VT Update
विंध्य के सबसे बड़े अस्पताल संजय गांधी की सुरक्षा व्यवस्था पर उठे सवाल, अस्पताल के पार्किंग से चोरी हुई बोलेरो वाहन रीवा मेडिकल कॉलेज में लगेगा रूफटाफ का प्रदेश का सबसे बड़ा सोलर प्रोजेक्ट मतदाता जागरूकता के लिए रवाना हुई बुलेट रैली, कलेक्टर प्रीति मैथिल ने दिखाई हरी झंडी मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले में घटिया पुल निर्माण पर गिरी गाज, पीडब्लयूडी के चार अफसर सस्पेंड रीवा सहित प्रदेश भर में हर्षोल्लास के साथ मनायी गई कृष्ण जन्माष्टमी, शिल्पी प्लाजा में हुआ मटकी फोड़ने का भव्य आयोजन
Monday 16th of October 2017 | ऐसे मनाए अपनी धनतेरस

इस बार धनतेरस की ऐसे करें तैयारियां, जीवन भर धन की कमी से नहीं रहेंगे परेशान


दिपावली से पहले हर बार मनाए जाने वाला धनतेरस का त्योहार इस बार 17 अक्टूबर को मनाया जाएगा। त्रयोदशी तिथि 16 अक्टूबर रात साढ़े 12 बजे आरंभ होगी जबकि 17 अक्टूबर को रात 12 बजकर नौ मिनट तक रहेगी। इस वर्ष त्रयोदशी तिथि भद्रा मुक्त होगी। इस कारण पूरा दिन खरीदारी के लिए शुभ है, लेकिन 17 अक्टूबर को 11 बजकर 35 मिनट से साढ़े 12 बजे तक अभिजित मुहूर्त  विशेष है। इस समय में खरीदारी करना अति शुभ रहेगा। यह पर्व कार्तिक मास की कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी धन त्रयोदशी के रूप मे मनाया जाता है तथा दिवाली के आने की शुभ सूचना है।

धनतेरस के दिन वैद्य धनवंतरी के पूजन का विधान शास्त्रों में बताया गया है। कहते हैं कि इस दिन धनवंतरी वैद्य समुद्र से अमृत लेकर आए थे इसलिए धनतेरस को धनवंतरी जयंती भी कहते है। धनवंतरी को चिकित्सकों का देवता भी कहा जाता है इसीलिए धनतेरस का दिन चिकित्सकों के लिए विशेष महत्व रखता है। धनतेरस पर्व इस साल मंगलवार को आ रहा है। मंगल को भूमि का स्वामी माना गया है जिस कारण भूमि खरीदने के लिए इस वर्ष अति शुभ धनतेरस को माना जा रहा है। इसके अलावा धनतेरस के दिन कार्तिक संक्रांति भी है और सूर्य तुला राशि में प्रवेश करेगा इसी कारण वाहन, जमीन के लिए यह शुभ है।


धनतेरस के दिन चांदी खरीदने का विशेष महत्व है। इसके पीछे यह कारण माना जाता है कि यह चंद्रमा का प्रतीक है जो शीतलता प्रदान करता है और मन में संतोष रूपी धन का वास होता है। संतोष को सबसे बड़ा धन कहा गया है। माना जाता है कि जिसके पास संतोष है वह स्वस्थ व सुखी है, और वही सबसे बड़ा धनवान है। इस दिन घर में बर्तन खरीदे जाते हैं। वहीं चांदी के बर्तन खरीदना अत्याधिक शुभ माना जाता है। और तो और इस दिन वैदिक देवता यमराज का भी पूजन किया जाता है। यम के लिए आटे का दीपक बनाकर घर में देवता के द्वार पर रखा जाता है।
 


कांग्रेस की कार्य समिति गठित, इस बार दिग्विजय को नही मिली जगह

 पीएम मोदी दो दिवसीय पूर्वांचल दौरे पर, करोड़ों की योजनाओं का करेंगे शिलान्‍


 VT PADTAL