VT Update
विन्ध्य में उद्योगों को लगेंगे पंख , मर्जी के मुताबिक उद्योगपतियों को मिलेगी जमीन , लैंड बैंक और लैंड पूल स्कीम से विन्ध्य में विकसित होगा उद्योग खोले गए लबालब बाणसागर के 10 गेट , रीवा, सतना, सीढ़ी, सिंगरौली, और शहडोल में अलर्ट घोषित आर्थिक मंदी के खिलाफ कांग्रेस मध्यप्रदेश समेत पुरे देश में छेड़ेगी आन्दोलन , दिल्ली में हुई पार्टी पदाधिकारियों की बैठक में सोनिया गाँधी ने दी जानकारी धुंधली होने लगी है विक्रम लैंडर से संपर्क की उम्मीद, लैंडर को नुक्सान पहुचने की आशंका बढ़ी यौन उत्पीड़न मामले में एसआईटी ने भाजपा नेता चिन्मयानंद से 7 घंटे की पूछताछ, चिन्मयानंद के आवास पर उनके बेडरूम की गई तलाशी
Saturday 1st of September 2018 | महाकुंभ सम्मेलन से होगा भाजपा का चुनावी शंखनाद

महाकुंभ सम्मेलन से होगा भाजपा का चुनावी शंखनाद, पीएम मोदी होगें शामिल


पंडित दीनदयाल उपाध्याय की 102वीं जयंती के मौके पर 25 सितम्बर को भोपाल में होने वाले भाजपा कार्यकर्ताओं के प्रदेशस्तरीय सम्मेलन ‘महाकुंभ’ में पीएम मोदी भी शामिल होने वाले है. वे यही से मप्र का चुनावी शंखनाद करेंगें. इस कुंभ के जरिए मोदी 2018-2019 की सियासी जंग को फतह करने की रणनीति पर फोकस किए हुए है. बताया जा रहा है कि यह अब तक का सबसे बड़ा भाजपा का प्रदेश में होने वाला आयोजन होगा, इसमें 10 लाख कार्यकर्ताओं को जुटाने का लक्ष्य रखा गया है. इस महाकुंभ में पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के साथ-साथ भाजपा के कई दिग्गज नेता भी मौजूद रहेंगे. वे कार्यकर्ताओं को चुनाव जीतने का मूलमंत्र देंगें.  कार्यक्रम का आयोजन राजधानी के जंबूरी मैदान में किया जाएगा. इसके पहले मुख्यमंत्री शिवराज जन्माष्टमी पर इसका भूमि पूजन करने वहां जाएंगें.

कार्यकर्ता महाकुंभ में प्रदेश के सभी मतदान केंद्रों से पार्टी की टोली और इससे ऊपर के सभी पदाधिकारी बुलाए गए हैं आयोजन की तैयारियां अभी से शुरु हो गई है, सुरक्षा को ध्यान रखते हुए पुलिसकर्मियों को खास निर्देश दिए जा रहे वही पार्टी द्वारा ऑनलाइन और ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन के ज़रिए कार्यकर्ताओं को न्यौता भेजा जा रहा है.

इसके अलावा इस महाकुम्भ के लिए अलग से नया गीत भी तैयार किया जा रहा है. आयोजन के लिए कई कमिटियों का गठन भी किया जा रहा है. इसी महाकुम्भ से बीजेपी चुनाव का शंखनाद करेगी. भाजपा चौथी बार भी शिवराज के नेतृत्व में मध्य प्रदेश में सरकार बनाने का दावा कर रही है. भाजपा का कहना है कि जनआशीर्वाद यात्रा से सरकार को जनता का भारी समर्थन मिल रहा है, इस बार बीजेपी 2013 के विधानसभा चुनाव से भी ज्यादा सीटें हासिल कर प्रदेश में अपनी सरकार बनायेगी.

वहीं भाजपा की अंदरूनी राजनीति में बदलाव के साथ जब पार्टी का फोकस पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेई पर बना हुआ है ऐसे में मोदी-शाह और शिवराज की तिकड़ी केंद्र और राज्य सरकार की उपलब्धियों के नाम पर चुनाव का एजेंडा सेट कर सकती है. फिलहाल शिवराज सिंह चौहान की कोशिश है कि जन आशीर्वाद यात्रा के साथ वो मध्यप्रदेश के सभी 230 विधानसभा क्षेत्रों में अपनी प्रभावी धमाकेदार मौजूदगी दर्ज कराएं , जिसका फायदा उन्हें आने वाले विधानसभा चुनाव में मिल सके.


जम्मू-कश्मीर में हालात हुए सामान्य, सभी 10 जिलों में शुरू हुई नेट सेवाएं, प्र

कांग्रेस के कलह में हुई कैलाश की एंट्री, सिंघार को बताया साहसी


 VT PADTAL


 Rewa

रीवा के चोरहटा में बाइक सवार की हत्या, गड़ासे से काट कर उतारा मौत के घाट
Tuesday 17th of September 2019
खड्डा गांव के आदिवासी निवासियों ने कलेक्ट्रेट के सामने दिया धरना, कलेक्टर को संबोधित ज्ञापन संयुक्त कलेक्टर को सौंपा
Tuesday 17th of September 2019
बीएसएनएल के नॅान एग्जक्यूटिव कर्मचारी संगठनों को मान्यता देने डाले गए वोट, 18 सितम्बर को होगी गिनती
Tuesday 17th of September 2019
अवधेश प्रताप सिंह विश्वविद्यालय में आयोजित हुई कुशाभाऊ ठाकरे के स्मृति में व्याख्यानमाला, प्रदेश राज्यपाल लालजी टंडन ने किया संबोधित
Tuesday 17th of September 2019
शासकीय पूर्व माध्यमिक विद्यालय रीठी में सुविधा की कमी
Sunday 15th of September 2019
कानून व्यवस्था सुधारने में जुटा प्रशासन
Sunday 15th of September 2019