VT Update
वाराणसीः CM योगी ने चंद्रशेखर आजाद की प्रतिमा का अनावरण किया छत्तीसगढ़ः दंतेवाड़ा में IED विस्फोट में पांच जवान शहीद, 2 घायल रेलवे मैदान में होगा सद्भावना सम्मेलन, सतपाल जी महराज देगें उद्वबोधन रीवा व्यंकट भवन में विश्व संग्रहालय दिवस के उपलक्ष्य में लगाई गई प्रदर्शनी एमपी बोर्ड 10वीं और 12वीं रिजल्ट घोषित, मेरिट में छात्राओं का रहा दबदबा
पाकिस्तान को भारत का जवाब, गलतफहमी नहीं पाले 'टेररिस्तान'

पाकिस्तान को भारत का जवाब, गलतफहमी नहीं पाले 'टेररिस्तान'


नई दिल्ली। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में कश्मीर मुद्दा उठाया था जिसके बाद भारत ने अपने प्रतिक्रिया देने के अधिकार का इस्तेमाल करते हुए कहा कि यह -  ' कितनी अजीब बात है कि जिस देश ने ओसामा बिन लादेन को संरक्षण दिया और मुल्ला उमर को शरण दे रखी है वही देश खुद को पीड़ित बता रहा है। ' संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन में प्रथम सचिव एनम गंभीर ने कहा, ‘‘अब तक पाकिस्तान के सभी पड़ोसी तथ्यों को तोड़-मरोड़ने, धूर्तता, बेईमानी तथा छल-कपट पर आधारित कहानियां तैयार करने की उसकी चालों से भलीभांति परिचित हैं और परेशान हैं।’’
इससे पहले, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान पर जमकर निशाना साधा,  यूएनजीए बैठक से इतर सुषमा ने कहा कि दक्षिण एशिया में ऐसे देश आतंकवाद की मदद कर रहे हैं और शरण दे रहे हैं, जो अपना हित साधने के लिए इनका इस्तेमाल करते हैं। लिहाजा दक्षिण एशिया में आतंकवाद अपनी पैठ बनाए हुए हैं।  सुषमा स्वराज ने बिना नाम लिए पाकिस्तान को आतंकी संगठनों की शरणस्थली बताया। स्वराज ने कहा कि आतंकवाद को विदेश नीति के रूप में इस्तेमाल करने वाले देश आतंकी संगठनों को समर्थन और पनाह दे रहे है।  वह संयुक्त राष्ट्र महासभा में ब्रिक्स मंत्रिस्तरीय बैठक में वैश्विक शांति और सुरक्षा के लिए खतरा बने आतंकी संगठनों पर बोल रही थीं।  दूसरी ओर, ब्रिक्स देशों ने भी आतंकवाद के सभी रूपों की कड़ी निंदा की और उन्होंने संयुक्त राष्ट्र में व्यापक सुधार करने का आह्वान किया ताकि भारत और इस निकाय के उसके साथी पांच देश विश्व निकाय में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकें।
 


आतंकवाद पर डोनाल्ड ट्रंप ने की घोषणा

भारत के दलवीर भंडारी बने अंतरराष्ट्रीय अदालत में जज


 VT PADTAL