VT Update
पहले चरण में 50 फीसदी भी नहीं भर ncte पाठ्यक्रम की सीटें,उच्च शिक्षा विभाग को अन्य चरण से एडमिशन की उम्मीद 9परिवहन विभाग ने रीवा के लिए तैयार किया ऑटो रुट का ब्लू प्रिंट,रूट के हिसाब से होंगे ऑटो के रंग,सड़क सुरक्षा समिति से अनुमति मिलने की दरकार रीवा के जवा में अधिवक्ता ने गोली मारकर की खुदकुशी, पुलिस कर रही मामले की जांच,डिप्रेशन में थे अधिवक्ता प्रदेश भाजपा कार्यालय में भाजपा सदस्यता अभियान को लेकर मैराथन बैठक हुई संपन्न, सदस्यता के साथ बूथ मजबूत करने पर हुआ चिंतन सतना में बड़ा हादसा ट्रक ऑटो में भिड़ंत तीन की मौत 5 घायल,घायलों को अस्पताल में कराया गया भर्ती
Monday 4th of February 2019 | पश्चिम बंगाल में हाई वोल्टेज सियासी ड्रामा

मोदी और ममता के बीच जारी सियासी जंग में पीस रहीं संवैधानिक एंजेसियां, जारी है हाई प्रोफाइल ड्रामा


लोकसभा चुनाव से पहले पश्चिम बंगाल सहित देश की सियासत गर्मा गई है। एक ओर जहां भारतीय जनता पार्टी बंगाल जीतने के लिए लगातार प्रदेश सरकार पर हमलावर है। वहीं, दूसरे तरफ राज्य में बैठी ममता सरकार बीजेपी के बढ़ते जनाधार को रोकने के लिए हर नए दांव चल रही है। इसी के साथ ही प्रदेश की राजनीति में हाईवोल्टेज ड्रामा कल रात से ही जारी है। जिसमें केंद्र की मोदी सरकार और प्रदेश की ममता सरकार के बीच जारी सियासी जंग के बीच देश व प्रदेश की संवैधानिक एंजेसियां भी पीसती नजर आ रही है। सियासत का यह हाई प्रोफाईल ड्रामा उस समय उफान पर आ गया जब शारदा चिट फंड घोटाले की जांच कर रही सीबीआई की टीम मामले से जुड़े कलकत्ता के पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के आवास पर रविवार की शाम करीब 6.30 बजे छापेमारी करने पहुंच गई। जिसकी भनक लगते ही मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी मौके पर पुलिस कमिश्नर के आवास पर पहुंच गई। जिसके बाद ममता की राज्य पुलिस ने जांच के लिए पहुंची सीबीआई की टीम को हिरासत में ले लिया और ममता दीदी मेट्रो सिनेमा रोड पर देर रात केंद्र सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए धरने पर बैठ गई। ऐसे में अब सवाल उठना लाजमी है कि सत्ता बचाने के लिए संवैधानिक एजेंसियों का दुरूपयोग करना कहां तक सार्थक है और क्या किसी संवैधानिक पद पर बैठे व्यक्ति को ऐसा कोई अधिकार है। इन सब के सबसे अहम बात यह है कि सीबीआई ने इस मामले में राज्य सरकार के खिलाफ अवमानना का केस दर्ज करने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर दिया है जिस पर कोर्ट ने सुनवाई की तारिख मंगलवार निर्धारित की है। प्रदेश में तेजी से बदलते राजनीतिक घटनाक्रम के बाद से सियासत भी तेज हो गई है एक ओर जहां तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता कलकत्ता में जगह जगह बेकाबू हो रहे है। वहीं, दूसरे तरफ विपक्षी दल भी सरकार पर मनमानी करने और लोकतंत्र की हत्या करने का आरोप लगा रही है। इन सब के बीच खास बात यह है कि लोकतंत्र सुरक्षित करने की दुहाई के साथ ही ममता ने नया दांव खेल दिया है और सरकार के विरोध में रैली करने की घोषणा कर दी है। जिसकी तैयारियां भी तेज हो गई है वहीं, अन्य राज्यों के विपक्षी दलों ने ममता को समर्थन देने की घोषणा भी कर दी है। ऐसे में अब यह देखना दिलचस्प होगा कि ममता पर मोदी का दांव भारी पड़ता है या मोदी पर ममता का सियासी पैतरा दोनों के बीच जारी यह सियासी जंग किस स्थिति पर पहुंचती है अब यह देखने वाली बात होगी।      


1 जून से लगातार हो रही है पेट्रोल और डीज़ल के दामों में गिरावट, अंतर्राष्ट्रीय

मौसम विभाग ने MP में जारी किया रेड अलर्ट, 2 दिन तक नहीं मिलेगी गर्मी और तपन से रा


 VT PADTAL


 Rewa

प्रदेश भर में स्कूल चले अभियान का आगाज, संभाग कमिश्नर ने किया पुस्तक वितरण
Monday 24th of June 2019
रीवा में भी प्रदेश पत्रकार संघ के कार्यकारी अध्यक्ष अनिल त्रिपाठी की अगुवाई में संयुक्त आयुक्त राकेश शुक्ला को पत्रकारों ने ज्ञापन सौंपा |
Monday 24th of June 2019
गाँव के बदमाशों द्वारा बीती रात उसी गांव के दुकानदार व दुकानदार की लडकियों को पीट-पीट कर घायल कर दिया गया
Monday 24th of June 2019
मुख्यमंत्री कमल नाथ ने झाबुआ के शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में
Monday 24th of June 2019
एक्सीडेंट से हुई ट्रक ड्राइवर की मौत पर परिजनों ने जताई हत्या की आशंका
Monday 24th of June 2019
रीवा में आयोजित हुआ योग कार्यक्रम, केन्द्रीय जेल में भी आयोजित हुए योग कार्यक्रम  
Saturday 22nd of June 2019