VT Update
मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए आप लगातार विंध्य 24 से जुड़े रहे हम आपको ताजा अपडेट देते रहेगें अभी प्रत्येक विधानसभाओं में मतगणना आरंभ हुई हैं तथा बैलेट पेपर की गिनती शुरु हो चुकी है MP चुनावः शिवराज सिंह चौहान बोले-कांग्रेस के सहयोगी हताश हैं विजय माल्या केस की सुनवाई के सिलसिले में CBI और ED के ऑफिसर लंदन रवाना J-K: किश्तवाड़ पुलिस ने आतंकी रियाज अहमद को गिरफ्तार किया विजय माल्या केस की सुनवाई के सिलसिले में CBI और ED के ऑफिसर लंदन रवाना
Thursday 12th of July 2018 | ताज को "बचाएं" या करे "ध्वस्त" : सुको

“ताजमहल” के रखरखाव को लेकर केंद्र और राज्य को फटकार  


दुनिया के सात अजूबों में शामिल ताजमहल को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को जमकर फटकार लगाई है। कोर्ट ने कहा, कि ताज के प्रति केंद्र सरकार, उत्तर प्रदेश सरकार, पुरातत्व विभाग का रवैया बेहद लचर है| वैसे भारी वायू प्रदूषण की वजह से संगमरमर से बनी इस इमारत का सफेद रंग अब हरे रंग में बदल रहा है। नाराज सुप्रीम कोर्ट ने अपनी टिप्पणी में कहा है कि 'ताजमहल को संरक्षण दिया जाए या बंद या ज़मींदोज़ कर दिया जाए।

 

कहने को ताजमहल को अपने पुराने रूप में वापस लाने के लिए समय-समय पर कई तरह की कोशिशों को अंजाम दिया गया। अब तक कोई भी कोशिश इतनी कारगर सिद्ध नहीं हुई है जिससे ताजमहल की ख़ूबसूरती को लौटाया जा सके। 2013 में भी ऐसी ख़बरें आई थीं कि ताजमहल के रंग में पीलापन आ रहा है, अब उसके रंग में हरापन आने की बात की जा रही है। अगर इसकी वजहों की बात करें तो आगरा में नगरनिगम का सॉलिड वेस्ट जलाया जाना एक मुख्य वजह है। इसके साथ ही ताजमहल के आसपास काफ़ी बड़ी संख्या में इंडस्ट्रीज़ भी हैं। इसके अलावा जब दिल्ली से पुरानी गाड़ियों को प्रतिबंधित किया जाता है तो ये गाड़ियां इन शहरों में ही पहुंचती हैं जिनकी वजह से आगरा के वायू प्रदूषण का स्तर काफ़ी बढ़ा हुआ है।"

 

सुप्रीम कोर्ट ने तंज कसते हुए यह भी कहा कि ताज एफिल टावर से भी ज्यादा खुबसूरत है फिर भी ताज देखने वाले कम लोग आते है, इसका मतलब सरकार पर्यटन को लेकर गंभीर नही हैं| कोर्ट के इस आरोप पर केंद्र सरकार ने कहा कि समिति का गठन किया गया है, जो यह देखेगी कि ताज कितना और किन कारणों से प्रदूषित  हुआ है | इसकी रिपोर्ट 4 महीने बाद आयेगी|  


जिस पत्रकारिता का कभी स्वर्णिम युग ना था , उसमे स्वर्णिम व्यक्तित्व की तरह उ

अटल जी के निधन से आहत हुआ देश !


 VT PADTAL