VT Update
देश के हर घर को बिजली देने की कोशिश हो रही है: राष्ट्रपति कोविंद सरकार ने गरीबों के लिए बैंकिंग सुविधा को आसान किया: राष्ट्रपति कोविंद रामगढ़ उपचुनाव: कांग्रेस की साफिया खान जीतीं J-K:अनंतनाग में पुलिस स्टेशन पर ग्रेनेड से हमला, 3 नागरिक और 1 जवान घायल गोपाल भार्गव बने नेता मप्र.विधानसभा नेता प्रतिपक्ष
Monday 4th of February 2019 | बंगाल सीबीआई हिरासत मामला कोर्ट की शरण में 

सुको की चेतावनी- यदि सबूत नष्ट हुआ तो ऐसी कार्रवाई करेंगे की पछताएंगे राजीव, सीबीआई को निर्देश सबुत नष्ट करने का दें प्रमाण, कल की जाएगी सुनवाई


पश्चिम बंगाल के चिटफंड केस ने पूरे देश की सियासत को गरमा दिया है। कलकत्ता के पुलिस कमिश्नर आईपीएस राजीव कुमार से सीबीआई पूछताछ का मामला अब कोलकाता से निकलकर फिर सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है। जहां केस पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई के आरोपों पर साक्ष्य प्रस्तुत करने का आदेश दिया है। साथ ही कोर्ट ने तल्ख टिप्पणी करते हुए कहा है कि वह यह सोच भी नहीं सकते कि एक आईपीएस अफसर सबूत नष्ट कर सकता है। रविवार को बंगाल पुलिस ने कोलकाता में सीबीआई टीम को पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के घर रेड से रोकते हुए उन्हें ही हिरासत में ले लिया था। इसके बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी धरने पर बैठ गईं। ममता पुलिस के रवैये के खिलाफ आज सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। सीबीआई की तरफ से पेश सॉलिसिटर जनरल से कोर्ट ने कहा कि आप सबूत नष्ट होने के संबंध में कोई दस्तावेज लेकर नहीं आए हैं। आप सिर्फ इल्जाम लगा रहे हैं कि सबूत नष्ट किए जा रहे हैं और उनसे छेड़छाड़ की जा रही है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि जब आप सबूत लेकर आएंगे तो कल सुबह 10.30 बजे इस मसले पर सुनवाई की जाएगी। कोर्ट की इस टिप्पणी के बाद सॉलिसिटर जनरल ने अपनी दलील में यह बताने का प्रयास किया कि देर रात तक इस संबंध में अर्जी ड्राफ्ट तैयार किया गया है और सीबीआई के पास कई अहम चीजें हैं। लेकिन कोर्ट ने उनकी यह दलील नहीं मानी और साफ कहा कि आप सबूत नष्ट किए जाने वाले सबूत लेकर आएं, तब कल सुबह इस मसले पर सुनवाई की जाएगी।

एक आईपीएस से ऐसी उम्मीद नहीं :  कोर्ट ने एक तरफ जहां सीबीआई को झटका देते हुए उनसे सबूत नष्ट होने के सबूत मांगे है। वहीं, राजीव कुमार के संबंध में भी टिप्पणी की है। कोर्ट ने कहा, जहां तक आप यह कह रहे हैं कि आईपीएस अफसर सबूत नष्ट कर रहे हैं, तो हम ऐसा सोच भी नहीं सकते। लेकिन फिर भी जब आप ऐसा कह रहे हैं तो आप सबूतों के साथ आइए, हम कल सुबह 10.30 बजे आपको सुनेंगे। इसके साथ ही कोर्ट ने कहा कि अगर सबूत होंगे तो पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार पर कार्रवाई होगी और ऐसी कार्रवाई होगी कि वह पछताएंगे।


आजम खान ने प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति को ठहराया पुलवामा हमले का ज़िम्मेदार

आतंकी हमले के बाद प्रधानमंत्री मोदी का दो दिवसीय म.प्र. दौरा रद्द


 VT PADTAL