VT Update
इनामी डकैत बबुली कोल व लवलेस कोल के खात्मे के बाद साथियों में गैंग का सरदार बनने की लगी होड़, गैंग के अन्य साथी सदस्यों की तलाश में जुटी है पुलिस, डकैतों की तलाशी में आगे आई यूपी पुलिस। 94 वें जयंती पर याद किए गए विंध्य के सफेद शेर पूर्व विधानसभा अध्यक्ष स्वर्गीय श्रीयुत श्रीनिवास तिवारी, कृष्णा राजकपूर अॅाडिटोरियम में आयोजित किया गया विचारगोष्ठी कार्यक्रम। संत समागम में सीएम कमलनाथ का ऐलान, संतों की कुटिया, आश्रम, मंदिर और गौ शाला को पट्टा देने पर किया जाएगा विचार, बोले- धर्म के नाम पर हुए घोटालों की होगी जांच। मध्यप्रदेश में बाढ़ की त्रासदी से 50 हजार से अधिक लोग प्रभावित, अभी भी राहत शिविरों में रहने का मजबूर, सीएम नाथ बोले- बीजेपी राजनीति करना छोड़, केंद्र से मदद दिलाने में करे सहयोग। मध्यप्रदेश में बारिश की आफत, मंदसौर और नीमच में तबाही के बाद चंबल में बाढ़ का कहर, 150 से ज्यादा गांव घिरे, डेढ़ हजार से अधिक लोगों को सेना ने सुरक्षित निकाला। मध्यप्रदेश में बारिश की आफत, मंदसौर और नीमच में तबाही के बाद चंबल में बाढ़ का कहर, 150 से ज्यादा गांव घिरे, डेढ़ हजार से अधिक लोगों को सेना ने सुरक्षित निकाला।
Thursday 3rd of January 2019 | मीसाबंदियों का पेंशन बंद किए जाने के बाद सियासत तेज

शरद यादव बोले- मीसा बंदियों का पेंशन न हो बंद, इसे पारदर्शी बनाए सरकार


मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इमरजेंसी के दौरान मीसा कानून के तहत जेल में बंद आंदोलनकारियों को बीजेपी सरकार द्वारा दी जा रही पेंशन को रोकने के मामले में बीजेपी के बाद अब कांग्रेस के सहयोगी शरद यादव ने भी विरोध जताया है। शरद यादव ने कहा है कि मीसा पेंशन बंद नहीं किया जाना चाहिए बल्कि सरकार को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि सही व्यक्तियों तक इसका लाभ पहुंचे। लोकतांत्रिक जनता दल के नेता शरद यादव ने कहा कि कमलनाथ सरकार को पूर्व की बीजेपी सरकार द्वारा दी जा रही मीसा पेंशन बंद नहीं करनी चाहिए। लेकिन सरकार को यह भी सुनिश्चित करना चाहिए कि इसका लाभ सही लोगों तक पहुंचे। शरद यादव ने कहा कि सरकार द्वारा लाभार्थियों की छानबीन करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि वे स्वयं इस दौरान 4 साल जेल में बंद रहे, लेकिन कभी भी पेंशन का दावा नहीं किया। मालूम हो कि  प्रदेश सरकार के फैसले के बाद सियासत गर्म हो गई है। वहीं, केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट करते हुए लिखा, इंदिरा गांधी के तीसरे बेटे ने उन लोगों की पेंशन बंद कर दी जिन्होंने आपातकाल के दौरान भारत के सबसे काले दिनों में लोकतांत्रिक मूल्यों की लड़ाई लड़ी थी। जबकि पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष व सांसद राकेश सिंह ने ट्वीट में लिखा कि आपातकाल के दौरान लोकतंत्र की रक्षा हेतु तत्कालीन अत्याचारी शासन के विरुद्ध आवाज उठाने वाले लोकतंत्र सेनानियों को मिलने वाली पेंशन पर रोक लगाकर मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार लोकतंत्र का अपमान कर रही है। इन सब के इतर कमलनाथ सरकार द्वारा मीसा बंदियों की पेंशन अस्थाई रूप से रोका गया है।


दिग्गी के भाई लक्ष्मण ने कांग्रेस दिग्गजों को बताया नकारा, चिदंबरम के वकील औ

आज जन्मेंगे यशोदा के लाल, घर-घर बजेगी बधैया


 VT PADTAL