VT Update
देश के हर घर को बिजली देने की कोशिश हो रही है: राष्ट्रपति कोविंद सरकार ने गरीबों के लिए बैंकिंग सुविधा को आसान किया: राष्ट्रपति कोविंद रामगढ़ उपचुनाव: कांग्रेस की साफिया खान जीतीं J-K:अनंतनाग में पुलिस स्टेशन पर ग्रेनेड से हमला, 3 नागरिक और 1 जवान घायल गोपाल भार्गव बने नेता मप्र.विधानसभा नेता प्रतिपक्ष
Tuesday 5th of February 2019 | बंगाल की सियासत तेज हुई जुबानी जंग

टीएमसी और बीजेपी के बीच बढ़ा सियासी टकराव, दोनों दलों का एक दूसरे पर सियासी हमला जारी


पश्चिम बंगाल में बीजेपी और टीएमसी के बीच सियासी घमासान और तेज हो गया है। सीबीआई मामले को लेकर धरने पर बैठी मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह का नाम लिए बगैर बड़ा हमला बोला है। ममता ने कहा, स्वाइन फ्लू है इसके बावजूद हमने आपको पश्चिम बंगाल आने दिया। जबकि ये एक फैलने वाली बीमारी है। गौरतलब है कि पिछले दिनों बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह पश्चिम बंगाल के मालदा में रैली को संबोधित करने पहुंचे थे। इससे पहले शाह स्वाइन फ्लू के बीमारी से पीड़ित थे। जिसके उपचार के लिए वो दिल्ली के एम्स में भर्ती हुए थे। जहां उपचार होने के बाद शाह बंगाल में आयोजित रैलियों को संबोधित किया था। शाह के इस दौरे को लेकर टीएमसी और बीजेपी के बीच जुबानी जंग तेज हो गई थी। ममता सरकार ने अमित शाह के हेलीकाप्टर को उतरने की अनुमित नहीं दी थी। हालांकि बाद में चैतरफा आलोचनाओं के बाद ममता ने शाह के हैलीकाप्टर को उतरने की इजाजत दे दी थी। इसके बाद फिर ममता और भाजपा के बीच सियासी टकराव बढ़ गया। जिस पर नाराज ममता ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हेलीकाप्टर को भी राज्य में उतरने की अनुमित नहीं दी। सरकार के इस रवैये से नाराज सीएम योगी ने फोन से ही दो रैलियों को संबोधित करते हुए ममता सरकार पर सियासी हमला बोला था। इस कड़ी में योगी आज यानी मंगलवार को फिर राज्य के दौरे पर हैं। इस बार उन्होंने अपने हेलीकाप्टर को झारखंड में लैंडिंग करा कर कार के जरिए बंगाल में रैली को संबोधित करने की योजना बनाई है। हालांकि, ममता बनर्जी विपक्ष की ओर से पहली नेता नहीं हैं, जिन्होंने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह पर स्वाइन फ्लू को लेकर हमला किया हो। इससे पहले कांग्रेस के महासचिव और राज्यसभा सांसद बीके हरिप्रसाद ने विवादित बयान देते हुए कहा था कि कर्नाटक में हमारे विधायकों के वापस आने से अमित शाह डर गए और उनको बुखार हो गया है। कांग्रेस नेता के इस टिप्पणी पर बीजेपी ने भी पलटवार किया था। जिस पर केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने हरिप्रसाद पर हमला करते हुए कहा था कि जिस तरह का गंदा और बेहूदा बयान कांग्रेस के सांसद बीके हरिप्रसाद ने अमित शाह के स्वास्थ्य के लिए दिया है, यह कांग्रेस के स्तर को दर्शाता है। अमित शाह फ्लू का उपचार करा रहे हैं, लेकिन कांग्रेस के नेताओं की मानसिक बीमारी का उपचार मुश्किल है।


ममता ने खेला नया सियासी पैतरा, योगी के हैलिकाप्टर को उतरने की नहीं दी अनुमति

“माफ़ करो महराज” वाले जुमले पर गौर ने पार्टी को घेरा


 VT PADTAL