VT Update
संजय गांधी अस्पताल में 15 दिनों से बुखार की दवाई का स्टॉक खत्म,कारपोरेशन को आर्डर के बावजूद नहीं हो सकी सप्लाई,7 हजार टेबलेट की होती है प्रतिदिन खपत संजय गांधी अस्पताल में 15 दिनों से बुखार की दवाई का स्टॉक खत्म,कारपोरेशन को आर्डर के बावजूद नहीं हो सकी सप्लाई,7 हजार टेबलेट की होती है प्रतिदिन खपत गोटेगांव गोलीकांड में पुलिस रिमांड पर केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल का बेटा,बांकी आरोपियों को भेजा गया जेल,अन्य फरार आरोपियों की पुलिस कर रही तलाश कैबिनेट बैठक में सिंधिया समर्थक मंत्रियों की मुख्यमंत्री कमलनाथ से बहस,मंत्री प्रद्दुम्न सिंह ने कहा ऐसे नही चलेगा सीएम साहब,कमलनाथ ने कहा मुझे पता है किसके इसारे पर ये सब कह रहे हो कमलनाथ कैबिनेट के बड़ा फैसला,प्रदेश में रियल एस्टेट को बढ़ावा देने कलेक्टर गाइड लाइन दर में 20प्रतिशत की होगी कमी,स्टाम्प ड्यूटी को भी किया गया कम,बैठक में लिए गए कई महत्वपूर्ण निर्णय
Wednesday 14th of November 2018 | गुजरात दंगा:19 को सुनवाई

गुजरात दंगा को लेकर पीएम मोदी के खिलाफ 19 नवंबर को होगी सुनवाई :सुप्रीमकोर्ट


नई दिल्‍ली : सुप्रीम कोर्ट गुजरात दंगों की जांच में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को क्‍लीनचिट मिलने के खिलाफ दायर याचिका पर सुनवाई को राजी हो गया है. सुप्रीम कोर्ट में यह याचिका 2002 में गुजरात दंगों में मारे गए कांग्रेस के सांसद एहसान जाफरी की पत्‍नी जाकिया जाफरी ने दायर की है. सुप्रीम कोर्ट इस मामले पर 19 नवंबर को सुनवाई करेगा. बता दें कि गुजरात दंगों के मामले की जांच कर रही एसआईटी ने पीएम मोदी को क्‍लीनचिट दी थी.

बता दें कि गुजरात हाईकोर्ट ने 2002 के दंगों के मामले में राज्य के तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी और अन्य को निचली अदालत द्वारा क्लीन चिट दिए जाने को चुनौती देने वाली दिवंगत कांग्रेस नेता एहसान जाफरी की पत्नी जाकिया जाफरी की याचिका को 2017 में खारिज कर दिया था.

निचली अदालत ने 2013 में इस केस में गुजरात के तत्‍कालीन मुख्‍यमंत्री नरेंद्र मोदी समेत 56 लोगों को क्लीन चिट दे दी थी. जाकिया जाफरी ने निचली अदालत के फैसले को हाईकोर्ट में चुनौती दी थी. याचिका में जाकिया ने आरोप लगाया था कि इन दंगों के पीछे बड़ी आपराधिक साजिश रची गई थी.

जाकिया कांग्रेस के पूर्व सांसद एहसान जाफरी की पत्नी हैं. 2002 के गुजरात दंगों के दौरान एहसान की मौत हो गई थी. एसआईटी ने जाकिया की शिकायत पर अदालत को बंद लिफाफे में अंतिम रिपोर्ट सौंपी थी. जाकिया की शिकायत में 2002 के दंगों में गुजरात के तत्‍कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी, अन्य शीर्ष नेताओं, पुलिस अधिकारियों और नौकरशाहों के संलिप्त होने का आरोप लगाया गया था. जाकिया के वकीलों ने दलील दी थी कि रिपोर्ट को खोलने के अनुरोध का विरोध करने का एसआईटी को कोई अधिकार नहीं है क्योंकि अदालत को सौंपे जाने के बाद यह रिपोर्ट एक सरकारी दस्तावेज बन गया है.


1 जून से लगातार हो रही है पेट्रोल और डीज़ल के दामों में गिरावट, अंतर्राष्ट्रीय

मौसम विभाग ने MP में जारी किया रेड अलर्ट, 2 दिन तक नहीं मिलेगी गर्मी और तपन से रा


 VT PADTAL


 Rewa

छात्र संघ अध्यक्ष ने गृह मंत्री बाला बच्चन को सौंपा ज्ञापन, कॉलेज में सुरक्षा बल व पुलिस चौकी की मांग
Thursday 20th of June 2019
आज रीवा आयेंगे मध्य प्रदेश के गृहमंत्री बाला बच्चन, विभागीय अधिकारीयों से करेंगे मीटिंग
Thursday 20th of June 2019
रीवा पुलिस द्वारा किया गया रामसुमिरन हत्या केस का खुलासा, हत्या की वजह मृतक की पत्नी के अवैध संबंध
Thursday 20th of June 2019
जमीन पर बैठ कर की टीएल बैठकर, जिले के सभी अधिकारी एवं कर्मचारी रहे मौजूद  
Wednesday 19th of June 2019
नाबालिक लड़की के अपहरण को लेकर परिजनों द्वारा आरोपी पर की गयी कार्यवाही की मांग
Wednesday 19th of June 2019
रीवा कलेक्टर के निर्देश पर ओवरलोड ट्रकों पर की गयी कार्यवाही, अमले से भिड़े ट्रक मालिक
Wednesday 19th of June 2019