VT Update
गोपाल भार्गव बने नेता मप्र.विधानसभा नेता प्रतिपक्ष जेपी सीमेंट ने नहीं चुकाया 5० करोड़ रूपए टैक्स, जुलाई के बाद नहीं जमा किया टैक्स लूट से बचने पहले व्यापारी और फिर बदमाश गाड़ी सहित गिरे नदी में,गुढ़ थाने के बिछिया नदी में हुआ हादसा विधानसभा में हारे उम्मीदवारों को कमलनाथ का सहारा, कमलनाथ ने कहा हताश न हो लोकसभा की तैयारी में लगें मप्र में कांग्रेस सरकार फिर खोलेगी व्यापम की फाइल,गृह मंत्री बाला बच्चन ने कहा घोटाले से जुड़े लोग बक्शे नही जायेंगे
Friday 10th of August 2018 | बिजली बिल माफी योजना पर लगी याचिका

सुप्रीम कोर्ट पहुंची बिजली बिल माफी योजना की याचिका


मध्यप्रदेश में बिजली बिल माफी और सरल बिजली योजना को चुनौती देने का मामला अब सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया है.  विगत 13 जुलाई को हाईकोर्ट ने यह कहते हुए इसमें दखल से इनकार कर दिया था कि इन योजनाओं से होने वाले नुकसान का मुद्दा सरकार और बिजली कंपनी के बीच का है इनमें वह कुछ नहीं बोल सकते जिसके बाद मामले को सुप्रीम कोर्ट तक पहुंचाया गया.

सरकार ने उक्त अधिनियम का उल्लंघन करते हुए पैसा जमा किए बिना ही योजना लागू कर दी. याचिकाकर्ता की ओर से कहा गया कि ऐसे में बिजली कंपनियां नुकसान की भरपाई के लिए बिजली रेट बढ़ा सकती है और उसका भार आम उपभोक्ताओं पर पड़ेगा. यह दलील भी दी गई कि प्रदेश में अगले साल चुनाव हैं और इसी का राजनीतिक लाभ पाने के लिए सरकार ने ये कदम उठाया है.

याचिका में बताया गया कि वर्ष 2003 में भी तत्कालीन दिग्विजय सिंह सरकार ने बिजली बिल माफी योजना लागू की थी, लेकिन विद्युत मंडल के पास पैसा नहीं जमा कराया था. तब चीफ जस्टिस राजा रत्नम और जस्टिस दीपक मिश्रा की खंडपीठ ने सरकार को 100 करोड़ रुपए जमा कराने के निर्देश दिए थे.


खंभे से टकराकर धड़ से अलग हुआ सिर,चलती बस में हुई घटना...

लापरवाही बरतने पर सरकार ने 17 अधिकारियों के खिलाफ दिए कार्यवाही के आदेश


 VT PADTAL