VT Update
गोपाल भार्गव बने नेता मप्र.विधानसभा नेता प्रतिपक्ष जेपी सीमेंट ने नहीं चुकाया 5० करोड़ रूपए टैक्स, जुलाई के बाद नहीं जमा किया टैक्स लूट से बचने पहले व्यापारी और फिर बदमाश गाड़ी सहित गिरे नदी में,गुढ़ थाने के बिछिया नदी में हुआ हादसा विधानसभा में हारे उम्मीदवारों को कमलनाथ का सहारा, कमलनाथ ने कहा हताश न हो लोकसभा की तैयारी में लगें मप्र में कांग्रेस सरकार फिर खोलेगी व्यापम की फाइल,गृह मंत्री बाला बच्चन ने कहा घोटाले से जुड़े लोग बक्शे नही जायेंगे
Monday 7th of January 2019 | विदेशी धरती पर भारतीय टीम का एक और इतिहास

आस्ट्रेलियाई सरजमी पर 72 साल बाद भारत ने रचा इतिहास, टेस्ट सीरीज की अपने नाम


भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सिडनी में खेले जा रहे टेस्ट सीरीज की चैथा व अंतिम मैच बारिश के कारण ड्रा हो गया। जिससे टीम इंडिया ने चार मैचों की यह टेस्ट सीरीज 2.1 से अपने नाम करते हुए सीरीज पर जीत लिया है। इसी के साथ ही भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलियाई धरती पर एक नया इतिहास रच दिया है। भारत 72 साल बाद कंगारुओं के घर में घुस कर उन्हें मात देने में कामयाब रहा। सिडनी टेस्ट में 193 रन बनाने वाले चेतेश्वर पुजारा मैन ऑफ द मैच चुना गया। जबकि उनके बेहतर प्रदर्शन के कारण मैन ऑफ द सीरीज का अवॉर्ड भी उन्हीं को दिया गया। पुजारा ने चार टेस्ट मैचों की सीरीज में कुल 521 रन बना कर यह उपलब्धि हासिल की है। भारत ने ऑस्ट्रेलियाई धरती पर 72 साल में पहली बार कोई टेस्ट मैचों की सीरीज जीती है। आजादी के बाद पहली बार कोई भारतीय टीम इस देश में टेस्ट सीरीज जीतने में कामयाब रही है। विराट कोहली की कप्तानी में टीम इंडिया ने इतिहास के पन्नों में अपना नाम सुनहरे अक्षरों में दर्ज करा लिया है। भारत ने एडिलेड में खेला गया पहला टेस्ट मैच 31 रनों से जीता था जबकि पर्थ में हुए दूसरे टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 146 रनों से हराते हुए वापसी की थ। लेकिन मेलबर्न में भारतीय टीम ने पलटवार करते हुए कंगारुओं को 137 रनों से हराकर टेस्ट सीरीज में 2.1 से बढ़त बना ली थी। सिडनी में बारिश के कारण चौथा टेस्ट ड्रॉ हो गया। जिससे टीम इंडिया ने 2.1 से ऑस्ट्रेलिया में पहली बार टेस्ट सीरीज जीत ली है। बारिश की वजह से पांचवें और अंतिम दिन का खेल नहीं हो पाया और अंपायरों ने लंच के बाद मैच ड्रॉ करने का फैसला किया जिससे भारत ने चार मैचों की सीरीज 2.1 से अपने नाम की। आपको बता दें कि भारत ने अपनी पहली पारी सात विकेट पर 622 रन बनाकर समाप्त घोषित की थी, जिसके जवाब में ऑस्ट्रेलियाई टीम 300 रनों पर सिमट गई। जिससे मेजबान टीम को अपनी धरती पर पिछले 30 साल में पहली बार फॉलोऑन के लिए उतरना पड़ा। ऑस्ट्रेलिया ने दूसरी पारी में बिना किसी नुकसान के छह रन बनाए। पांचवें दिन सुबह के पूरे सत्र में पिच कवर से ढकी रही। सिडनी क्रिकेट ग्राउंड के ऊपर काले घने बादल छाए हुए हैं और इस बीच हल्की बारिश भी हुई। रविवार भी पूरे दिन बादल छाए रहे और आज सुबह भी स्थिति नहीं बदली। मैच के पहले दो दिन भारतीय बल्लेबाजों ने अपना जोहर दिखाया। जिसमें चेतेश्वर पुजारा ने 193 और ऋषभ पंत ने 159 रनों की नाबाद पारी खेली। ऑस्ट्रेलिया ने तीसरे दिन खराब रोशनी के कारण खेल जल्दी समाप्त किए जाने तक छह विकेट पर 236 रन बनाए। इसके बाद अगले दिन ही मेजबान टीम ने 300 रनों पर आउट हो गई। भारत की तरफ से कुलदीप यादव ने 99 रन देकर पांच विकेट झटके। भारत ने ऑस्ट्रेलिया को फॉलोऑन के लिए आमंत्रित किया, लेकिन खराब रोशनी के कारण चौथे दिन का खेल भी जल्द समाप्त करना पड़ा। ऑस्ट्रेलिया ने तब बिना किसी नुकसान के छह रन बनाए थे। पुजारा ने भारत की सीरीज जीत में अहम भूमिका निभाई। उन्होंने सीरीज में 74.42 की औसत से 521 रन बनाए जिसमें तीन शतक शामिल हैं।


भारत ने 137 रनों से ऑस्ट्रेलिया को दी पटखनी, टेस्ट सीरीज की अपने नाम

बुमराह के फिरकी में फंसी टीम ऑस्ट्रेलिया, 151 रनों पर हुई ढेर


 VT PADTAL