VT Update
ओंकारेश्वर बांध विस्थापितों को मिली सुप्रीम कोर्ट से राहत, कोर्ट ने सरकार को दिया आदेश विस्थापितों को उपलब्ध कराएं बेहतर भूमि। प्रदेश के भिंड में चार लोगों की हत्या करने वाले आरोपी को कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा। शहडोल उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी रही हिमाद्री सिंह ने आज कांग्रेस का हाथ छोड़ थामा भाजपा का दामन कमलनाथ सरकार को जबलपुर हाईकोर्ट से तगड़ा झटका, ओबीसी को 27 फीसदी आरक्षण देने पर लगाई रोक। टिकट को लेकर भाजपा में मचा घमासान, दावेदारों ने प्रदेश कार्यालय के सामने की नारेबाजी।
Tuesday 8th of January 2019 | सवर्ण आरक्षण सम्बन्धी विधेयक को कांग्रेस का समर्थन !

सवर्ण आरक्षण सम्बन्धी विधेयक लोकसभा में किया गया पेश


 

 

कैबिनेट के फैसले के बाद मोदी सरकार ने आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों को आरक्षण देने वाला बिल लोकसभा में पेश कर दिया है. केन्द्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत ने संविधान संशोधन बिल को रखा.

 

जहाँ एक ओर भाजपा ने मोदी सरकार के इस कदम को ‘ऐतिहासिक’ करार दिया, वहीँ विपक्ष ने इसके समय पर सवाल उठाये. कांग्रेस ने इसे ‘चुनावी जुमला’ करार दिया. हलाकि  विपक्षी पार्टियों ने सरकार के इस कदम को अपना समर्थन व्यक्त किया है.

 

इस प्रस्ताव पर अमल के लिए संविधान संशोधन विधेयक संसद से पारित कराने की जरूरत पड़ेगी, क्योंकि संविधान में आर्थिक आधार पर आरक्षण का कोई प्रावधान नहीं है. इसके लिए संविधान के अनुच्छेद 15 और अनुच्छेद 16 में जरूरी संशोधन करने होंगे.

 

संसद में संविधान संशोधन विधेयक पारित कराने के लिए सरकार को दोनों सदनों में कम से कम दो-तिहाई बहुमत जुटाना होगा. लोकसभा में तो सरकार के पास बहुमत है, लेकिन राज्यसभा में उसके पास अपने दम पर विधेयक पारित कराने के लिए जरूरी संख्याबल का अभाव है.

 

कांग्रेस संसद में इस विधेयक को पारित करने में मदद करेगी. पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ‘आर्थिक तौर पर गरीब व्यक्ति के बेटे या बेटी को शिक्षा एवं रोजगार में अपना हिस्सा मिलना चाहिए. हम इसके लिए हर कदम का समर्थन करेंगे.’

 

 


Yamaha Fascino स्कूटर का डार्कनाइट एडिशन हुआ लॉन्च, जानिए क्या है कीमत

आयोग ने लोस चुनाव की तारिखों को किया ऐलान, सात चरणों में संपन्न होंगे चुनाव


 VT PADTAL