VT Update
16 नवम्बर को शहडोल में होंगे नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी कांग्रेस विधायक सुन्दरलाल तिवारी ने आरएसएस को कहा आतंकी संगठन,कांग्रेस का बयान से किनारा रीवा में भाजपा प्रत्याशी राजेंद्र शुक्ल ने कांग्रेस प्रत्याशी अभय मिश्र को दिया कानूनी नोटिस। 50 करोड़ का कर सकते हैं दावा। आबकारी उड़नदस्ता टीम ने की बड़ी कार्यवाही, नईगढ़ी व पहाड़ी गाँव में कच्ची शराब भट्टी में मारी रेड, 200 लीटर कच्ची शराब के साथ पांच आरोपी गिरफ्तार विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र एस एस टी टीम की कार्यवाही जारी, चेकिंग के दौरान चार पहिया सवार के कब्जे से बरामद हुए 2लाख 19 हज़ार रुपये, निर्वाचन कार्यालय भेजा गया मामला
Friday 13th of October 2017 |

संघर्ष विराम का उल्लंघन, गोलाबारी में 1 जवान शहीद, पोर्टर की मौत 


पुंछ(जम्मू-काशमीर)। कृष्णा घाटी सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर जमकर गोलाबारी हुई, जिसमें भारतीय सेना का एक सिपाही शहीद हो गया और सेना के साथ काम करने वाले एक पोर्टर की भी मौत हो गई। गोलाबारी में भारतीय सेना के पांच जवान व एक पोर्टर घायल भी हो गया। इनमें से तीन जवानों की हालत गंभीर बताई जा रही है। इस बीच, भारतीय सेना ने भी पाक सेना को मुंहतोड़ जवाब दिया है, लेकिन सीमा पार हुए नुकसान की तत्काल जानकारी नहीं मिल पाई है।
सुबह करीब दस बजे कृष्णा घाटी सेक्टर में सरला पोस्ट के पास सिपाही टीके रेड्डी व पोर्टर मुहम्मद जाहिर खच्चर पर सामान लेकर जा रहे थे। तभी सीमा पार से भारी गोलाबारी शुरू हो गई, जिसमें सिपाही टीके रेड्डी शहीद हो गए। और पोर्टर की मौत हो गई। गोलाबारी में सिपाही कैदार गोरी शंकर, सिपाही नितेश नरे, सिपाही रूप नार बाबा साहिब, नायक आर मुन्तपोंदी, सिपाही नरेंद्र कुमार व सेना का पोर्टर मुहम्मद इसाक घायल हो गए। गोलाबारी के बीच ही अन्य जवानों ने सभी घायलों को पास के सैन्य अस्पताल पहुंचाया। जहां से तीन जवानों की गंभीर हालत को देखते हुए उन्हें हेलीकाप्टर से कमान अस्पताल ऊधमपुर रेफर कर दिया गया। इस बीच, पाक सेना ने खड़ी सेक्टर में भी भारतीय चौकियों को निशाना बनाकर गोलाबारी शुरू कर दी, हालांकि यहां कोई नुकसान नहीं हुआ है। भारतीय सेना ने भी पाक को मुंहतोड़ जवाब दिया। इस बीच, उत्तरी कमान के प्रवक्ता कर्नल एनएन जोशी ने पुष्टि की कि पाक सेना की ओर से किए गए संघर्ष विराम उल्लंघन में एक जवान शहीद व एक पोर्टर की मौत हुई है। 


जिस पत्रकारिता का कभी स्वर्णिम युग ना था , उसमे स्वर्णिम व्यक्तित्व की तरह उ

अटल जी के निधन से आहत हुआ देश !


 VT PADTAL