VT Update
पूर्व प्राचार्य पर दर्ज F.I.R रद्द करने की उठी मांग, प्राध्यापको ने की बैठक ब्रम्हण समाज ने सौपा एस.पी को ज्ञापन R.P.F के D.I.G विजय कुमार खातरकर रेलवे ने रेलवे अफसर की पत्नी के साथ की छेड़छाड़, नरसिंहपुर के पास ओवरनाइट एक्सप्रेस मे वारदात,F.I.R दर्ज इंदौर का देवी अहिल्याबाई होल्कर एयरपोर्ट अब बन गया अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट, सोमवार को पहली बार इंदौर से दुबई के लिए अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट ने भरी उड़ान राहुल के इस्तीफे के 50 दिन बाद भी अब तक किसी को नहीं चुना गया कांग्रेस अध्यक्ष , कर्नाटक विवाद सुलझने के बाद फैसले की उम्मीद भारतीय नौसेना की बढ़ाई जा रही ताकत, जल्द खरीदी जा सकती हैं 100 टारपीडो मिसाइल, 2000 करोड़ का टेंडर जारी
Monday 6th of August 2018 | बावरिया की बैठक में फिर हुआ बवाल

बावरिया की बैठक में फिर हुआ बवाल, कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने आपस में किया विवाद


कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय महामंत्री व मध्यप्रदेश के प्रदेश प्रभारी दीपक बावरिया को ठीक नौ दिन बाद एक बार फिर अप्रिय घटना का सामना करना पड़ा है. सोमवार को दौरे पर विदिशा पहुंचे दीपक बावरिया के सामने कांग्रेस कार्यकर्ता आपस में भिड़ते दिखाई दिए. इससे पहले 29 जुलाई को बावरिया के साथ रीवा में धक्का-मुक्की का मामला सामने आया था. ये मामला कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के पास तक पहुंच गया था. जिसपर प्रदेश के शीर्ष नेताओं को तुरंत की दिल्ली तलब होना पड़ा था.

इसके साथ ही अब पुन: हुई इस घटना में पार्टी में हंगामा मचा हुआ है. जानकारी के अनुसार दीपक बावरिया विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस कार्यकर्ताओं की राय जानने विदिशा पहुंचे थे. उनके साथ मंच पर बैठने के लिए कांग्रेस के वरिष्ठ कार्यकर्ताओं में होड़ लग गई. जिन वरिष्ठ नेताओं को मंच पर नहीं बुलाया गया वो समर्थकों के साथ मंच पर पहुंच गए और मंच पर बैठे नेताओं से भिड़ गए. जमकर धक्का-मुक्की, गाली-गलौच के बीच हाथा-पाई भी हो गई. किसी तरह पहले बावरिया खुद सुरक्षित स्थान पर पहुंचे और दूर से नेताओं को समझाने की कोशिश की. काफी देर तक हंगामा चलने की खबर है.

आपकों बतादें पिछले दिनों 29 जुलाई को रीवा में भी खुद दीपक बावरिया को धक्का-मुक्की का शिकार होना पड़ा था. यहां कमलनाथ औज्योतिरादित्य सिंधिया को मुख्यमंत्री पद का दावेदार बताए जाने पर अजय सिंह के समर्थक नाराज हो गए थे. उनका कहना था कि अजय सिंह को क्यों मुख्यमंत्री पद का दावेदार नहीं कहा जा रहा है। जबकि वे पार्टी में वरिष्ठ हैं. इस मामले की शिकायत खुद बावरिया ने राहुल गांधी से की थी. इस घटना के दो दिन बाद दिल्ली में आयोजित बैठक में राहुल गांधी प्रदेश में फिर ऐसी घटना नहीं होने देने के लिए कहा था.


बोले बीजेपी नेता- प्रदेश को नहीं चाहिए रोतेला मुख्यमंत्री, कांग्रेस राज में

नवनिर्वाचित सांसद डामोर विधानसभा को कहेंगे अलविदा, रतलाम विधानसभा में होगा


 VT PADTAL