VT Update
गोपाल भार्गव बने नेता मप्र.विधानसभा नेता प्रतिपक्ष जेपी सीमेंट ने नहीं चुकाया 5० करोड़ रूपए टैक्स, जुलाई के बाद नहीं जमा किया टैक्स लूट से बचने पहले व्यापारी और फिर बदमाश गाड़ी सहित गिरे नदी में,गुढ़ थाने के बिछिया नदी में हुआ हादसा विधानसभा में हारे उम्मीदवारों को कमलनाथ का सहारा, कमलनाथ ने कहा हताश न हो लोकसभा की तैयारी में लगें मप्र में कांग्रेस सरकार फिर खोलेगी व्यापम की फाइल,गृह मंत्री बाला बच्चन ने कहा घोटाले से जुड़े लोग बक्शे नही जायेंगे
Wednesday 9th of January 2019 | सीधी कलेक्टर ने जिले के 18 स्कूलों का किया औचक निरीक्षण

ड्यूटी से नदारद मिले शिक्षक, कलेक्टर ने 18 शिक्षकों को किया निलंबित


सीधी कलेक्टर का पदभार संभालते ही अभिषेक सिंह ने सख्त तेवर दिखाया है। पदभार संभालने के बाद से कलेक्टर अभिषेक सिंह लगातार जिले में निरीक्षण कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई कर रहे है। इसी क्रम में कलेक्टर मंगलवार को जिले के 18 स्कूलों में पहुंचकर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान स्कूल से शिक्षक नदारद मिले। जिस पर उन्होंने कार्रवाई करते हुए 16 अध्यापक, एक प्रभारी प्राचार्य व एक छात्रावास अधीक्षक को निलंबित करने का आदेश दे दिया। सिंह ने कहा कि मेरी प्राथमिकता है कि शिक्षक स्कूल आएं और बच्चों को पढ़ाएं। शिक्षा में सुधार ही मेरा पहला लक्ष्य है। आपको बता दें कि कलेक्टर ने दोषी मिलने वाले 36 शिक्षकों के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई की है। जबकी उन्हें जिले का कार्यभार संभाले 17  दिन हुए है। कलेक्अर ने निरीक्षण के दौरान विद्यालय के छात्रों से बात कर स्थितियों को जाना। साथ ही ड्यूटी से नदारद शिक्षकों के  बारे में छात्रों से जानकारी ली। जिस पर छात्रों ने कहा कि अध्यापक कभी भी पढ़ाने नहीं आता। शिक्षकों के रवैये से नाराज कलेक्टर ने निलंबित करने का आदेश दिया है। इसके साथ ही कलेक्टर ने निरीक्षण के दौरान तकरीबन 15 मिनट तक शिक्षकों के आने का इंतजार किया बावजूद सके शिक्षक नहीं पहुंचे। जिस पर कलेक्टर ने ड्यूटी पर लापरवाही बरतने के आरोप में शिक्षकों को निलंबित किया। कलेक्टर के कड़े तेवर देखकर जिले भर में हड़कम्प मचा हुआ है।


विन्ध्य क्षेत्र के कमलेश्वर पटेल बने मंत्री, कहा करूंगा जिम्मेदारियों का न

टार्च की बैटरी फटने से घायल हुए पिता- पुत्र, बेटे का हाथ धड़ से अलग


 VT PADTAL