VT Update
ओंकारेश्वर बांध विस्थापितों को मिली सुप्रीम कोर्ट से राहत, कोर्ट ने सरकार को दिया आदेश विस्थापितों को उपलब्ध कराएं बेहतर भूमि। प्रदेश के भिंड में चार लोगों की हत्या करने वाले आरोपी को कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा। शहडोल उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी रही हिमाद्री सिंह ने आज कांग्रेस का हाथ छोड़ थामा भाजपा का दामन कमलनाथ सरकार को जबलपुर हाईकोर्ट से तगड़ा झटका, ओबीसी को 27 फीसदी आरक्षण देने पर लगाई रोक। टिकट को लेकर भाजपा में मचा घमासान, दावेदारों ने प्रदेश कार्यालय के सामने की नारेबाजी।
Saturday 9th of February 2019 | प्रदेश भर में खोले जायेंगे 183 ट्रेनिंग सेंटर !

युवाओं को रोजगार देने के लिए सरकार खोलेगी ट्रेनिंग सेंटर


 

चुनावी वचन पत्र पर अमल करते हुए प्रदेश की सरकार जनता एक लिए रोज नई-नई घोषणायें कर रही है, इसी के चलते कमलनाथ सरकार ने शहरी बेरोजगारों को ट्रेनिंग देने की लिए प्रदेश में 183 सेंटर खोलने का फैसला किया है।इसके माध्यम से प्रदेश की 264 नगर परिषद 98 नगर पालिका और 16 निगम में शहरी युवाओं को 100 दिन का रोज़गार दिया जाएगा। बेरोज़गार युवा सबसे नज़दीकी प्रशिक्षण केंद्र ऑनलाइन भी देख सकेंगे ।इसके लिए नगरीय प्रशासन विभाग मैप आईटी से सॉफ्टवयर तैयार भी करवा रहा है। यह बात आज मीडिया से चर्चा के दौरान नगरीय विकास मंत्री जयवर्धन सिंह ने कही।

सिंह ने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि बीते 15 सालों में भाजपा ने सत्ता में रहते हुए युवाओं के बारे में कभी नही सोचा,उद्योग स्थापित नही किए, लेकिन प्रदेश की कमलनाथ सरकार युवाओं को रोजगार दिलाने के प्रयास कर रही है। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सांसद रहते हुए छिंदवाड़ा में उद्योग स्थापित किए , लाखों युवाओं को रोजगार दिया।वही छिंदवाड़ा मॉडल हम प्रदेश में लागू करने जा रहे है।जिसमें प्रदेश के युवाओं को रोजगार दिया जाएगा। इसके लिए 183 सेंटर खोले जाएंगे। इस प्रक्रिया को ऑनलाइन किया जाएगा, ताकी युवा मोबाईल पर सर्च कर सके कि पास का प्रशिक्षण केन्द्र कहां है।

मंत्री जयवर्धन सिंह ने यह भी बताया कि 21 से 30 साल की उम्र के युवा जितने भी साल इस योजना का लाभ लेना चाहेंगे, दिया जाएगा। सरकार का दावा है कि इस योजना से लगभग साढ़े छह लाख युवा लाभान्वित होंगे और सरकार पर लगभग 800 करोड़ का भार आएगा। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने गणतंत्र दिवस के मौके पर इस योजना का ऐलान किया था। इस मौके पर कमलनाथ ने कहा था कि शहरी क्षेत्र के गरीब युवाओं को अस्थायी रोजगार देने के लिए युवा स्वाभिमान योजना लागू की जाएगी, जिसमें शहरी क्षेत्र के गरीब युवाओं को एक साल में 100 दिन का रोजगार उपलब्ध कराया जाएगा। इसके एवज में 4000 रुपये प्रतिमाह के मान से मानदेय दिया जाएगा। कुल मिलाकर 13 हजार रुपये 100 दिन की अवधि में मिलेंगे।
 


इनकम टैक्स की बड़ी छापेमारी,सीएम के OSD के यहाँ पड़ा छापा

स्कूली शिक्षा विभाग हुआ सख्त, कुल 35 शिक्षको पर की गई कार्यवाही


 VT PADTAL