VT Update
शहर के टीआरएस कॉलेज में शुरू हुआ राष्ट्रिय सांस्कृतिक महोत्सव , हस्तशिल्प, शिल्पकला काष्ठ और स्वादिस्ट व्यंजनों का होगा संगम शाजापुर में स्कूल वैन कुएं में गिरने से हुई 3 बच्चों की मौत , 19 को निकाला गया बाहर , तेजरफ़्तार के कारण कंट्रोल से बहार हुई वैन मनमानी फीस पर लगाम लगाने सरकार ने की तैयारी, अब कॉलेज नहीं तय कर सकेगा मेडिकल- इंजीनिरिंग की फीस , 2020-21 में बदलेगा नियम मैग्निफिसेंट समिट में शामिल हुए उद्योगपतियों ने की मुख्यमंत्री कमलनाथ की सराहना , मुकेश अंबानी ने बताया मध्यप्रदेश में 45 जगह पर बनाये जायेगे लॉजिस्टिक सेंटर मैग्निफिसेंट एमपी में सीएम कमलनाथ ने की बड़ी घोषणा , 70% रोजगार प्रदेशवासियों को देने के लिए लायेगे कानून, छोटे शहरों में भी शुरू हो सकेगा उद्योग
Thursday 1st of November 2018 | टिकट को लेकर गौर ने दिया बयान !

मध्यप्रदेश में नही है मोदी लहर : बाबूलाल गौर


मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता बाबूलाल गौर ने चुनाव से पहले एक बार फिर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि इस बार 2013 जैसी मोदी लहर नहीं है। केंंद्रीय मंत्री की छवि उनके कार्यकाल के दौरान साफ रही है। किसी तरह के भ्रष्टाचार के आरोप नहीं लगे हैं, लेकिन जिस तरह की 2013 में माहौल था अब वैसी हवा नहीं है।

गौर ने कहा कि इस बार मध्यप्रदेश में भाजपा अच्छे प्रत्याशियों को टिकट देगी और चौथी बार फिर सरकार बनाएगी। उन्होंने अपनी दावेदारी पर भी बड़ा बयान दिया। उन्होंने कहा कि गोविंदपुरी सीट से कृष्णा गौर को टिकट मिलने की उम्मीद है। पार्टी सर्वे रिपोर्ट के आधार पर ही फैसला ले रही है। अगर मुझे इस बार टिकट नहीं मिलता है तो मैं पार्टी के लिए काम करूंगा। साथ ही अन्य प्रत्याशियों के लिए प्रचार भी करूंगा।

गौरतलब है कि गौर लगातर अपनी ही पार्टी के विरोध में कई बार बयान बाजी करते रहे हैं। विधानसभा सत्र रहा हो या फिर मंत्रियों के बाहरी कामकाज, वह लगातार हमले और आलोचना करते रहे। पार्टी ने 70 पार फॉर्मूले के तहत उन्हें मंत्री पद से हटा दिया था। और अब ऐसे संकेत भी मिले हैं कि पार्टी उनका टिकट काट सकती है। इससे पहले भी उन्होंने एक बयान में कहा था कि इस बार मोदी लहर नहीं है। भले गौर पार्टी को जीत दिलाने की बात कह रहे हों लेकिन उनका यह बयान पार्टी की लाइन से हट कर है। इससे प्रदेश की जनता को यही संदेश जा रहा है कि एमपी में बीजेपी मोदी लहर के बिना सरकार बनाने में परेशान हो सकती है। 25 सितंबर को हुए बीजेपी कार्यकर्ता महाकुंभ में पीएम मोदी ने स्वयं गौर से कहा था कि एक बार और. जिसके बाद इस बात के कयास लगाए जा रहे थे कि गौर का टिकट पक्का है।

 


अब तहसीलदारों और नायब तहसीलदारों ने सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा

विश्व हिंदू परिषद के सहमंत्री युवराज सिंह चौहान की हत्या, अज्ञात लोगो ने मार


 VT PADTAL