VT Update
ओंकारेश्वर बांध विस्थापितों को मिली सुप्रीम कोर्ट से राहत, कोर्ट ने सरकार को दिया आदेश विस्थापितों को उपलब्ध कराएं बेहतर भूमि। प्रदेश के भिंड में चार लोगों की हत्या करने वाले आरोपी को कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा। शहडोल उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी रही हिमाद्री सिंह ने आज कांग्रेस का हाथ छोड़ थामा भाजपा का दामन कमलनाथ सरकार को जबलपुर हाईकोर्ट से तगड़ा झटका, ओबीसी को 27 फीसदी आरक्षण देने पर लगाई रोक। टिकट को लेकर भाजपा में मचा घमासान, दावेदारों ने प्रदेश कार्यालय के सामने की नारेबाजी।
Saturday 12th of January 2019 | गुजरात के सुरत में मासूम का बलात्कार

एक बार फिर मानवता हुई शर्मसार, सूरत में 3 वर्षीय मासूम के साथ दरिंदगी


गुजरात के सूरत में तीन साल की मासूम बच्ची के साथ दरिंदगी का मामला प्रकाश में आया है। सूरत के हजीरा में मासूम बच्ची को दरिंदे ने अपने हवस का शिकार बना लिया और उसके साथ दूराचार कर उसे बबूल की झाड़ियों में फेंक दिया गया। जिसकी भनक लगते ही मौके पर पहुंची सूरत पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ रेप और पाक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज कर मामले की तफ्तीश शुरू कर दी है। वहीं, एक बार फिर मासूम के दरिंदगी के शिकार होने से जिला पुलिस व प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल उठने लगे है। आपको बता दें कि सूरत शहर के औद्योगिक क्षेत्र में रहने वाले एक मजदूर परिवार की 3 वर्षीय मासूम गुरुवार को अपने घर से शाम करीबन 4 बजे से लापता हो गई थी। जिसकी परिजनों ने लगातार खोजबीन की थी लेकिन कोई सुराग नहीं मिल सका। जिसके बाद पीड़ित परिजनों ने मुकामी पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने बच्ची के परिवार की शिकायत लेकर परिवार के साथ बच्ची की खोजबीन शुरू कर दी। पुलिस को सूचना मिली की खून से लथपथ एक बच्ची बबूल की झाड़ियों में लावारिस पड़ी है। पुलिस को खबर मिलते ही मौके पर पहुंची और बच्ची को तत्काल उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है। जहां मासूम की हालत बेहद नाज़ुक बनी हुई है। मामले की तफ्तीश में जुटी हुई पुलिस की घटना के बाद से हाथ खाली है। पुलिस घटना के तीन दिन बाद भी दरिंदे तक नहीं पहुंच सकी है। आपको बता दें कि सूरत में मासूम बच्ची को हवस का शिकार बनाने का यह कोई पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी अलग अलग जगहों पर अनेकों घटनाओं में मासूम बच्चियों के साथ दर्दनाक घटनाओं को अंजाम दिया जा चुका है। हालिए घटना प्रकाश में आने से एक बार फिर डर का माहौल पैदा हो गया है। साथ ही जिला प्रशासन व सरकार के रवैये पर सवाल खड़े होने लगे है।


अपहरण की घटना से फिर दहला सतना, मासूम का अपहरण के बाद हत्या कर बोरे में भर कर न

​​​​​​​लगातार बढ़ रही अपहरण की घटनाओं के बाद एसपी को हटाने की मांग हुई तेज


 VT PADTAL