VT Update
वाराणसीः CM योगी ने चंद्रशेखर आजाद की प्रतिमा का अनावरण किया छत्तीसगढ़ः दंतेवाड़ा में IED विस्फोट में पांच जवान शहीद, 2 घायल रेलवे मैदान में होगा सद्भावना सम्मेलन, सतपाल जी महराज देगें उद्वबोधन रीवा व्यंकट भवन में विश्व संग्रहालय दिवस के उपलक्ष्य में लगाई गई प्रदर्शनी एमपी बोर्ड 10वीं और 12वीं रिजल्ट घोषित, मेरिट में छात्राओं का रहा दबदबा
आत्मघाती हमला

संगीत समारोह में अंधाधुंध फायरिंग, FBI ने कहा गैर आतंकी हमला


लास वेगास। सोमवार को अमेरीका के साल वेगास शहर में एक संगीत समारोह में हुई फायरिंग में मरने वालों की संख्या 50 से ज्याद हो चुकी है। अमेरिका के इतिहास में गोलीबारी की ये घटना सब से ज्याद डरावनी हो जो की लोगों को आने वाले कई दिनों तक सताएगी। फिलहाल घटना के बाद से  अमरीकी पुलिस ये पता लगाने की कोशिश कर रही है कि लास वेगास में गोलीबारी करने वाला शख्स आख़िर चाहता क्या था। इस गोलीबारी में 59 लोग मारे गए और 527 लोग घायल हुए हैं। पुलिस ने हमलावर स्टीफ़न पैडक के होटल के कमरे में 16 बंदूकें बरामद की हैं। इसके अलावा नेवाद स्थित स्टीफ़न के घर से 18 हथियार और विस्फोटक बरामद किए गए हैं। लेकिन अभी तक इस नरसंहार के कारणों का कुछ पता नहीं लग पाया है। जांच एजेंसियों को हमलावर शख्स के किसी विदेशी चरमपंथी संगठन से कोई लिंक का पता नहीं चल पाया है। कुछ जांचकर्ताओं ने हमलावर की मानसिक स्थिति पर भी सवाल उठाया है लेकिन अभी तक इसकी भी पुष्टि नहीं हो सकी है। इस बीच, कंसर्ट में गोलीबारी करने वाले शख्‍स के बारे में अधिकारियों ने बड़ा खुलासा किया है। अधिकारियों का कहना है कि फायरिंग करने वाले व्‍यक्ति के पास ‘बम्प स्टॉक’ नाम के ऐसे दो उपकरण थे जो सेमी-ऑटोमेटिक हथियारों को पूरी तरह ऑटोमेटिक हथियार में बदल सकते थे। बंदूकधारी ने लास वेगास में एक संगीत कंसर्ट में हजारों लोगों पर अंधाधुंध गोलियां चलाई थीं। गौरतलब है कि इस तरह के उपकरणों को बीते कुछ वर्षों में अधिकारियों की जांच से गुजरना पड़ा है।


आतंकवाद पर डोनाल्ड ट्रंप ने की घोषणा

भारत के दलवीर भंडारी बने अंतरराष्ट्रीय अदालत में जज


 VT PADTAL