VT Update
शहर के टीआरएस कॉलेज में शुरू हुआ राष्ट्रिय सांस्कृतिक महोत्सव , हस्तशिल्प, शिल्पकला काष्ठ और स्वादिस्ट व्यंजनों का होगा संगम शाजापुर में स्कूल वैन कुएं में गिरने से हुई 3 बच्चों की मौत , 19 को निकाला गया बाहर , तेजरफ़्तार के कारण कंट्रोल से बहार हुई वैन मनमानी फीस पर लगाम लगाने सरकार ने की तैयारी, अब कॉलेज नहीं तय कर सकेगा मेडिकल- इंजीनिरिंग की फीस , 2020-21 में बदलेगा नियम मैग्निफिसेंट समिट में शामिल हुए उद्योगपतियों ने की मुख्यमंत्री कमलनाथ की सराहना , मुकेश अंबानी ने बताया मध्यप्रदेश में 45 जगह पर बनाये जायेगे लॉजिस्टिक सेंटर मैग्निफिसेंट एमपी में सीएम कमलनाथ ने की बड़ी घोषणा , 70% रोजगार प्रदेशवासियों को देने के लिए लायेगे कानून, छोटे शहरों में भी शुरू हो सकेगा उद्योग
Wednesday 4th of October 2017 | BJP की जनसुरक्षा यात्रा

अमित शाह के बाद अब मैदान पर योगी, केरल सरकार पर साधा निशाना


कन्नूर(केरल)। केरल में बीजेपी-आरएसएस के कार्यकर्ताओं की हत्या के खिलाफ बीजेपी की जनसुरक्षा यात्रा में बुधवार को यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी हिस्सा लिया। बता दें कि योगी इस जनसुरक्षा यात्र में करीब 10 किमी. तक पदयात्रा करेंगे पहले दिन बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने भी 10 किमी. की पदयात्रा की थी। यात्रा शुरू करते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बीजेपी में राजनीतिक हत्याओं के खिलाफ हमारी यात्रा है। बीजेपी और संघ के कार्यकर्ताओं की हत्या के खिलाफ लोगों को जागरुक करने का काम हम काम करेंगे। कम्युनिस्ट केरल सरकार में अपने विचारधारा के विरोध करने वालों की हत्या कर रही है।
गौरतलब है कि केरल में वामपंथी हिंसा के विरोध में अमित शाह ने मंगलवार को जनरक्षा यात्रा का आगाज किया था। आज योगी भी इस यात्रा में शामिल हुए और जोर देते हुए कहा कि यह रैली केरल, पश्चिम बंगाल व त्रिपुरा की सरकारों के लिए एक आईना है जो लोकतंत्र की बात करते हैं मगर हिंसा में यकीन रखते हैं। योगी ने कहा कि लोकतंत्र में हिंसा के लिए कोई जगह है ही नहीं। इससे पहले हिंसा के विरोध में जनरक्षा यात्रा का आगाज करते हुए मंगलवार को अमित शाह ने कहा था कि लाल आतंक के खात्मे तक भाजपा का संघर्ष जारी रहेगा। 15 दिन तक चलने वाली इस यात्रा का नेतृत्व करते हुए पहले दिन अमित शाह खुद नौ किलोमीटर की पदयात्रा की।
केरल में भाजपा की राजनीतिक महत्वाकांक्षा को देखते हुए इस यात्रा को अहम माना जा रहा है। यात्रा में शामिल एक वरिष्ठ नेता ने अगले लोकसभा चुनाव में केरल में 8-10 सीटें जीतने का दावा भी कर दिया। यात्रा की शुरुआत केरल के पेयनूर से अमित शाह ने कि थी जहां उन्होने केरल के मुख्यमंत्री पी. विजयन को सीधे तौर पर चुनौती भी दी थी। पेयनूर विजयन का गृह क्षेत्र है और केरल में माकपा का सबसे मजबूत गढ़ माना जाता है। शायद यही कारण है कि माकपा यहां भाजपा और संघ परिवार को रोकने का सबसे अधिक प्रयास कर रही है।


विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी भाजपा, तोमर, जावेड़कर, पुरी को सौंपी अहम

मोदी सरकार के समर्थन में आए कई कांग्रेसी दिग्गज, नाराज कांग्रेस ने बुलाई बैठ


 VT PADTAL