VT Update
पूर्व विधायक शीला त्यागी के सरकारी जमीन हथियाने की मंशा पर फिरा पानी, कानूनी लाभ पहुंचाने तहसीलदार ने सरकारी भूमि का पहले से किया नामांतरण सांसद विधायक आए तो अफसर उठकर दोनों हाथ जोड़कर करें नमस्कार, शासन ने जारी किया आदेश, माननीय के सत्कार में ना हो कोई कमी इंटरसिटी बसों के लिए ऑपरेटर चयन में गड़बड़ी, लोकायुक्त तक पहुंचा मामला, आरटीआई में जानकारी देने में भी बीसीएलएल के अफसरों पर आनाकानी का आरोप खाद्य निरीक्षक 50,000 की रिश्वत लेते गिरफ्तार सहायक खाद्य अधिकारी फरार, लोकायुक्त पुलिस ने दोनों अफसरों के खिलाफ दर्ज किया मुकदमा मध्य प्रदेश के छह मेडिकल कॉलेज में बढ़ेगी 803 पीजी सीटें, केंद्र सरकार की मिली मंजूरी
Monday 4th of February 2019 | बंगाल सीबीआई हिरासत मामला कोर्ट की शरण में 

सुको की चेतावनी- यदि सबूत नष्ट हुआ तो ऐसी कार्रवाई करेंगे की पछताएंगे राजीव, सीबीआई को निर्देश सबुत नष्ट करने का दें प्रमाण, कल की जाएगी सुनवाई


पश्चिम बंगाल के चिटफंड केस ने पूरे देश की सियासत को गरमा दिया है। कलकत्ता के पुलिस कमिश्नर आईपीएस राजीव कुमार से सीबीआई पूछताछ का मामला अब कोलकाता से निकलकर फिर सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है। जहां केस पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई के आरोपों पर साक्ष्य प्रस्तुत करने का आदेश दिया है। साथ ही कोर्ट ने तल्ख टिप्पणी करते हुए कहा है कि वह यह सोच भी नहीं सकते कि एक आईपीएस अफसर सबूत नष्ट कर सकता है। रविवार को बंगाल पुलिस ने कोलकाता में सीबीआई टीम को पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के घर रेड से रोकते हुए उन्हें ही हिरासत में ले लिया था। इसके बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी धरने पर बैठ गईं। ममता पुलिस के रवैये के खिलाफ आज सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। सीबीआई की तरफ से पेश सॉलिसिटर जनरल से कोर्ट ने कहा कि आप सबूत नष्ट होने के संबंध में कोई दस्तावेज लेकर नहीं आए हैं। आप सिर्फ इल्जाम लगा रहे हैं कि सबूत नष्ट किए जा रहे हैं और उनसे छेड़छाड़ की जा रही है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि जब आप सबूत लेकर आएंगे तो कल सुबह 10.30 बजे इस मसले पर सुनवाई की जाएगी। कोर्ट की इस टिप्पणी के बाद सॉलिसिटर जनरल ने अपनी दलील में यह बताने का प्रयास किया कि देर रात तक इस संबंध में अर्जी ड्राफ्ट तैयार किया गया है और सीबीआई के पास कई अहम चीजें हैं। लेकिन कोर्ट ने उनकी यह दलील नहीं मानी और साफ कहा कि आप सबूत नष्ट किए जाने वाले सबूत लेकर आएं, तब कल सुबह इस मसले पर सुनवाई की जाएगी।

एक आईपीएस से ऐसी उम्मीद नहीं :  कोर्ट ने एक तरफ जहां सीबीआई को झटका देते हुए उनसे सबूत नष्ट होने के सबूत मांगे है। वहीं, राजीव कुमार के संबंध में भी टिप्पणी की है। कोर्ट ने कहा, जहां तक आप यह कह रहे हैं कि आईपीएस अफसर सबूत नष्ट कर रहे हैं, तो हम ऐसा सोच भी नहीं सकते। लेकिन फिर भी जब आप ऐसा कह रहे हैं तो आप सबूतों के साथ आइए, हम कल सुबह 10.30 बजे आपको सुनेंगे। इसके साथ ही कोर्ट ने कहा कि अगर सबूत होंगे तो पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार पर कार्रवाई होगी और ऐसी कार्रवाई होगी कि वह पछताएंगे।


प्रोटेस्ट के बीच टला जापान के PM शिंजो आबे का भारत दौरा,

संसद में दुष्‍कर्म वाले बयान पर बवाल, राहुल गांधी बोले- मैं नहीं मागूंगा माफ


 VT PADTAL