VT Update
ओंकारेश्वर बांध विस्थापितों को मिली सुप्रीम कोर्ट से राहत, कोर्ट ने सरकार को दिया आदेश विस्थापितों को उपलब्ध कराएं बेहतर भूमि। प्रदेश के भिंड में चार लोगों की हत्या करने वाले आरोपी को कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा। शहडोल उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी रही हिमाद्री सिंह ने आज कांग्रेस का हाथ छोड़ थामा भाजपा का दामन कमलनाथ सरकार को जबलपुर हाईकोर्ट से तगड़ा झटका, ओबीसी को 27 फीसदी आरक्षण देने पर लगाई रोक। टिकट को लेकर भाजपा में मचा घमासान, दावेदारों ने प्रदेश कार्यालय के सामने की नारेबाजी।
Monday 13th of August 2018 | इनामी डकैत पंजाबी बाबा हुआ गिरफ्तार

पचास हजार रुपये का इनामी डकैत पंजाबी बाबा हुआ गिरफ्तार, बाबली कोल गिरोह में करता था काम


विंध्यक्षेत्र में सक्रिया डकौतों के गिरोह से पुलिस ने बाबली कोल गिरोह के डकैत जंगली उर्फ पंजाबी बाबा को पकड़ने में सफलता हासिल की है. हालांकि पुलिस ने साढ़े पांच लाख के इनामी डकैती बाबली कोल की तलाश में घेराबंदी की थी, लेकिन मुठभेड़ के दौरान बाबली कोल और बाक़ी सदस्य तो भाग निकले लेकिन पंजाबी बाबा गिरफ्त में आ गया. चित्रकूट पुलिस ने जंगल में मुठभेड़ के बाद उसे पकड़ा है. बताया जा रहा है कि पंजाबी बाबा, बाबली कोल गिरोह का सदस्य है, उसकी गिरफ़्तारी पर 50 हज़ार का इनाम था. मुठभेड़ की जानकारी लगते ही सतना एसपी भी बल के साथ जंगल की ओर रवाना हो गए. आशंका है कि मुठभेड़ के बाद बाबली कोल गिरोह विंध्य के सरहदी गांवों में पनाह ले सकता है. पुलिस ने बाबली कोल को पकड़ने के लिए भारी फोर्स के साथ जंगल की घेराबंदी शुरू कर दी है.

जानकारी के अनुसार, मध्यप्रदेश की सीमा से सटा उत्तर प्रदेश के कल्याणपुर-करौंहा के जंगल में उत्तर प्रदेश की चित्रकूट पुलिस ने साढ़े पांच लाख के इनामी डकैती बाबली कोल की तलाश में घेराबंदी की थी. इस दौरान दोनों तरफ से जमकर मुठभेड़ हुई. दोनों तरफ से चली फायरिंग देर रात तक होती रही. इस मुठभेड़ में उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में आतंक का पर्याय बना पांच लाख रुपये का इनामी डकैत बाबली कोल तो बच निकला.

इस दौरान 50 हजार रुपये के इनामी जंगलिया उर्फ पंजाबी को पुलिस ने दबोच लिया. उसके कब्जे से 315 बोर की रायफल और बड़ी संख्या में कारतूस बरामद हुए हैं. पंजाबी बाबा उ.प्र. के मानिकपुर के नागर गांव का रहने वाला है, इसके खिलाफ मानिकपुर, बहिलपुरवा और मारकुंडी थाने में एक दर्जन संगीन मामले दर्ज हैं. मुठभेड़ की जानकारी लगते ही सतना एसपी भी बल के साथ जंगल की ओर रवाना हो गए. एसपी ने भी थाना प्रभारियों के साथ जंगल की क़म्बिंग की. आशंका है कि मुठभेड़ के बाद बाबली कोल गिरोह म.प्र. के सरहदी गांवों में पनाह ले सकता है. दोनों राज्यो की पुलिस सर्चिंग कर रही है और दोनों राज्यों में अलर्ट जारी कर दिया गया है.

पुलिस के मुताबिक पकड़े गए डाकू जंगलिया उर्फ पंजाबी के खिलाफ उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश पुलिस में कई मुकदमे दर्ज हैं. पुलिस उससे पूछताछ कर रही है. पंजाबी के पकड़े जाने से गिरोह को खत्म करने की दिशा में कुछ महत्वपूर्ण सुराग हाथ लगने की उम्मीद है.


कमिश्नर ने अधिकारियों से ली स्थितियों की जानकारी, दिए सुधार के आवश्यक दिशा न

संयुक्त वनमंडलाधिकारी के घर की छापेमारी, ढाई करोड़ की संपत्ति की गई जब्त


 VT PADTAL