VT Update
केजरीवाल ने दिया शिवराज को प्रस्ताव शिक्षा में सुधार करना हो तो मनीष को भेज दूँ मध्यप्रदेश सीएम फेस की अटकलों पर शिवराज ने लगाया विराम, कहा कि मेरे ही नेतृत्व में बनेगी भाजपा की अगली सरकार वार्ड क्र 16 में मुख्यमार्ग से परेशान रहवासी, मार्ग का नहीं हो रहा निर्माण, 4 बार किया जा चुका है भूमिपूजन दिल्ली मैट्रो को सितम्बर से बिजली सप्लाई करेगा, बदबार का अल्ट्रामेगा सोलर पावर प्लांट गोविंदगढ़ थाना क्षेत्र के धोबखरी गांव में भाई की जान बचाने नहर में कूदी बहन, हुई मौत
सीएम ने सागर से किया ई-लोकार्पण

14 हजार करोड़ के विकास कार्यों का, सीएम ने सागर से किया ई-लोकार्पण


मध्यप्रदेश की विकास के इतिहास में आज का दिन कॉफी महत्वपूर्ण है. क्योंकि आज के दिन 14 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा के विकास कार्यों का एक साथ लोकार्पण व शिलान्यास हो रहा है. दुनिया के सबसे बेहतरीन प्रदेशों में मध्यप्रदेश की भी गिनती हो, इस संकल्प के साथ सरकार के द्वारा काम किया जा रहा है. यदि रोटी, कपड़ा, मकान, दवाई, पढ़ाई और रोजगार के इंतजाम कर दिए जाएं तो गरीबी दूर हो जाएगी, सरकार इसी फॉर्मूले पर काम कर रही हैं. मध्यप्रदेश की ढाई हजार अवैध कॉलोनियों को आज वैध किया जा रहा है. बाकी कॉलोनियों को भी वैध करने का काम किया जा रहा है. यह बात मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सागर के बामोरा में एमपी विकास पर्व के तहत आयोजित कार्यक्रम में कहीं. इस दौरान मुख्यमंत्री ने प्रदेश के 16 जिलों के 14 हजार करोड़ रुपए के विभिन्न विकास कार्यों का ई-लोकार्पण किया. इस अवसर पर उन्होंने कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कई हितग्राहियों से सीधा संवाद भी किया.

उन्होंने कहा कि किसी भी जाति-धर्म के हो, मध्यप्रदेश के हर गरीब को 4 साल में रहने के लिए पक्का मकान दिया जायेगा. इसी के तहत रीवा शहर में भी ललपा क्षेत्र में बने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बने आवासों का ई-लोकर्पण किया गया. कार्यक्रम में बोलते हुए उन्होने कहा कि मध्यप्रदेश में सरकार आने से पहले कभी इतने बड़े विकास कार्यों का शिलान्यास या लोकार्पण नहीं हुआ. क्योंकि उस समय शासन करने वालों की न नियत ठीक थी, न नीति ठीक थी. जोश, जुनून व जज़्बे के अभाव में उन्होंने मध्यप्रदेश को बीमारू राज्य बना दिया था.

सीएम ने कहा कि संबल योजना के तहत गरीब बहनों को गर्भावस्था के 6 से 9 महीने तक 4 हजार और प्रसव के बाद 12 हजार रुपए की सहायता दी जा रही है, जिससे वे पौष्टिक आहार लेकर स्वस्थ रहें. वहीं बिजली के बकाया बिल माफ कर 200 रुपए प्रति माह के फ्लैट रेट पर बिजली दी जा रही है. किसान खैरात नहीं चाहता, वह चाहता है उसके पसीने की पूरी कीमत उसे मिले. किसानों का पसीना सिर्फ पसीना नहीं बल्कि देश-प्रदेश की ज़िंदगी है. उनके पसीने की पूरी कीमत उन्हें देंगे.

इसके साथ ही प्रदेश में हुए रेप घटना पर बात करते हुए सीएम ने कहा कि इंदौर और सतना की घटना ने हम सभी को अन्दर तक झंकझोर दिया. बेटियों के साथ दरिंदगी करने वाले नरपिशाचों को जिंदा रहने का हक़ नहीं है.


इंदौर से चुनावी आगाज करेगी आप, केजरीवाल करेंगे सभा को संबोधित !

राहुल गाँधी से ज्यादा शिवराज सिंह से जुड़े थे फर्जी फालोवर्स    


 VT PADTAL