VT Update
ओंकारेश्वर बांध विस्थापितों को मिली सुप्रीम कोर्ट से राहत, कोर्ट ने सरकार को दिया आदेश विस्थापितों को उपलब्ध कराएं बेहतर भूमि। प्रदेश के भिंड में चार लोगों की हत्या करने वाले आरोपी को कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा। शहडोल उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी रही हिमाद्री सिंह ने आज कांग्रेस का हाथ छोड़ थामा भाजपा का दामन कमलनाथ सरकार को जबलपुर हाईकोर्ट से तगड़ा झटका, ओबीसी को 27 फीसदी आरक्षण देने पर लगाई रोक। टिकट को लेकर भाजपा में मचा घमासान, दावेदारों ने प्रदेश कार्यालय के सामने की नारेबाजी।
Friday 28th of December 2018 | अंधविश्वास के चक्कर में मां ने उठाया हैरतअंगेज कदम

छह अंगुलियों के साथ पैदा हुई बेटी, अशुभ होने के चक्कर में मां ने काट दी अंगुलियां


मध्य प्रदेश के खंडवा के आदिवासी इलाके के खालवा के ग्राम सुंदरदेव में अंधविश्वास के झांसे में आकर एक मां ने अपनी नवजात बेटी की उंगलियां काट दी। जिससे संक्रमण फैलने से नवजात 6 घंटे बाद ही जिंदगी की जंग हार गई। घटना की जानकारी स्वास्थ्य विभाग को दो दिन बाद मिली तो उनके होश उड़ गए। जिसके बाद महिला के घर पहुंचकर तत्काल बीएमओ ने पंचनामा किया और जिम्मेदार कर्मचारियों को नोटिस थमा दिया।  जानकारी के मुताबिक सुंदरदेव गांव के रहने वाले रामदेव की पत्नी ने शनिवार रात बेटी को जन्म दिया। नवजात बेटी के हाथ व पैरों में छह.छह अंगुलियां थी। यह देख उसकी मां को किसी ने अशुभ होने का शक जाहिर किया। अंधविश्वास के अंधकार में डूबी मां इस कदर घबरा गई कि उसने दराती से बच्ची की एक.एक अंगुली काट कर अलग कर दिया।

6 घंटे बाद हुई बच्ची की मौत : घटना के 6 घंटे बीते थे कि बच्ची के घावों पर इंफेक्शन हो गया। जिसके बाद सोमवार को बच्ची ने दम तोड़ दिया। मौत की खबर गांव में आग की तरह फैली और स्वास्थ विभाग तक पहुंची। जिसके बाद स्वास्थ अमला हरकत में आ गया। जिसमें बीएमओ मौके पर सुंदरदेव पहुंचकर रामदेव की पत्नी से बात की तो उसने छठी अंगुली को अशुभ बताते हुए अंगुली काटने की घटना को स्वीकार किया। इस मामले में बीएमओ ने घटना के लिए जिम्मेदार मानते हुए सुपरवाइजर, एएनएम, आशा कार्यकर्ता व सहयोगिनी को नोटिस जारी किया है। बताया जा रहा है कि खालवा ब्लाक के जिस गांव में यह घटना हुई वह इलाका आदिवासी है। यहां लोग जंगल में बसे हैं। वहां तक प्रशासन को पहुंचने में दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। चर्चा है कि आदिवासी अंधविश्वास को मानते हुए अस्पताल में प्रसव कराने से कतराते है जिसका नतीजा है कि एक मां ने अपनी बेटी की छठी अंगुलियों को काट दिया।


अपहरण की घटना से फिर दहला सतना, मासूम का अपहरण के बाद हत्या कर बोरे में भर कर न

​​​​​​​लगातार बढ़ रही अपहरण की घटनाओं के बाद एसपी को हटाने की मांग हुई तेज


 VT PADTAL