VT Update
16 नवम्बर को शहडोल में होंगे नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी कांग्रेस विधायक सुन्दरलाल तिवारी ने आरएसएस को कहा आतंकी संगठन,कांग्रेस का बयान से किनारा रीवा में भाजपा प्रत्याशी राजेंद्र शुक्ल ने कांग्रेस प्रत्याशी अभय मिश्र को दिया कानूनी नोटिस। 50 करोड़ का कर सकते हैं दावा। आबकारी उड़नदस्ता टीम ने की बड़ी कार्यवाही, नईगढ़ी व पहाड़ी गाँव में कच्ची शराब भट्टी में मारी रेड, 200 लीटर कच्ची शराब के साथ पांच आरोपी गिरफ्तार विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र एस एस टी टीम की कार्यवाही जारी, चेकिंग के दौरान चार पहिया सवार के कब्जे से बरामद हुए 2लाख 19 हज़ार रुपये, निर्वाचन कार्यालय भेजा गया मामला
Monday 16th of October 2017 | थोक महंगाई दर पर दिखी गिरावट

आर्थिक मोर्चे पर केंद्र सरकार की ओर से राहत, थोक महंगाई दरों पर दिखी गिरावट 


थोक महंगाई में लगातार दो महीने से चल रही तेजी के बाद पहली बार हुई गिरावट दर्ज की गयी है। अगस्त में यह चार महीने के उच्चतम स्तर 3.24 प्रतिशत पर रही थी। इससे पहले जुलाई में यह 1.88 प्रतिशत रही थी। पिछले साल सितंबर में थोक महंगाई दर 1.36 प्रतिशत दर्ज की गयी थी। सरकार द्वारा आज यहां जारी आंकड़ों के अनुसार, पिछले साल सितंबर की तुलना में इस साल सितंबर में खाद्य पदार्थो के दाम 2.04 प्रतिशत की मामूली दर से बढ़े हैं।

इस श्रेणी में महंगाई दर कम रहने का मुख्य कारण दालों के दाम एक साल पहले की तुलना में 24.26 प्रतिशत और आलू के 46.52 प्रतिशत घटना रहा है। गेहूँ की कीमतों में 1.71 प्रतिशत और मोटे अनाजों में 0.07 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गयी है। दिवाली से पहले आर्थिक मोर्चे पर केंद्र सरकार की ओर से राहत की खबर आई है सितंबर 2017 में थोक महंगाई दर घटकर 2.60 फीसदी पर आ गई है।अगस्‍त में यह 3.24 फीसदी पर थी, जो कि चार माह के सबसे ऊंचे स्तर पर था। सितंबर महीने में सब्‍जियों के दाम 15.48 पर पहुंच गए हैं। अगस्‍त में ये 44.91 के स्‍तर पर था।
सितंबर 2017 में फूड आर्टि‍ल्‍स की थोक महंगाई दर गिरकर 2.04 फीसदी रह गई, जो अगस्‍त में 5.75 फीसदी थी। थोक महंगाई दर में फूड इन्‍फ्लेशन की हिस्‍सेदारी 15.26 फीसदी है। सितंबर में सब्जियों के दाम गिरे हैं। सब्जियों की थोक महंगाई गिरकर 15.48 फीसदी रह गई, जो अगस्‍त में 44.91 फीसदी पर थी। फलों की थोक महंगाई भी पिछले महीने गिरकर 2.93 फीसदी पर आ गई जो अगस्‍त में 7.35 फीसदी थी।
हालांकि प्‍याज के दामों में सितंबर में राहत नहीं दिखी। सितंबर महीने में प्‍याज के दाम 79.78 फीसदी के स्‍तर पर पहुंच गए।  वहीं, अंडे, मीट और मछलियों के दाम 5.47 फीसदी के स्‍तर पर रहे। अंडा,मीट,मछली के दाम बढ़े सितंबर में प्रोटीन प्रोडक्‍ट्स अंडा, मीट और मछली की थोक महंगाई बढ़ी है। सितंबर में इसकी महंगाई दर 5.47 फीसदी रही, जो अगस्‍त में 3.93 फीसदी थी। मिनरल्‍स की महंगाई में गि‍रावट दर्ज की गई है। पिछले महीने मिनरल्‍स की थोक महंगाई दर -7.73 फीसदी दर्ज की गई, जून में यह आंकड़ा 24.84 फीसदी पर था। आलू, दाल और गेहूं की थोक महंगाई सितंबर में भी शून्‍य से नीचे बनी रही। यह क्रमश: -46.52 फीसदी, -24.26 और -1.71 फीसदी दर्ज की गई।
ईंधन और पावर सेक्‍टर की बात करें, तो यहां भी महंगाई से राहत मिली है। सितंबर महीने में इस सेक्‍टर के लिए महंगाई 9.01 फीसदी पर रही।  अगस्‍त में यह 9.99 फीसदी थी। पेट्रोल के थोक दाम गिरे लेकिन एलपीजी के बढ़ें हैं। पेट्रोल की महंगाई अगस्‍त के 24.55 फीसदी के मुकाबले सितंबर में 15.79 फीसदी रही। वहीं, एलपीजी की महंगाई अगस्‍त के 5.33 फीसदी की तुलना में सितंबर में बढ़कर 20.75 फीसदी हो गई है। 


 


जिस पत्रकारिता का कभी स्वर्णिम युग ना था , उसमे स्वर्णिम व्यक्तित्व की तरह उ

अटल जी के निधन से आहत हुआ देश !


 VT PADTAL