VT Update
विंध्य के सबसे बड़े अस्पताल संजय गांधी की सुरक्षा व्यवस्था पर उठे सवाल, अस्पताल के पार्किंग से चोरी हुई बोलेरो वाहन रीवा मेडिकल कॉलेज में लगेगा रूफटाफ का प्रदेश का सबसे बड़ा सोलर प्रोजेक्ट मतदाता जागरूकता के लिए रवाना हुई बुलेट रैली, कलेक्टर प्रीति मैथिल ने दिखाई हरी झंडी मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले में घटिया पुल निर्माण पर गिरी गाज, पीडब्लयूडी के चार अफसर सस्पेंड रीवा सहित प्रदेश भर में हर्षोल्लास के साथ मनायी गई कृष्ण जन्माष्टमी, शिल्पी प्लाजा में हुआ मटकी फोड़ने का भव्य आयोजन
Saturday 14th of October 2017 | गौरी लंकेश हत्या मामला

पत्रकार गौरी लंकेश हत्या मामला , पुलिस ने जारी किया संदिग्धों का स्केच


नई दिल्ली। बेंगलुरू में पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के पीछे शामिल संदिग्ध की पहचान कर ली गई है। पुलिस महानिरीक्षक बी के सिंह की अगुवाई में बनी एसआईटी ने आज लंकेश की हत्या में शामिल दो मुख्य संदिग्धों का स्केच जारी करते हुए लोगों से मदद की अपील की है। एसआईटी ने हत्यारों के सीसीटीवी फुटेज को भी जारी किया है। एसआईटी ने कहा है कि, मामले में शामिल दो मुख्य संदिग्धों की पहचान कर ली गई है, साथ ही दोनों का स्केच भी जारी कर दिया गया है। 
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार एक और महत्वपूर्ण बात का खुलासा हुआ है, दरअसल गौरी लंकेश और एम.एम.कलबुर्गी की हत्या में एक ही हथियार का इस्तेमाल किया गया है। पुलिस ने बताया कि गौरी लंकेश की हत्या को लेकर तकरीबन 250 लोगों से पूछताछ की गई है। पुलिस महानिरीक्षक बी के सिंह ने कहा है कि शक्ल के आधार पर किसी संदिग्ध के धार्मिक पहचान को तय नहीं किया जा सकता क्योंकि यह जांच को गुमराह कर सकता है,सिंह ने इस मामले में सनातन संस्था की भूमिका को भी खारिज किया। उन्होंने कहा, 'सनातन संस्था के बारे में मीडिया ने खबर फैलाई है। हमारी तरफ से अभी तक इस मामले में किसी संस्था के हाथ होने की खबर नहीं है,एसआईटी ने कहा कि दोनों संदिग्ध स्थानीय निवासी है और चश्मदीदों के आधार पर इनके स्केच को तैयार किया गया है।


 


प्रद्युम्न मर्डर केस: हत्या के आरोपी नाबालिग छात्र ने CBI पर डरा धमका कर जुर्म

ATM से निकला आधा असली आधा नकली 2000 का नोट 


 VT PADTAL