VT Update
मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए आप लगातार विंध्य 24 से जुड़े रहे हम आपको ताजा अपडेट देते रहेगें अभी प्रत्येक विधानसभाओं में मतगणना आरंभ हुई हैं तथा बैलेट पेपर की गिनती शुरु हो चुकी है MP चुनावः शिवराज सिंह चौहान बोले-कांग्रेस के सहयोगी हताश हैं विजय माल्या केस की सुनवाई के सिलसिले में CBI और ED के ऑफिसर लंदन रवाना J-K: किश्तवाड़ पुलिस ने आतंकी रियाज अहमद को गिरफ्तार किया विजय माल्या केस की सुनवाई के सिलसिले में CBI और ED के ऑफिसर लंदन रवाना
Thursday 28th of September 2017 | कन्फ्यूजन की स्थिति में सरकार

कन्फ्यूजन की स्थिति में सरकार, गलत समय में लिए कई गलत फैसले: यशवंत सिन्हा


नईदिल्ली। अटल बिहारी बाजपेयी सरकरा में वित्त मंत्री रहे और मोदी सरकरा की आर्थिक नीतियों पर सवाल उठाने वाले लेख को लिखने के बाद यशवंत सिन्हा पहली बार मीडिया के सामने आकर बात कि । उन्होंने कहा कि सरकार ने कई बड़े फैसले लिए हैं लेकिन हम जानते हैं कि भारत की अर्थव्यवस्था में गिरावट आ रही है। सिन्हा ने कहा, 'जीएसटी को जल्दबाजी में लागू किया गया। जब अर्थव्यवस्था चरमराई हुई थी तो नोटबंदी नहीं लानी चाहिए थी। इसके बाद तुरंत जीएसटी लागू करने से बड़ा झटका लगा। मैं भाजपा में जीएसटी का सबसे बड़ा पक्षधर रहा हूं, मैं  उस समय उस कमेटी में था जब गुजरात सरकार के विरोध के बावजूद मैंने जीएसटी के काम को आगे बढ़ाया था' । इसके साथ ही यशवंत सिन्हा ने कहा कि बैंक बुरी तरह से फंसे हुए हैं जिस कारण बैंक ने कर्ज देना बंद कर दिया है, अर्थव्यवस्था धीमी हुई है । फिर नोटबंदी कर जीएसटी लागू कर दी गई जिसके बाद स्थिति बिगड़ गई है। 'उन्होंने कहा कि 8 लाख करोड़ रुपए का पैसा एनपीए में फंसा हुआ है। देश की अर्थव्यवस्था में गिरावट हुई है। मुझे लगा कि बात को सामने रखना चाहिए।
इसके साथ ही पूर्व वित्त मंत्री रह चुके यशवंत सिन्हा ने कहा कि ' सरकरा बिलकुल कन्फ्यूज है उसे समझ में नहीं आ रहा है कि क्या करना चाहिए, सरकरा को जन कल्याणकारी योजनाओं की घोषणा करने के अलवा उससे बाहर निकलकर और भी कई सुधारों की ओर ध्यान देना चाहिए' । यशवंत सिन्हा ने बताया कि सबसे पहले बैंकों की हालत सुधारनी चाहिए। और बैंक के बैंकों के एनसीए को लेकर कोई बड़ा फैसला लेना होगा। क्यूंकि जब तक अर्थव्यवस्था में गति नहीं आएगी तब तक रोजगार नहीं बढ़ सकता।   


 


जिस पत्रकारिता का कभी स्वर्णिम युग ना था , उसमे स्वर्णिम व्यक्तित्व की तरह उ

अटल जी के निधन से आहत हुआ देश !


 VT PADTAL