VT Update
ओंकारेश्वर बांध विस्थापितों को मिली सुप्रीम कोर्ट से राहत, कोर्ट ने सरकार को दिया आदेश विस्थापितों को उपलब्ध कराएं बेहतर भूमि। प्रदेश के भिंड में चार लोगों की हत्या करने वाले आरोपी को कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा। शहडोल उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी रही हिमाद्री सिंह ने आज कांग्रेस का हाथ छोड़ थामा भाजपा का दामन कमलनाथ सरकार को जबलपुर हाईकोर्ट से तगड़ा झटका, ओबीसी को 27 फीसदी आरक्षण देने पर लगाई रोक। टिकट को लेकर भाजपा में मचा घमासान, दावेदारों ने प्रदेश कार्यालय के सामने की नारेबाजी।
Friday 22nd of September 2017 | पाकिस्तान को भारत का जवाब, गलतफहमी नहीं पाले 'टेररिस्तान'

पाकिस्तान को भारत का जवाब, गलतफहमी नहीं पाले 'टेररिस्तान'


नई दिल्ली। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में कश्मीर मुद्दा उठाया था जिसके बाद भारत ने अपने प्रतिक्रिया देने के अधिकार का इस्तेमाल करते हुए कहा कि यह -  ' कितनी अजीब बात है कि जिस देश ने ओसामा बिन लादेन को संरक्षण दिया और मुल्ला उमर को शरण दे रखी है वही देश खुद को पीड़ित बता रहा है। ' संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन में प्रथम सचिव एनम गंभीर ने कहा, ‘‘अब तक पाकिस्तान के सभी पड़ोसी तथ्यों को तोड़-मरोड़ने, धूर्तता, बेईमानी तथा छल-कपट पर आधारित कहानियां तैयार करने की उसकी चालों से भलीभांति परिचित हैं और परेशान हैं।’’
इससे पहले, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान पर जमकर निशाना साधा,  यूएनजीए बैठक से इतर सुषमा ने कहा कि दक्षिण एशिया में ऐसे देश आतंकवाद की मदद कर रहे हैं और शरण दे रहे हैं, जो अपना हित साधने के लिए इनका इस्तेमाल करते हैं। लिहाजा दक्षिण एशिया में आतंकवाद अपनी पैठ बनाए हुए हैं।  सुषमा स्वराज ने बिना नाम लिए पाकिस्तान को आतंकी संगठनों की शरणस्थली बताया। स्वराज ने कहा कि आतंकवाद को विदेश नीति के रूप में इस्तेमाल करने वाले देश आतंकी संगठनों को समर्थन और पनाह दे रहे है।  वह संयुक्त राष्ट्र महासभा में ब्रिक्स मंत्रिस्तरीय बैठक में वैश्विक शांति और सुरक्षा के लिए खतरा बने आतंकी संगठनों पर बोल रही थीं।  दूसरी ओर, ब्रिक्स देशों ने भी आतंकवाद के सभी रूपों की कड़ी निंदा की और उन्होंने संयुक्त राष्ट्र में व्यापक सुधार करने का आह्वान किया ताकि भारत और इस निकाय के उसके साथी पांच देश विश्व निकाय में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकें।
 


भूकंप के झटकों से दहला इंडोनेशिया, अब तक 12 सौ से अधिक की मौत

अब सरकार ने माना 39 भारतीय मारे गए, परिजन बोले इतने दिन अधेरे में क्यों रखा गया


 VT PADTAL