VT Update
गोपाल भार्गव बने नेता मप्र.विधानसभा नेता प्रतिपक्ष जेपी सीमेंट ने नहीं चुकाया 5० करोड़ रूपए टैक्स, जुलाई के बाद नहीं जमा किया टैक्स लूट से बचने पहले व्यापारी और फिर बदमाश गाड़ी सहित गिरे नदी में,गुढ़ थाने के बिछिया नदी में हुआ हादसा विधानसभा में हारे उम्मीदवारों को कमलनाथ का सहारा, कमलनाथ ने कहा हताश न हो लोकसभा की तैयारी में लगें मप्र में कांग्रेस सरकार फिर खोलेगी व्यापम की फाइल,गृह मंत्री बाला बच्चन ने कहा घोटाले से जुड़े लोग बक्शे नही जायेंगे
Monday 7th of January 2019 | तमिलनाडु के तिरूवर में होना है उपचुनाव

गाजा तूफान के कारण तमिलानडु में उपचुनाव रद्द, जारी है बचाव कार्य


गाजा तूफान के कारण चुनाव आयोग ने तमिलनाडु के तिरुवरुर में होने वाले उपचुनाव को रद्द कर दिया है। पार्टियों ने गाजा तूफान से प्रभावित इलाके में बचाव कार्य जारी होने के मद्देनजर वोटिंग करा पाने में असमर्थता जाहिर की है। द्रमुक नेता एम करुणानिधि के निधन के बाद तिरूवर सीट पर उपचुनाव कराने की तैयारी चल रही थी। तिरुवरुर में उपचुनाव 28 जनवरी को होने वाले थे। आयोग ने आदेश में कहा कि उपचुनाव के लिए जारी की गई अधिसूचना को रद्द किया जाता है। मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा और आयुक्त अशोक लवासा ने अपने आदेश में कहा है कि चुनाव की नई तारीख का ऐलान जल्द किया जाएगा। पिछले साल नवंबर में गाजा तूफान ने इस इलाके में भारी तबाही मचाई थी। कावेरी डेल्टा क्षेत्र में तिरुवरुर ऐसा जिला है जिसे गाजा ने सबसे ज्यादा प्रभावित किया और भारी स्तर पर नुकसान हुआ है। जिससे क्षेत्र अभी पूरे तरीके से संभल नहीं पाया है और राहत.बचाव कार्य जारी हैं। इसे देखते हुए पार्टियों ने मांग की थी कि फिलहाल चुनाव टाल दिया जाए, जब तक कि लोग गाजा के प्रभाव से न उबर जाएं। तिरुवरुर के जिला निर्वाचन अधिकारी एल निर्मल राज ने 5 जनवरी को अलग.अलग पार्टियों के नेताओं के साथ बैठक कर तैयारियों पर चर्चा की थी। जिसमें सीपीआई तथा डीएमके ने प्रभाव के कारण चुनाव रद्द कराने की मांग की। जिस पर जिला निर्वाचन अधिकारी ने रिपोर्ट तैयार कर आयोग को भेजा। जिसे गंभीरता से लेते हुए आयोग ने अधिसूचना को रद्द करने का आदेश दे दिया। जिसके बाद से तिरूवर सीट पर विधानसभा उपचुनाव कराने के लिए नई तारिखों को ऐलान किया जाएगा।


खड़गे की पीएम मोदी को चिट्ठी, कहा- सार्वजनिक करें कागजात

निर्दलीय उम्मीदवार ने लिया समर्थन वापस, संकट में कुमारस्वामी सरकार


 VT PADTAL