VT Update
विंध्य के सबसे बड़े अस्पताल संजय गांधी की सुरक्षा व्यवस्था पर उठे सवाल, अस्पताल के पार्किंग से चोरी हुई बोलेरो वाहन रीवा मेडिकल कॉलेज में लगेगा रूफटाफ का प्रदेश का सबसे बड़ा सोलर प्रोजेक्ट मतदाता जागरूकता के लिए रवाना हुई बुलेट रैली, कलेक्टर प्रीति मैथिल ने दिखाई हरी झंडी मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले में घटिया पुल निर्माण पर गिरी गाज, पीडब्लयूडी के चार अफसर सस्पेंड रीवा सहित प्रदेश भर में हर्षोल्लास के साथ मनायी गई कृष्ण जन्माष्टमी, शिल्पी प्लाजा में हुआ मटकी फोड़ने का भव्य आयोजन
Friday 6th of October 2017 | रोहिंग्या मुसलमान

शांतिपूर्ण तरीके से हल होगा रोहिंग्या मुसलमानों का मुद्दा: बांग्लादेश


नई दिल्ली। बांग्लादेश के प्राकृतिक आपदा मंत्री मोफज्जल हुसैन चौधरी रजा का कहना है कि कुटुपालंग में शरणार्थियों के रहने का इंतजाम किया जा रहा है। उनका कहना है कि म्यामांर में हिंसा के बाद बड़ी संख्या में लोग बांग्लादेश में आ रहे हैं। संयुक्त राष्ट्र के अवर सचिव मार्क लोकॉक ने बताया कि शरणार्थियों की सहायता के लिए 43 करोड़ डॉलर की रकम जुटाने की कोशिश शुरू कर दी है। कॉक्स बाजार जिले में दो हजार एकड़ जमीन रोहिंग्या शरणार्थियों के लिए आवंटित की गई थी लेकिन फिलहाल वो जगह कम पड़ रही है। बांग्लादेश ने कहा है कि म्यांमार ने रोहिंग्या समुदाय के दस लाख लोगों को उसकी भूमि में धकेला है और वह ‘उकसावे’ के बावजूद शांतिपूर्ण तरीके से मुद्दे के हल के लिए प्रयास करेगा।
बांग्लादेश के विदेश सचिव शाहिद उल हक ने भारतीय आर्थिक सम्मेलन (आईईएस) में हिस्सा लेने के दौरान कहा, ‘‘ हाल में म्यांमार ने दस लाख रोहिंग्या को जो उनके खुद के नागरिक हैं, हमारी भूमि में धकेल दिया। हम अब भी संघर्ष कर रहे हैं। हम उकसावों के बावजूद उनके साथ लड़ाई में नहीं आए.’’ उन्होंने कहा, ‘‘ हम इसको शांतिपूर्ण तरीके से हल करने की कोशिश कर रहे हैं। प्रधानमंत्री शेख हसीना सोचती हैं कि यह कुछ ऐसा है जिसे हम शांतिपूर्ण तरीके से हल कर सकते है। ’’ बता दे कि बौद्ध बहुल म्यांमार में जातीय हिंसा के बाद बड़ी संख्या में रोहिंग्या बांग्लादेश पहुंचे हैं। भारत ने पिछले महीने बांग्लादेश राहत सामग्री पहुंचाई थी और मानवीय संकट से निपटने में ढाका की मदद का वादा किया था। 


आतंकवाद पर डोनाल्ड ट्रंप ने की घोषणा

भारत के दलवीर भंडारी बने अंतरराष्ट्रीय अदालत में जज


 VT PADTAL