VT Update
रीवा में भी देखि गई हैदराबाद एनकाउंटर की ख़ुशी, जीडीसी की छात्रा ने कहा- आरोपियों को भी जलना था जिंदा रीवा-सतना के जिला अध्यक्षों की सूची में अटका पेंच, भाजपा विधायक और सांसद की नहीं बन पा रही सहमति, कार्यकर्ताओं के साथ आपने वर्चस्व के लिए लड़ रहे नेता पवई विधायक प्रहलाद लोधी केस पर मध्यप्रदेश सरकार को झटका, सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की मध्यप्रदेश सरकार की याचिका फरार जीतू सोनी पर एक लाख रुपए का इनाम, सोनी की शिकायत सुनने के लिए बने तीन सेल, पुलिस ने गठित की टीम रेलवे ने 32 अधिकारियों को किया जबरन रिटायर, पीएमओ ने भ्रष्टाचार में लिप्त अधिकारियों के लिए अपनाया सख्त रुख
Sunday 3rd of February 2019 | रीवा में राज्यपाल ने कहा ‘मोदी साहब का रखो ध्यान !’

रीवा सोलर प्लांट केअवलोकन के दौरान राज्यपाल ने पी एम मोदी के पक्ष में कही बात


 

 रीवा| विंध्य दौरे पर आई मध्यप्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल का सोशल मीडिया पर मोदी के समर्थन वाला एक वीडियो वायरल हो रहा है जिससे वह विवादों में घिर गई है। राज्यपाल का यह वीडियो तब वायरल हो रहा है जब वें प्रदेश के रीवा जिले के गुढ़ में स्थापित किए जा रहे दुनिया के सबसे बड़ा सोलर पावर प्लांट का निरीक्षण करने पहुंची। पावर प्लांट का जायजा लेने के दौरान राज्यपाल अधिकारियों से पावर प्लांट के बारे में जानकारी ले रही थी। मगर तभी ग्रामीनों ने राज्यपाल से मुलाकात कर उनसे स्थानीय युवाओं को रोजगार देने की बात कही तथा उनसे पूर्व मंत्री के प्रयासों के बारे में बात की  मगर इसी चर्चा के बाद जब राज्यपाल आनंदी बेन पटेल जाने लगी तो जाते जाते उन्होंने कह दिया कि मोदी साहब का ध्यान रखना। आनंदी बेन पटेल के इस बयान के बाद से उनका वीडियो सोशल मीडिया पर भी तेजी से वायरल हो रहा है।

 इन सब के बीच कांग्रेस पार्टी ने राज्यपाल के कार्यप्रणाली पर सवाल खड़ा कर दिया। कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता केके मिश्रा ने कहा कि राज्यपाल का पद संवैधानिक और गरिमामय होता है। उन्होंने आरोप लगाया है कि राज्यपाल संघ और भाजपा की कार्यकर्ता बनकर कार्य कर रही है। उन्होंने मांग किया है कि इस मामले पर राष्ट्रपति को संज्ञान लेना चाहिए। ऐसे में बड़ा सवाल यह है कि राज्यपाल यह बयान दे कर क्या जाहिर करना चाहती है और साथ ही संवैधानिक पद पर बैठे किसी व्यक्ति को क्या ऐसे बयान देने चाहिए। हालांकि वायरल वीडियो के बाद अभी तक राज्यपाल की तरफ से कोई आधिकारिक स्पष्टीकरण नहीं आया है। वायरल वीडियो में राज्यपाल स्थानीय युवाओं के सोच पर भी चर्चा करती हुई दिखाई दे रही है और पूर्व मंत्री राजेन्द्र शुक्ल द्वारा स्थापित कराए गए पावर प्लांट की तारीफ़ करती हुई नजर आ रही हैं।


आवारा पशु और अनाज की कालाबाजारी है बड़ी समस्या – लक्ष्मण तिवारी

5 जनवरी को बालिका मैराथन का होगा आयोजन


 VT PADTAL