VT Update
गोपाल भार्गव बने नेता मप्र.विधानसभा नेता प्रतिपक्ष जेपी सीमेंट ने नहीं चुकाया 5० करोड़ रूपए टैक्स, जुलाई के बाद नहीं जमा किया टैक्स लूट से बचने पहले व्यापारी और फिर बदमाश गाड़ी सहित गिरे नदी में,गुढ़ थाने के बिछिया नदी में हुआ हादसा विधानसभा में हारे उम्मीदवारों को कमलनाथ का सहारा, कमलनाथ ने कहा हताश न हो लोकसभा की तैयारी में लगें मप्र में कांग्रेस सरकार फिर खोलेगी व्यापम की फाइल,गृह मंत्री बाला बच्चन ने कहा घोटाले से जुड़े लोग बक्शे नही जायेंगे
Thursday 3rd of January 2019 | मीसाबंदियों का पेंशन बंद किए जाने के बाद सियासत तेज

शरद यादव बोले- मीसा बंदियों का पेंशन न हो बंद, इसे पारदर्शी बनाए सरकार


मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इमरजेंसी के दौरान मीसा कानून के तहत जेल में बंद आंदोलनकारियों को बीजेपी सरकार द्वारा दी जा रही पेंशन को रोकने के मामले में बीजेपी के बाद अब कांग्रेस के सहयोगी शरद यादव ने भी विरोध जताया है। शरद यादव ने कहा है कि मीसा पेंशन बंद नहीं किया जाना चाहिए बल्कि सरकार को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि सही व्यक्तियों तक इसका लाभ पहुंचे। लोकतांत्रिक जनता दल के नेता शरद यादव ने कहा कि कमलनाथ सरकार को पूर्व की बीजेपी सरकार द्वारा दी जा रही मीसा पेंशन बंद नहीं करनी चाहिए। लेकिन सरकार को यह भी सुनिश्चित करना चाहिए कि इसका लाभ सही लोगों तक पहुंचे। शरद यादव ने कहा कि सरकार द्वारा लाभार्थियों की छानबीन करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि वे स्वयं इस दौरान 4 साल जेल में बंद रहे, लेकिन कभी भी पेंशन का दावा नहीं किया। मालूम हो कि  प्रदेश सरकार के फैसले के बाद सियासत गर्म हो गई है। वहीं, केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट करते हुए लिखा, इंदिरा गांधी के तीसरे बेटे ने उन लोगों की पेंशन बंद कर दी जिन्होंने आपातकाल के दौरान भारत के सबसे काले दिनों में लोकतांत्रिक मूल्यों की लड़ाई लड़ी थी। जबकि पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष व सांसद राकेश सिंह ने ट्वीट में लिखा कि आपातकाल के दौरान लोकतंत्र की रक्षा हेतु तत्कालीन अत्याचारी शासन के विरुद्ध आवाज उठाने वाले लोकतंत्र सेनानियों को मिलने वाली पेंशन पर रोक लगाकर मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार लोकतंत्र का अपमान कर रही है। इन सब के इतर कमलनाथ सरकार द्वारा मीसा बंदियों की पेंशन अस्थाई रूप से रोका गया है।


खड़गे की पीएम मोदी को चिट्ठी, कहा- सार्वजनिक करें कागजात

निर्दलीय उम्मीदवार ने लिया समर्थन वापस, संकट में कुमारस्वामी सरकार


 VT PADTAL