VT Update
उज्जैन सांसद चिंतामणि ने किया दावा, लोकसभा चुनाव में भाजपा जीतेगी प्रदेश की 29 सीटें। मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद शुरू हुई उलटफेर की राजनीति, कांग्रेस ठोक रही सरकार बनाने के दावा, कामत को नया सीएम बनाने की चर्चा तेज भिंड जिले के खड़ेरीपुर में मामूली विवाद में चली गोली, दो लोगों की मौत आधा दर्जन से अधिक लोग घायल। लोकसभा चुनाव को लेकर जारी उठा-पटक, दिग्गी ने स्वीकार किया सीएम नाथ का चैलेंजे, बोले- पार्टी जहां से बोले वहां से लडूंगा चुनाव। कार्रवाई का लेखाजोखा पेश न करने वाले प्रदेश के दस जिलों के थाने आयोग की रडार पर, लापरवाही बरतने पर थाना प्रभारियों पर गिर सकती है गाज
Friday 11th of January 2019 | कैलाश का सरकार को लेकर बड़ा बयान

जिस दिन बॅास का मिला इशारा, उस दिन गिर जाएगी कांग्रेस की सरकार


प्रदेश में अपने बयानों को लेकर सुर्खियों में रहने वाले भाजपा के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने एक बार फिर बड़ा बयान दिया है। विजयवर्गीय ने कहा कि कार्यकर्ताओं को डरने और घबराने की जरूरत नहीं है। कोई माई का लाल नहीं, जो हमें हाथ लगा ले। विपक्ष में आ गए हैं तो क्या, यह सरकार हमारी कृपा से ही चल रही है।  उन्होंने कहा कि कमलनाथ की सरकार 5 साल तक नहीं चल सकेगी। जिस दिन ऊपर से बॉस का इशारा हो जायेगा उस दिन सरकार गिर जाएगी। कैलाश के इस बयान के बाद सियासत गरमा गई है। दरअसल, कैलाश विजयवर्गीय ने यह बात बीतें दिवस शाम को इंदौर में भाजपा के एक कार्यक्रम के दौरान पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कही। कैलाश ने कहा कि  यह सरकार कैसी सरकार है? यह सरकार हमारी कृपा से चल रही है। प्रदेश कभी भी वापस हमारे पास आ जायेगा। जिस दिन ऊपर से बॉस का इशारा हो जायेगा उस दिन सरकार गिर जाएगी। भाजपा महासचिव ने कहा, हालिया विधानसभा चुनावों के दौरान कांग्रेस के फैलाये भ्रम जाल के कारण प्रदेश में वोट थोड़ा इधर.उधर चला गया है। लेकिन हमें निराश होने की कोई आवश्यकता नहीं है। उन्होंने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि कमलनाथ सरकार ने जो भी वादे किए है, उसके लिए सरकार के पास बजट ही नहीं है। कांग्रेस ने झूठे वादों में फंसाकर जनता से वोट लिए है, इसका खुलासा भी जल्द ही हो जाएगा। हमें अब लोकसभा चुनाव बड़ी मेहनत और चुनौती के साथ लड़ना है और जीत के आना है। नौवी बार इंदौर फिर अपनी जीत का परचम लहरायगा। केन्द्र में इस बार भी हमारी ही सरकार बनेगी। विजयवर्गीय के इस बयान के बाद से सियासी गलियारे में भुचाल मच गया। जिसके बाद विपक्षी दलों ने बयान की आलोचना भी की है।


बोले गड़करी- तीन बार फेल होने वाले बनते है मंत्री, टॅाप करने वाले बनते है उनके

गौर ने भोपाल सीट से ठोकी ताल, कहा- 10 बार देखी विधानसभा अब देखेंगे दिल्ली


 VT PADTAL