VT Update
पहले चरण में 50 फीसदी भी नहीं भर ncte पाठ्यक्रम की सीटें,उच्च शिक्षा विभाग को अन्य चरण से एडमिशन की उम्मीद 9परिवहन विभाग ने रीवा के लिए तैयार किया ऑटो रुट का ब्लू प्रिंट,रूट के हिसाब से होंगे ऑटो के रंग,सड़क सुरक्षा समिति से अनुमति मिलने की दरकार रीवा के जवा में अधिवक्ता ने गोली मारकर की खुदकुशी, पुलिस कर रही मामले की जांच,डिप्रेशन में थे अधिवक्ता प्रदेश भाजपा कार्यालय में भाजपा सदस्यता अभियान को लेकर मैराथन बैठक हुई संपन्न, सदस्यता के साथ बूथ मजबूत करने पर हुआ चिंतन सतना में बड़ा हादसा ट्रक ऑटो में भिड़ंत तीन की मौत 5 घायल,घायलों को अस्पताल में कराया गया भर्ती
Friday 11th of January 2019 | पूर्व सीएम शिव, रमन व राजे को पार्टी में बड़ी जिम्मेदारी

तीनों राज गंवाने वालों की केंद्रीय राजनीति में एंट्री, लड़ेंगे लोकसभा का चुनाव


आगामी लोकसभा चुनाव को फतह करने के लिए भारतीय जनता पार्टी आज यानी शुक्रवार को राष्ट्रीय अधिवेशन कार्यक्रम आयोजित कर रही है। इसके अलावा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह अपने रणनीति के हिसाब से तैयारियों को लेकर कदम उठा रहे है। जिसमें उन्होंने तीन बड़े राज्यों में मिली हार और सत्ता गंवाने वाले पूर्व मुख्यमंत्रियों को पार्टी की बड़ी जिम्मेदारी सौंपी है। जिसमें मध्यप प्रदेश में तीन बार मुख्यमंत्री रहे शिवराज सिंह चैहान, राजस्थान में दो बार मुख्यमंत्री रही वसुंधरा राजे सिंधिया और छत्तीसगढ़ में तीन बार सरकार चलाने वाले रमन सिंह को पार्टी का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया है। सूत्रों की मानें तो पार्टी शीर्ष नेतृृत्व ने तीनों नेताओं को साफ कर दिया कि उनके अनुभव मजबूत नेतृत्व के कारण पार्टी को उनकी जरूरत केंद्रीय राजनीति में है। उन्हें अब दिल्ली की राजनीति करनी होगी। शिवराज सिंह चौहान और वसुंधरा राजे पहले भी संगठन में काम कर चुके हैं। सूत्रों के अनुसार पार्टी ने तय किया है कि शिवराज सिंह चौहान मध्य प्रदेश की विदिशा सीट से चुनाव लड़ेंगे। यहां से विदेश मंत्री सुषमा स्वराज सांसद हैं। विधानसभा चुनाव के प्रचार के दौरान उन्होंने घोषणा की थी कि वो स्वास्थ्य कारणों से अगला चुनाव नहीं लड़ेंगी। आपको बता दें कि इस सीट से पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और खुद शिवराज सिंह चौहान चुनाव लड़ चुके हैं। वसुंधरा राजे सिंधिया राजस्थान की झालावाड़ सीट से चुनाव लड़ेंगी। वर्तमान में यहां से उनके बेटे दुष्यंत सिंह सांसद हैं। वहीं, रमन सिंह छत्तीसगढ़ की राजनांदगांव सीट से चुनाव लड़ेंगे, जहां से उनके बेटे अभिषेक सिंह सांसद हैं। मतलब साफ है कि पार्टी लोकसभा चुनाव में किसी भी तरह का खतरा मोल लेना नहीं लेना चाहती है। इसलिए अपने सभी बड़े नेताओं को चुनावी महासमर में उतारकर चुनावी वैतरणी पार करना चाहती है। सूत्रों की मानें तो आने वाले दिनों में हर रोज चौंकाने वाले फैसले पार्टी और सरकार की तरफ से सुनने को मिलेंगे। अमित शाह यह बात अच्छी तरह से जानते हैं कि हिंदी बेल्ट में बीजेपी के हाथ से 3 राज्य निकालना खतरे की घंटी है।


कमलनाथ, अशोक चव्हाण और राज बब्बर के बाद अब झारखंड और असम के कांग्रेस अध्यक्ष

कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में खुलासा, दिग्गज और वरिश्ठ नेताओं ने नहीं द


 VT PADTAL


 Rewa

प्रदेश भर में स्कूल चले अभियान का आगाज, संभाग कमिश्नर ने किया पुस्तक वितरण
Monday 24th of June 2019
रीवा में भी प्रदेश पत्रकार संघ के कार्यकारी अध्यक्ष अनिल त्रिपाठी की अगुवाई में संयुक्त आयुक्त राकेश शुक्ला को पत्रकारों ने ज्ञापन सौंपा |
Monday 24th of June 2019
गाँव के बदमाशों द्वारा बीती रात उसी गांव के दुकानदार व दुकानदार की लडकियों को पीट-पीट कर घायल कर दिया गया
Monday 24th of June 2019
मुख्यमंत्री कमल नाथ ने झाबुआ के शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में
Monday 24th of June 2019
एक्सीडेंट से हुई ट्रक ड्राइवर की मौत पर परिजनों ने जताई हत्या की आशंका
Monday 24th of June 2019
रीवा में आयोजित हुआ योग कार्यक्रम, केन्द्रीय जेल में भी आयोजित हुए योग कार्यक्रम  
Saturday 22nd of June 2019