शहर का संस्कृत महाविद्यालय


रीवा । शहर के बिछिया मोहल्ले में संचालित संस्कृति महाविद्यालय पिछले कई सालों  से प्रशासनिक उपेक्षा का शिकार हो रहा है, मूलभूत सुविधाओं से वंचित यह महाविद्यालय सरकार के दावों की पोल खोल रहा है.जहाँ एक ओर देशभर में स्वक्षता अभियान चल रह वहीं दूसरी ओर इस महाविद्यालय  में  शौचालय तक की व्यवस्था नहीं की गई है.

दरअसल बिछिया स्थित जगन्नाथ मंदिर के प्रांगड़ में संचालित संस्कृत महाविद्यालय वर्ष 1955 से लगातार संस्कृत पढ़ने वाले छात्रों को पढ़ाने की जिम्मेदारी निभा रहा है. लेकिन अब यह महाविद्यालय लचर प्रसासनिक लापरवाही के कारण उपेक्षा का शिकार होता जा रहा है. एक ओर जहां सरकार के द्वारा देश भर में स्वस्छता का नारा दिया जा रहा है वहीं दूसरी ओर आज के इस दौर में भी महाविद्यालय के अंदर शौचालय की कोई व्यवस्था नहीं की गई है. महाविद्यालय का भवन भी क्षतिग्रस्त हो चुका है.

विंध्य 24 से बात करते हुए महाविद्यालय के प्रचार्य ने बताया कि 150 छात्रों से भरे इस महाविद्यालय में हर वक्त छत गिरने का डर बना रहता. दूर-दराज से पढ़ने आने वाले छात्रों के लिए महाविद्यालय में शौचालय की कोई व्यवस्था नहीं है. महाविद्यालय के प्रचार्य ने बताया कि कालेज की नवीनीकरण व मूलभूत सुविधाओं को पूरा कराने के लिए कई बार प्रसासन स्तर तक बात की गई है लेकिन फिर भी कोई कार्यवाई नहीं की जा रही है .


कांग्रेस प्रत्याशियों ने जारी किया पार्टी का वचन पत्र

मन की बात करने रीवा पहुंचे कंप्यूटर बाबा, सी एम शिवराज को कहा झूठा


 VT PADTAL