VT Update
ओंकारेश्वर बांध विस्थापितों को मिली सुप्रीम कोर्ट से राहत, कोर्ट ने सरकार को दिया आदेश विस्थापितों को उपलब्ध कराएं बेहतर भूमि। प्रदेश के भिंड में चार लोगों की हत्या करने वाले आरोपी को कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा। शहडोल उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी रही हिमाद्री सिंह ने आज कांग्रेस का हाथ छोड़ थामा भाजपा का दामन कमलनाथ सरकार को जबलपुर हाईकोर्ट से तगड़ा झटका, ओबीसी को 27 फीसदी आरक्षण देने पर लगाई रोक। टिकट को लेकर भाजपा में मचा घमासान, दावेदारों ने प्रदेश कार्यालय के सामने की नारेबाजी।
Monday 7th of January 2019 | राहुल के आरोपों पर सीतारमण का पलटवार

कहा- मेरे बयान की एचएएल ने की है पुष्टि, सवाल खड़ा करना गलत और गुमराह करने वाली बात


राफेल मामले पर राहुल गांधी के आरोपों के बाद रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने जवाब देते हुए कहा कि उनके बयान की पुष्टि एचएल द्वारा की गई है। सदन में दिए गए बयान पर राहुल गांधी द्वारा सवाल खड़ा करना गलत और गुमराह करने वाली बात है। उन्होंने कहा कि हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड  के साथ 2014 से 2018 के दौरान 26 हजार करोड़ रुपए से अधिक के करार पर हस्ताक्षर किए हैं और 73 हजार करोड़ रुपए के ठेके पाइपलाइन में हैं। एचएएल के पास कुल एक लाख करोड़ रुपए के ठेके हैं। इसलिए लोकसभा में दिए उनके बयान पर संदेह करना गलत और गुमराह करने वाली बात है। आपको बता दें कि लोकसभा में शून्यकाल शुरू होने पर अपने बयान में निर्मला ने कहा कि उनके बयान की पुष्टि खुद एचएएल की ओर से की गई है। मंत्री ने कहा कि चार जनवरी को राफेल मामले पर चर्चा का जवाब देते हुए एचएएल को मिले कॉन्ट्रैक्ट के बारे में जो बात की थी, उसकी पुष्टि खुद एचएएल की तरफ से की गई है। इस पर विपक्षी सांसदों ने सदन में हंगामा किया। इस दौरान कांग्रेस के केसी वेणुगोपाल ने कहा कि हमने सदन को गुमराह करने को लेकर रक्षा मंत्री मंत्री के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का नोटिस दे रखा है। इस पर स्पीकर सुमित्रा महाजन ने कहा कि यह नोटिस उनके विचाराधीन है। गौरतलब है कि सीतारमण का यह बयान उस वक्त आया है जब कांग्रेस अध्यक्ष ने निर्मला सीतारमण पर आरोप लगाया है कि उन्होंने सदन में एचएएल पर झूठ बोला है।


Yamaha Fascino स्कूटर का डार्कनाइट एडिशन हुआ लॉन्च, जानिए क्या है कीमत

आयोग ने लोस चुनाव की तारिखों को किया ऐलान, सात चरणों में संपन्न होंगे चुनाव


 VT PADTAL