VT Update
केजरीवाल ने दिया शिवराज को प्रस्ताव शिक्षा में सुधार करना हो तो मनीष को भेज दूँ मध्यप्रदेश सीएम फेस की अटकलों पर शिवराज ने लगाया विराम, कहा कि मेरे ही नेतृत्व में बनेगी भाजपा की अगली सरकार वार्ड क्र 16 में मुख्यमार्ग से परेशान रहवासी, मार्ग का नहीं हो रहा निर्माण, 4 बार किया जा चुका है भूमिपूजन दिल्ली मैट्रो को सितम्बर से बिजली सप्लाई करेगा, बदबार का अल्ट्रामेगा सोलर पावर प्लांट गोविंदगढ़ थाना क्षेत्र के धोबखरी गांव में भाई की जान बचाने नहर में कूदी बहन, हुई मौत
गौरी लंकेश हत्या मामला

पत्रकार गौरी लंकेश हत्या मामला , पुलिस ने जारी किया संदिग्धों का स्केच


नई दिल्ली। बेंगलुरू में पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के पीछे शामिल संदिग्ध की पहचान कर ली गई है। पुलिस महानिरीक्षक बी के सिंह की अगुवाई में बनी एसआईटी ने आज लंकेश की हत्या में शामिल दो मुख्य संदिग्धों का स्केच जारी करते हुए लोगों से मदद की अपील की है। एसआईटी ने हत्यारों के सीसीटीवी फुटेज को भी जारी किया है। एसआईटी ने कहा है कि, मामले में शामिल दो मुख्य संदिग्धों की पहचान कर ली गई है, साथ ही दोनों का स्केच भी जारी कर दिया गया है। 
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार एक और महत्वपूर्ण बात का खुलासा हुआ है, दरअसल गौरी लंकेश और एम.एम.कलबुर्गी की हत्या में एक ही हथियार का इस्तेमाल किया गया है। पुलिस ने बताया कि गौरी लंकेश की हत्या को लेकर तकरीबन 250 लोगों से पूछताछ की गई है। पुलिस महानिरीक्षक बी के सिंह ने कहा है कि शक्ल के आधार पर किसी संदिग्ध के धार्मिक पहचान को तय नहीं किया जा सकता क्योंकि यह जांच को गुमराह कर सकता है,सिंह ने इस मामले में सनातन संस्था की भूमिका को भी खारिज किया। उन्होंने कहा, 'सनातन संस्था के बारे में मीडिया ने खबर फैलाई है। हमारी तरफ से अभी तक इस मामले में किसी संस्था के हाथ होने की खबर नहीं है,एसआईटी ने कहा कि दोनों संदिग्ध स्थानीय निवासी है और चश्मदीदों के आधार पर इनके स्केच को तैयार किया गया है।


 


सेक्स सीडी कांडः पत्रकार विनोद वर्मा की जमानत याचिका खारिज

दिन में क्लर्क, रात में कारों का टायर चोर 


 VT PADTAL