VT Update
गोपाल भार्गव बने नेता मप्र.विधानसभा नेता प्रतिपक्ष जेपी सीमेंट ने नहीं चुकाया 5० करोड़ रूपए टैक्स, जुलाई के बाद नहीं जमा किया टैक्स लूट से बचने पहले व्यापारी और फिर बदमाश गाड़ी सहित गिरे नदी में,गुढ़ थाने के बिछिया नदी में हुआ हादसा विधानसभा में हारे उम्मीदवारों को कमलनाथ का सहारा, कमलनाथ ने कहा हताश न हो लोकसभा की तैयारी में लगें मप्र में कांग्रेस सरकार फिर खोलेगी व्यापम की फाइल,गृह मंत्री बाला बच्चन ने कहा घोटाले से जुड़े लोग बक्शे नही जायेंगे
Tuesday 8th of January 2019 | कांग्रेस का बीजेपी पर विधायकों को लालच देने का आरोप

दिग्गी ने बोला हमला, कहा- हार को पचा नहीं पा रहे शिवराज, कुर्सी की लालच ठीक नहीं


मध्यप्रदेश के राजनीतिक गलियारे में जमकर घमासान मचा हुआ है। कांग्रेस के सत्ता में आने व बीजेपी के विपक्ष में जाने के बाद से आरोप-प्रत्यारोप का दौर तेजी से जारी है। इसी क्रम में एक बार फिर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज और विपक्षी पार्टी भाजपा पर हमला बोला है। दिग्विजय ने कहा कि जनता ने शिवराज सिंह को हरा दिया है, अब वो हार पचा नही पा रहे है। मैंने भी दस साल की राजनीति छोड़ कर धैर्य रखा था। शिवराज बौखलाये नहीं, सत्ता तो आती जाती रहती है। उन्होंने सलाह देते हुए कहा कि शिवराज को इतना कुर्सी का लालच नही होना चाहिए। इस दौरान उन्होंने भाजपा नेताओं पर विधायकों की किडनैपिंग की कोशिश और पैसों का ऑफर देने का भी आरोप मढ़ दिया। इसके साथ ही उन्होंने नरोत्तम मिश्रा व विश्वास सारंग पर भी कई गंभीर आरोप लगाए। दिग्विजय ने आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा नेताओं ने हमारे विधायकों को लालच देने की कोशिश की। भाजपा द्वारा विधायकों को सौ-सौ करोड़ का ऑफर देकर पार्टी में शामिल होने की बात कही गई है। विधायक वैजनाथ कुशवाह की किडनैपिंग की भी कोशिश की जा रही है, मोबाईल पर विधायकों को मैसेज कर कहा जा रहा है सौ करोड़ ले लो और पार्टी में आ जाओ। मेरे पास इसके सबूत है, फोन की रिकॉर्डिंग है। दिग्विजय ने कहा कि बीजेपी ने राज्यपाल का भी अपमान किया है, ये कहकर की अल्पमत की सरकार है। आपको बता दें कि दिग्विजय सिंह के आरोपों से पूर्व संसदीय कार्य मंत्री गोविंद सिंह ने भी भाजपा पर विधायकों को फोन कर पैसों का लालच देने का आरोप लगाया था। उन्होंने बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह के साथ अन्य भाजपा नेताओं का भी नाम लिया था। दिग्विजय के इस बयान के बाद सियासी गलियारे में तूफान आ गया जिस पर विपक्ष ने भी करारा पलटवार किया है।

सर्वणों के आरक्षण को कांग्रेस का समर्थन: केंद्र की मोदी सरकार द्वारा सर्वणों को 10 फीसदी आरक्षण देने के फैसले का दिग्विजय सिंह ने समर्थन किया है। उन्होंने कहा कि आरक्षित वर्ग के गरीब परिवारों को आरक्षण मिलना चाहिए। हम हमेशा से ही इसके पक्ष में रहे है।हालांकि उन्होंने कहा कि इसके लिए मोदी सरकार को संविधान में संशोधन भी करना होगा। ये केवल जुमला है, इसके पीछे की सच्चाई कुछ और है। इसके अलावा दिग्विजय ने कहा कि एमपी में छिन्दवाड़ा मॉडल लागू होगा बुदनी का रेत मॉडल लागू नहीं होगा। इस दौरान उन्होंने गोपाल भार्गव को नेता प्रतिपक्ष बनाए जाने पर भी बधाई दी और कहा कि वे एक अच्छे नेता है।


पूर्व सीएम शिव ने कहा- मध्यप्रदेश देश से बाहर नहीं, देश के दिल में रहकर करूंगा

बुआ- भतीज के गठबंधन पर राहुल का पलटवार कहा- अंडरएसटिमेट किया गया


 VT PADTAL