VT Update
ओंकारेश्वर बांध विस्थापितों को मिली सुप्रीम कोर्ट से राहत, कोर्ट ने सरकार को दिया आदेश विस्थापितों को उपलब्ध कराएं बेहतर भूमि। प्रदेश के भिंड में चार लोगों की हत्या करने वाले आरोपी को कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा। शहडोल उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी रही हिमाद्री सिंह ने आज कांग्रेस का हाथ छोड़ थामा भाजपा का दामन कमलनाथ सरकार को जबलपुर हाईकोर्ट से तगड़ा झटका, ओबीसी को 27 फीसदी आरक्षण देने पर लगाई रोक। टिकट को लेकर भाजपा में मचा घमासान, दावेदारों ने प्रदेश कार्यालय के सामने की नारेबाजी।
Saturday 14th of October 2017 | गौरी लंकेश हत्या मामला

पत्रकार गौरी लंकेश हत्या मामला , पुलिस ने जारी किया संदिग्धों का स्केच


नई दिल्ली। बेंगलुरू में पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के पीछे शामिल संदिग्ध की पहचान कर ली गई है। पुलिस महानिरीक्षक बी के सिंह की अगुवाई में बनी एसआईटी ने आज लंकेश की हत्या में शामिल दो मुख्य संदिग्धों का स्केच जारी करते हुए लोगों से मदद की अपील की है। एसआईटी ने हत्यारों के सीसीटीवी फुटेज को भी जारी किया है। एसआईटी ने कहा है कि, मामले में शामिल दो मुख्य संदिग्धों की पहचान कर ली गई है, साथ ही दोनों का स्केच भी जारी कर दिया गया है। 
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार एक और महत्वपूर्ण बात का खुलासा हुआ है, दरअसल गौरी लंकेश और एम.एम.कलबुर्गी की हत्या में एक ही हथियार का इस्तेमाल किया गया है। पुलिस ने बताया कि गौरी लंकेश की हत्या को लेकर तकरीबन 250 लोगों से पूछताछ की गई है। पुलिस महानिरीक्षक बी के सिंह ने कहा है कि शक्ल के आधार पर किसी संदिग्ध के धार्मिक पहचान को तय नहीं किया जा सकता क्योंकि यह जांच को गुमराह कर सकता है,सिंह ने इस मामले में सनातन संस्था की भूमिका को भी खारिज किया। उन्होंने कहा, 'सनातन संस्था के बारे में मीडिया ने खबर फैलाई है। हमारी तरफ से अभी तक इस मामले में किसी संस्था के हाथ होने की खबर नहीं है,एसआईटी ने कहा कि दोनों संदिग्ध स्थानीय निवासी है और चश्मदीदों के आधार पर इनके स्केच को तैयार किया गया है।


 


​​​​​​​लगातार बढ़ रही अपहरण की घटनाओं के बाद एसपी को हटाने की मांग हुई तेज

सुप्रीम कोर्ट ने दरिंदे की फांसी की सजा उम्र कैद में की तब्दील, पीड़िता के परि


 VT PADTAL